JharkhandRanchi

बच्चों को डॉक्टर व इंजीनियर बनाने के लिए जरूरी है गुणवत्तापूर्ण शिक्षा: मुख्यमंत्री

Barhait/Ranchi : अपने विधानसभा क्षेत्र बरहेट पहुंचे मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने झारखंड के बच्चों को गुणवत्ता शिक्षा देने की जोरदार वकालत की है. उन्होंने कहा है कि गुणवत्तापूर्ण शिक्षा को बढ़ावा देने के उद्देश्य से राज्य के हर ज़िले में मॉडल विद्यालय शुरू करने के साथ-साथ पहली से 12वीं कक्षा तक सीबीएसई की पढ़ाई शुरू करने की योजना बनाई गई है.

ऐसा इसलिये क्योंकि अगर राज्य के बच्चों को डॉक्टर-इंजीनियर बनाना है तो उन्हें गुणवत्तापूर्ण शिक्षा देनी होगी. मुख्यमंत्री ने यह बातें 70 करोड़ की लागत से बनने वाले 132/33 केवी ग्रिड सब स्टेशन बरहेट-किताजोर (साहिबगंज) तथा 132 केवी पाकुड़-राजमहल (लिलो) संचरण लाइन सहित कई योजनाओं के शिलान्यास कार्यक्रम वे परिसंपत्तियों के वितरण के दौरान बरहेट में दी.

वंचितों को सरकार दे रही है हरा राशन कार्ड

कार्यक्रम के दौरान हेमंत ने एक बार फिर दोहराया है कि उनकी सरकार राशन कार्ड से वंचित लोगों को हरा राशन कार्ड प्रदान करने का कार्य कर रही है. करीब 15 लाख लोगों को राशन कार्ड से आच्छादित करने की योजना हैं.

वहीं पेंशन योजना का लाभ करीब छः लाख जरूरतमंदों को देने के साथ धोती-साड़ी योजना का लाभ भी जल्द राज्यवासियों को देने की तैयारी में सरकार है.

इस अवसर पर ग्रामीण विकास मंत्री आलमगीर आलम, राजमहल सांसद विजय हांसदा, ऊर्जा विभाग के प्रधान सचिव अविनाश कुमार, साहिबगंज डीसी राम निवास यादव, मुख्यमंत्री के प्रेस सलाहकार अभिषेक प्रसाद व अन्य उपस्थित थे.

इसे भी पढ़ें : गणतंत्र दिवस पर झारखंड पुलिस के 38 अफसरों-जवानों को मिलेगा पदक, देखिए पूरी लिस्ट

इनका योजनाओं का हुआ शिलान्यास एवं उद्घाटन

  • पतना हिरणपुर के छह किलोमीटर में गुमानी नदी पर उच्चस्तरीय पुल निर्माण का शिलान्यास.
  • तकनीकी सुविधाओं से लैस मॉडल स्कूल बरहेट साहिबगंज का ऑनलाइन उद्घाटन एवं कस्तूरबा गांधी बालिका उच्च विद्यालय भवन बरहेट का उद्घाटन.
  • साहिबगंज तथा गोड्डा अंतर्गत विभिन्न विकास योजना का भी मुख्यमंत्री ने उद्घाटन तथा शिलान्यास किया.

इन योजनाओं से जुड़े परिसंपत्तियों का भी हुआ वितरण

कार्यक्रम के दौरान ही सीएम द्वारा प्रधानमंत्री आवास योजना, वन पट्टा, कृषि ऋण, कन्यादान योजना, प्रधानी पट्टा, वृद्धा पेंशन योजना, ग्रीन राशन कार्ड योजना, जेएसएलपीएस अन्तर्गत कैश लोन लिंकेज, सामुदायिक वन अधिकार पट्टा एवं फूलो-झानो योजना के तहत लाभुकों के बीच परिसंपत्तियों का वितरण किया गया.

इसे भी पढ़ें : मधेया पंचायत की अब बुझेगी प्यास, मंत्री मिथिलेश ठाकुर ने दी ग्रामीण जलापूर्ति योजना की सौगात

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: