न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

#Jamshedpur की 86 बस्तियों के मालिकाना हक व बंद होती टाटा कंपनियों पर रघुवर से मांगेंगे जवाब : अभय सिंह

661

Jamshedpur: नॉमिनेशन के बाद पूर्वी जमशेदपुर से जेवीएम प्रत्याशी अभय सिंह जनता के बीच रघुवर सरकार की खामियों के लेकर जायेंगे.

सिंह ने प्रेस से बातचीत में रघुवर सरकार पर भ्रष्टाचार का आरोप लगाते हुए कहा- बतौर सीएम उनके पास गिनाने के लिए कुछ नहीं है. 86 बस्ती के मालिकाना हक से लेकर बंद होती और पलायन करती टाटा की कंपनिया आज क्षेत्र में सबसे बड़ा मुद्दा हैं जिसपर सरकार ने कोई स्टैंड नहीं लिया है.

उन्होंने कहा कि बीते 15 सालों से वे रघुवर के खिलाफ संघर्ष कर रहे हैं और उनका ये संघर्ष आगे भी जारी रहेगा. क्षेत्र की जनता में रघुवर दास के खिलाफ जबरदस्त आक्रोष है जिसका परिणाम चुनाव के बाद सबके सामने आ जायेगा.

इसे भी पढ़ें : हद है! ये एक इंस्पेक्टर व चार दारोगा रहेंगे तभी लातेहार पुलिस करा पायेगी शांतिपूर्ण व निष्पक्ष चुनाव

86 बस्ती को मालिकाना हक का वादा

अभय सिंह का कहना है कि अगर जनता उनको चुनती है तो वो 86 बस्ती को मालिकान हक दिला कर ही दम लेंगे. सीएम की 86 बस्ती के मालिकान हक में सीएनटी एक्ट को अड़चन बताने का जवाब देते हुए कहा कि क्यों रघुवर दास बीते पंद्रह साल से 86 बस्ती को मालिकाना हक दिलाने की बात कह रहे थे.

Mayfair 2-1-2020

उनके चुनावी प्रचारों में 86 बस्ती फिर क्यों मेन एंजेंडा रहता था. इसका मतलब साफ है कि मुख्यमंत्री बनते ही उनकी प्रथमिकताएं बदल चुकी हैं. उनके लिए 86 बस्ती पहले राजनीति और अब सिर्फ टालमटोल का विषय भर रह गया है.

इसे भी पढ़ें : यूं ही रघुवर और सरयू की दूरियां नहीं बढ़ी, जनिये मंत्री रहते सरकार पर कब कैसे किया वार, पढ़ें पांच साल के ट्विट्स

Sport House

क्यों बंद हो रहे टाटा के उद्योग

रोजगार देने की बात करने वाली रघुवर सरकार के सामने टाटा टायो बंद हो गयी, टाटा हिताची पलायन कर गयी, नैटस्टील बिक गयी. इससे पैदा हुई बेरोजगारी रघुवर सरकार के सामने है लेकिन फिर वो किस लिहाज से रोजगार की बात करते है.

मुख्यमंत्री होने के बावजूद टाटा प्रबंधन से एक सवाल तक नहीं पूछ सके. इन मुद्दों को उठाते हुए अभय सिंह ने कहा कि जनता उनको प्रतिनिधि चुनती है तो इसका समाधान निकलाना उनकी सबसे बड़ी प्राथमिकता रहेगी.

गौरव वल्लभ पर भी बरसे अभय

विपक्ष पर स्वार्थ की राजनीति करने का आरोप लगाते हुए कहा कि कांग्रेस प्रत्याशी इस क्षेत्र के बारे में क्या जानते हैं. चुनाव लड़ने के लिए हर कोई स्वतंत्र है. असल विपक्ष तो वो खुद है जो बीते 15 वर्ष से जनता के साथ खड़ा है और हर धूप-छांव को देखा है.

इसे भी पढ़ें : झारखंड में “अभूतपूर्व” जीत की तरफ तो नहीं बढ़ रही #BJP!

SP Jamshedpur 24/01/2020-30/01/2020

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like