West Bengal

पुरुलिया : अनाड़ा में बच्चा चोर की अफवाह में #Police पर #attack और लूटपाट मामले में 22 #arrest

Purulia : बीते शुक्रवार को पुरुलिया जिले के पारा थाना अंतर्गत अनाड़ा रेल शहर में बच्चा चोर पकड़ने के आरोप में स्थानीय लोगों ने दो व्यक्ति को जमकर मारपीट किया एवं उसके वाहन को आग लगा दी थी.

परिस्थिति नियंत्रण करने पहुंची पुलिस पर भी लोगों ने जमकर पथराव किया एवं अनाड़ा फांड़ी में भी जमकर तोड़फोड़ एवं लूट मचायी थी.

इस घटना के बाद बड़ी संख्या में पुलिस बल मौके पर पहुंचकर आंसू गैस के गोले छोड़े एवं लाठीचार्ज कर अपनी स्थिति नियंत्रण में किया.

इसे भी पढ़ें : जमशेदपुर : ढाई साल से सड़ रही थी #CM_Canteen योजना की 8 गाड़ियां, #Election आया तो दिया सर्विसिंग का #order

विवाहिता को जबरन गाड़ी में बिठाने का आरोप

स्थानीय लोगों ने बताया मैयना माझी अपनी बेटी के साथ बाजार जा रही थी उसी समय रेल शहर अनाड़ा के पानी टंकी मोड़ के समक्ष एक चार पहिया वाहन से दो लोग आकर उसके विवाहित बेटी को अपने साथ वाहन में जबरन बैठाना चाह रहे थे.

बेटी को बचाने के लिए मां चिल्लाने लगी इसी बीच लोगों ने उस वाहन को किसी तरह रोका और उसमें बैठे मोहम्मद निजाम तथा वाहन के चालक को जमकर मारपीट करने लगे एवं वाहन को आग लगा दिया.

पुलिस मौके पर पहुंचने पर पुलिस पर भी पथराव किया गया एवं गाड़ी को भी तोड़ डाला गया. इस घटना में कई पुलिस के जवान भी घायल हुए.

इसे भी पढ़ें : #ODF Gumla का सच : इंजीनियर के फर्जी हस्ताक्षर से निकले 1.16 करोड़, इससे बनने थे 928 शौचालय

गिरफ्तार लोगों में नाबालिग भी

घटना के बाद पुलिस ने हमलावरों को ढूंढने का कार्य आरंभ किया. इस घटना के तहत पुलिस ने अब तक 22 लोगों को गिरफ्तार कर चुकी है.

जिसमें से 18 वर्ष से कम उम्र के तीन नाबालिग भी शामिल हैं. घटना के तहत पुलिस ने मैयना माझी को भी गिरफ्तार किया है एवं उसके दामाद को भी गिरफ्तार कर लिया है.

जिला पुलिस अधीक्षक आकाश मेघारिया ने बताया, मैयना माझी की विवाहित बेटी का एक व्यक्ति से वाद-विवाद हो रहा था. इन लोगों ने बच्चा पकड़ने की अफवाह फैला दी.

बिना सोचे-समझे कर दी थी पिटाई

जिससे लोग बिना कुछ सोचे-समझे ही 2 लोगों को बुरी तरह से मारा-पीटा एवं उनके वाहन को जला दिया. मौके पर पहुंची पुलिस पर भी पथराव किया गया. पाड़ा थाना के प्रभारी तथा अन्य पुलिसकर्मी भी घायल हुए.

घटना में अनाड़ा फाड़ी में भी तोड़फोड़ के साथ लूटपाट किया गया. इस अपराध में अभी तक 24 लोगों को गिरफ्तार किया गया है, तथा अन्य लोगों की तलाशी चल रही है.

इन चौबीसों को रघुनाथपुर अदालत में पेश किया गया जहां इनकी जमानत नामंजूर कर इन्हें जेल भेज दिया गया है.

घायल निजाम झारखंड का रहनेवाला

इस घटना में बुरी तरह से घायल झारखंड राज्य के रहने वाले मोहम्मद निजाम ने बताया कि वह लोग मैयना माझी के कहने अनुसार उनके कुछ रुपए बाकी रह गए थे और शुक्रवार उन लोगों ने रुपया देने को बुलाया था.

हम लोग जब रुपया लेने पहुंचे तो अचानक हम लोगों को मारने लगे. हमलोग अपने गाड़ी में जब जा रहे थे तो उसकी बेटी गाड़ी में झूल गयी और बचाओ-बचाओ चिल्लाने लगी.

इसके बाद लोग वहां इकट्ठा हो गये और हम लोगों को मारने लगे. हम लोगों को बुरी तरह से मारा. हमें पुलिस बचाने पहुंची तो पुलिस पर भी हमला कर दिया.

पुलिस ने बचाया था

पुलिस किसी तरह से हम लोगों को थाने ले आयी तो लोगों ने थाने पर भी जमकर तोड़फोड़ की और हमें बाहर ले जाने की कोशिश कर रहा था पर बड़ी संख्या में पुलिस आकर हमें बचा लिया.

घटना के बाद से रेल शहर अनाड़ा के लोग पुलिस के आतंक से अब घर छोड़कर फरार है. हालांकि रामपुर गांव के कुछ लोगों ने बताया कि यह व्यक्ति हमेशा ही इस गांव में झाड़-फूंक करने आया करता था.

मैयना माझी तथा उसकी बेटी के बहकावे पर लोगों ने उस पर झूठा हमला कर दिया है. इस घटना के साथ बच्चा चोर का कोई संबंध नहीं है.

इसे भी पढ़ें : #JAP: जैप वन, जहां नवरात्रि में पंडाल तो बनता है लेकिन प्रतिमा नहीं बैठाई जाती, जानें क्‍या है मान्‍यता

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: