West Bengal

पुरुलिया  :  #CRPF के सर्च अभियान में  ममता बनर्जी सरकार हटाने संबंधी पोस्टर, राशि वसूली संबंधी परचे बरामद 

Jharkhand Rai

Purulia :: माओवादियों द्वारा इस्तेमाल किये जाने वाले सामान तथा पोस्टर पाये जाने से पुरुलिया जिले में सनसनी फैल गयी है. जानकारी के अनुसार सुरक्षा बलों ने गुप्त सूचना के आधार पर मंगलवार को पुरुलिया जिले के झारखंड राज्य के सीमावर्ती क्षेत्र द्वारसीनी इलाके से माओवादियों के सामान बरामद किये हैं.

सीआरपीएफ के जवानों एवं अधिकारियों द्वारा माओवादियों की उपस्थिति की खबर पर सीनी के जंगलों में छानबीन आरंभ कर दी. जहां उन्हें सफलता हाथ लगी. सीआरपीएफ ने दावा किया है तलाशी के दौरान उन्हें 4 चाकू, दो स्टील के कंटेनर, 15 सितंबर का प्रभात खबर, दो मार्कर पेन, लाल इंक की बोतल, 5 मीटर बिजली के तार, 115 पीस A4 साइज के कागज पर लिखे हुए पोस्टर, 35 लिफाफे, एक बीएसएनएल का सिम कार्ड बरामद हुए हैं.

इसे भी पढ़ें : सुनिये सरकार, लाठी चार्ज पर क्या कह रहे हैं लोग, कैसे कोस रहे हैं, पुलिस वाले भी उठा रहे हैं सवाल

Samford

सीआरपीएफ के पुरुलिया, बांकुरा, पश्चिम मिदनापुर कैंपों को हटाना होगा

जान लें कि एक समय माओवादियों का गढ़ माने जाने वाले बान्दुआन थाना क्षेत्र के इन इलाकों में आये दिन माओवादी वारदातें हुआ करती थी. इस कारण माओवादियों पर अंकुश लगाने के लिए राज्य सरकार द्वारा कुचिया गांव के समक्ष एक सीआरपीएफ का कैंप बनाया गया है. 169 बटालियन के सीआरपीएफ जवान इस कैंप में रहा करते हैं. सीआरपीएफ सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार मंगलवार उन्हें गुप्त सूचना मिली थी कि द्वारसीनी इलाके में माओवादी अपनी गतिविधि बढ़ा रहे हैं.

सीआरपीएफ सूत्रों के अनुसार बरामद पोस्टरों पर लिखा हुआ है कि सीआरपीएफ के पुरुलिया, बांकुरा, पश्चिम मिदनापुर कैंपों को हटाना होगा. ममता बनर्जी की सरकार हटानी होगी. ममता बनर्जी के राज में पुलिस को दलाली बंद करनी होगी. भाजपा सरकार को भी हटाना होगा. इसके अलावा कई माओवादी नेताओं के नाम भी इन पोस्टरों में लिखे हुए हैं.

साथ ही कुछ लोगों से बड़ी राशि मांगे जाने के लिफाफे भी बरामद हुए है. इस घटना के बाद सीआरपीएफ के जवानों ने अपनी गश्त पूरे इलाके में तेज कर दी है. जिला पुलिस अधीक्षक आकाश मेंघारिया ने कहा कि पूरे मामले पर पुलिस नजर बनाये हुए है. झारखंड के सीमावर्ती इलाकों में नाकाबंदी चल रही है. पाये गये सामानों की गहनता पूर्वक जांच की जा रही है

इसे भी पढ़ें : शहीद सप्ताह से पहले गिरिडीह पुलिस की कार्रवाई, हार्डकोर नक्सली गिरफ्तार

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: