न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

पुलवामा  हमला :  डोनाल्ड ट्रंप ने कहा, खतरनाक स्थिति, भारत कुछ बड़ा करने की सोच रहा है, रोकना चाहेंगे

जम्मू कश्मीर के पुलवामा में सीआरपीएफ की बस पर हुए आतंकी हमले  के बाद पैदा हुए हालात  को लेकर अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने  चिंता  जताई  है.   ट्रंप ने कहा है कि भारत कुछ बड़ा करने की सोच रहा है.

eidbanner
128

Washington  : जम्मू कश्मीर के पुलवामा में सीआरपीएफ की बस पर हुए आतंकी हमले  के बाद पैदा हुए हालात  को लेकर अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने  चिंता  जताई  है.   ट्रंप ने कहा है कि भारत कुछ बड़ा करने की सोच रहा है.  एनआई के अनुसार, डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि भारत और पाकिस्तान के बीच बहुत खतरनाक स्थिति चल रही है.  हम इसे रोकना चाहेंगे.  पुलवामा आतंकी हमले को लेकर ट्रंप ने कहा कि भारत ने लगभग  50 लोगों को खोया है.  अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा कि कई लोग इसके बारे में बातचीत कर रहे हैं.  जो कश्मीर में हुआ, उसकी वजह से वर्तमान समय में भारत और पाकिस्तान के बीच में काफी तनाव की स्थिति है.  यह काफी खतरनाक है. डोनाल्ड ट्रंप ने कहा, हमने पाकिस्तान को 1.3 बिलियन की मदद देने पर रोक लगाई है.  हम पाक के साथ कुछ बैठकें कर सकते हैं. अमेरिका का पाकिस्तान कड़ा फायदा उठा रहा था.  इससे पहले डोनाल्ड ट्रंप ने पुलवामा आतंकी हमले को भयावह बताया था.  ट्रंप ने कहा  था  कि वह इस पर रिपोर्ट प्राप्त कर रहे हैं.उसके बाद  बयान जारी करेंगे.

रॉबर्ट पैलाडिनो ने  पाकिस्तान को  हमले के जिम्मेदारों को सजा देने के लिए कहा था

इससे अलग, विदेश मंत्रालय के उप प्रवक्ता रॉबर्ट पैलाडिनो ने भारत के प्रति पुरजोर समर्थन दिखाते हुए पाकिस्तान को 14 फरवरी को हुए हमले के जिम्मेदारों को सजा देने के लिए कहा था. याद करें  कि जम्मू कश्मीर के पुलवामा जिले में 14 फरवरी को जैश-ए-मोहम्मद के एक भीषण फिदायिन हमले में सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हो गये थे और कई अन्य घायल हुए थे. जैश के आतंकवादी ने विस्फोटकों से लदे वाहन से सीआरपीएफ जवानों को ले जा रही बस को टक्कर मार दी थी. बता दें कि केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल के 2500 से अधिक कर्मी 78 वाहनों के काफिले में जा रहे थे.  इनमें से अधिकतर अपनी छुट्टियां बिताने के बाद अपनी ड्यूटी पर लौट रहे थे. जम्मू कश्मीर राजमार्ग पर अवंतिपोरा इलाके में लाटूमोड पर इस काफिले पर अपराह्न करीब साढ़े तीन बजे घात लगाकर हमला किया गया.

पुलवामा हमले में पाकिस्तान के शामिल होने के पुख्ता साक्ष्य

समाचार एजेंसी एएफपी के अनुसार, अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने ओवल ऑफिस में संवाददाताओं से कहा कि यह दोनों देशों के बीच बहुत खतरनाक स्थिति है. उन्होंने यह भी कहा कि इस समय भारत और पाकिस्तान के बीच बहुत सारी समस्याएं हैं.  दरअसल, पुलवामा आतंकी हमले के बाद भारत पाकिस्तान को वैश्विक तौर पर अलग-थलग करने की कोशिश कर रहा है. बताया जा रहा है कि कश्मीर घाटी में सुरक्षा बलों इस सदी का अब तका सबसे बड़ा आतंकी हमला है. पुलवामा आतंकी हमले के बाद भारत ने पाकिस्तान को दिए गये  मोस्ट फेवर्ड नेशन के दर्जे को भी छीन लिया है और वहीं पाकिस्तान की वस्तुओं पर 200 फीसदी का सीमा शुल्क भी लगा दिया है.  भारत ने कहा है कि उसके पास पुलवामा हमले में पाकिस्तान के शामिल होने के पुख्ता साक्ष्य हैं और इस हमले में पूरी तरह से पाकिस्तान और आईएसआई का हाथ है. हालांकि, पाकिस्तान सरकार ने हमले को गंभीर चिंता का विषय बताते हुए इसमें शामिल होने से इनकार किया है.

 इसे भी पढ़ें :  पाकिस्‍तानी सेना ने जैश-ए-मोहम्‍मद के सरगना मसूद अजहर समेत छह टॉप कमांडरों को छिपाया

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

hosp22
You might also like
%d bloggers like this: