Crime NewsGiridihJharkhand

पुरानी हवेली मर्डर केस: वे तीन लोग कौन थे जो बाइक से ले गये थे रंजीत को, जांच करेगी एसआइटी

Giridih: गुजियाडीह के सालों पुराने खंडहरनुमा हवेली में 25 वर्षीय युवक रंजीत साव का शव मिलने के बाद महेशलुंडी गांव में लोगों के बीच काफी गुस्सा है. उसके पिता उत्तीम साव ने पुलिस को दिये आवेदन में गुरुवार की सुबह से ही उनका बेटा हर रोज की तरह शहर के एक साइबर कैफे में ड्यूटी के लिए चला गया था, जबकि युवक ठेकेदारों के ऑनलाइन टेंडर को भी विभागों में भरता था.

ड्यूटी पर जाने के बाद से उनके बेटे का कोई पता नहीं चला. मृतक के परिजनों को जावेद नामक युवक से जानकारी लेने पर पता चला कि उनका बेटा इलाके के धोबीडीह गांव निवासी मो जावेद के साथ थाना से कुछ दूर टोल प्लाजा के समीप शाम छह बजे चिकेन खा रहा था.

इसी दौरान एक यमाहा बाईक में तीन अज्ञात युवक वहां पहुंचे और रंजीत को साथ चलने को कहा. उन तीनों युवकों के कहने पर रंजीत जहां तीनों युवकों के साथ चला गया वहीं जावेद को अपने घर जाने को कहा. दूसरे दिन शुक्रवार को मृतक का शव मिला.

Sanjeevani

इलाके में गुस्सा, एसआइटी का गठन

मृत युवक के भाजपा के सक्रिय कार्यकर्ता होने की बात कही जा रहा है. इससे भाजपा नेता देवराज और जिप उपाध्यक्ष सह भाजपा नेता कामेश्वर पासवान ने मुफ्फसिल थाना पुलिस से पूरे मामले की जांच कर दोषियों को गिरफ्तार करने की मांग की है.

भाजपा नेता देवराज ने कहा कि अगर दोषियों को पुलिस जल्द गिरफ्तार नहीं करती है तो आंदोलन किया जायेगा. पुलिस मान रही है कि सिर पर वार करने से पहले रंजीत की पिटाई की गयी. उसके बाद उसे दर्दनाक तरीके से मारा गया क्योंकि शव के समीप खून के छींटे मिले हैं और सिर की हड्डी के टुकड़े भी बरामद किये गये हैं. वहीं कुछ दूरी पर पुलिस ने ब्लूटूथ डिवाइस बरामद किया. देर शाम पुलिस ने मृतक के बाइक को भी बरामद किया. मृतक का मोबाइल अब भी गायब है.

इधर हत्या की घटना के बाद मामले की जांच को लेकर एसआइटी का गठन भी किया गया है. शव मिलने के चंद घंटों बाद वरीय अधिकारियों के निर्देश पर घटनास्थल में टेक्नीकल टीम ने भी जांच की थी.

जानकारी के अनुसार युवक रंजीत साव गिरिडीह सदर प्रखंड के महेशलुंडी गांव निवासी उत्तीम साव का इकलौता बेटा था. शव शुक्रवार दोपहर बेहद दर्दनाक हालात में मिला. गिरिडीह-डुमरी रोड के बदडीहा गांव के समीप गुजियाडीह मोड़ में खंडहरनुमा हवेली में शव मिलने की जानकारी पुलिस को स्थानीय ग्रामीणों द्वारा मिली.

जब खंडहर के आसपास अवारा कुत्ते भटकते नजर आये तो ग्रामीणों को संदेह हुआ. वे ग्रामीण हवेली के भीतर पहुंचे, जहां हवेली के उपरी टीला में खून के छींटे थे. टीले के नीचे झाड़ियों में शव पड़ा हुआ था.

इसके बाद घटना की जानकारी मुफ्फसिल थाना पुलिस को दी गयी. थाना प्रभारी रत्नेश ठाकुर के साथ पुलिस जवान घटनास्थल पहुंचे. पुलिस ने घटनास्थल से बीयर की केन बोतल बरामद की है. बीयर की केन मिलने को लेकर पुलिस भी यही मानकर चल रही है कि हत्या के मामले से ध्यान भटकाने के लिए ऐसा किया जा रहा है.

इधर शव मिलने से चंद घंटे पहले ही परिजनों ने थाना में रंजीत साव के गायब होने का लिखित आवेदन दिया था. वहीं शव मिलने के बाद मृतक के पिता उत्तीम साव ने अज्ञात लोगों पर बेटे की हत्या का आरोप लगाकर आवेदन दिया है.

Related Articles

Back to top button