न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

राफेल डील : शाह का राहुल पर हमला, बोले थरूर, राहुल गांधी क्यों मांगें माफी  

अमित शाह ने कहा कि राहुल गांधी देश की जनता को बतायें कि वे किस आधार पर देश की जनता को गुमराह कर रहें थे?

32

 NewDelhi : राफेल डील पर SC की क़्लीन चिट से गदगद भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने राहुल गांधी पर हमलावर होते हुए कहा कि वे देश को बतायें कि राफेल पर उन्होंने जो आरोप लगाये हैं उनका सोर्स आफ इंफार्मेशन क्या है. अमित शाह ने प्रेस कांफ्रेंस कर राहुल गांधी पर निशाना साधा. प्रेस कांफ्रेंस में अमित शाह ने कहा कि राहुल गांधी देश की जनता को बतायें कि वे किस आधार पर देश की जनता को गुमराह कर रहें थे? कहा कि सूरज पर कीचड़ उछालने से मिट्टी और कीचड़ खुद पर ही पड़ते है.  जेपीसी के सवाल पर शाह ने कहा कि जब कांग्रेस संसद में इस मसले पर चर्चा में हिस्सा ही नहीं लेना चाहती तो जेपीसी की जांच के के क्या मायने हैं. संसद में चर्चा ही नहीं होगी तो जेपीसी कैसे बनेगी. अमित शाह ने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष ने अपने और अपनी पार्टी के तत्काल फायदे के लिए झूठ का सहारा लेकर चलने की एक नयी राजनीति की शुरुआत की थी.

झूठ के पैर नहीं होते, अंत में जीत सत्य की ही होती है

शाह ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट के फैसले ने आज सिद्ध कर दिया है कि झूठ के पैर नहीं होते और अंत में जीत सत्य की ही होती है. भाजपा अध्यक्ष के अनुसार देश की आज़ादी के बाद से एक कोरे झूठ के आधार पर देश की जनता को गुमराह करने का इससे बड़ा प्रयास कभी नहीं हुआ.  यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि यह प्रयास देश की सबसे पुरानी पार्टी कांग्रेस के अध्यक्ष ने किया. राहुल गांधी इसके लिए माफी मांगें. अमित शाह ने कहा, मैं सुप्रीम कोर्ट के फैसले का स्वागत करता हूं.  सत्य की जीत हुई है. इस बीच बसपा अध्यक्ष मायावती ने राफेल सौदे पर शुक्रवार को आये सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद कहा कि केन्द्र सरकार इससे भले कुछ राहत महसूस करे लेकिन देश में हुई सभी रक्षा खरीद के संबंध में जनता की आशंकाओं का उचित समाधान निकालना जरूरी है.

SMILE

राहुल गांधी के माफी मांगने का कोई प्रश्न ही नहीं  : वरिष्ठ कांग्रेस नेता शशि थरूर ने कहा है कि राहुल गांधी के माफी मांगने का कोई प्रश्न ही नहीं है. कहा कि जनता के पैसे की संरक्षक संसद है और राफेल घोटाले पर जेपीसी में चर्चा होनी चाहिए. थरूर ने कहा कि कांग्रेस ने विमान की कीमत को लेकर सवाल उठाये हैं जिनकी जांच जीपीसी से होनी चाहिए.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
%d bloggers like this: