न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

#पुलवामा हमलाः मुख्यमंत्री शहीदों का करते हैं अपमान और खुद को राष्ट्रभक्त कहते हैं

शहीदों को वेतन देने की घोषणा पूरी न करने पर विपक्ष ने लिया निशाने पर

1,414

Ranchi: मुख्यमंत्री रघुवर दास ने पुलवामा हमले में मारे गये सैनिकों के आश्रितों को झारखंड के सभी मंत्रियों के एक महीने की सैलरी देने करने की घोषणा की थी. तीन महीने की सैलरी ले लेने के बाद भी घोषणा के अनुरूप रुपये नहीं दिये गये हैं. इसे लेकर बाबूलाल मरांडी ने कहा कि भाजपा और मुख्यमंत्री शहीदों, सेना का अपमान करते हैं और खुद को राष्ट्रभक्त कहते हैं. शहीदों के आश्रितों को घोषणा के बावजूद मदद नहीं करनेवाले कतई राष्ट्रभक्त नहीं हो सकते. उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री और भाजपा सिर्फ बयानबाजी करते हैं और सेना की शहादत पर राजनीति करते हैं.

इसे भी पढ़ें – झारखंड के 31 विभागों में से मुख्यमंत्री रघुवर दास के पास 16 विभाग

शहीदों का अपमान करनेवाली पार्टी है भाजपाः डॉ अजय कुमार

कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष डॉ अजय कुमार ने कहा कि भाजपा का मतलब भारतीय झूठा पार्टी है. भाजपा गरीबों की भावनाओं से खेलने वाली पार्टी है और शहीदों के अपमान करनेवाली पार्टी है. वहीं कांग्रेस के प्रदेश प्रवक्ता राजेश ठाकुर ने कहा कि भाजपा का चरित्र काम कम और बातें ज्यादा करने वाला रहा है.

Vision House 17/01/2020

इसे भी पढ़ें – शहरी क्षेत्रों में वोट प्रतिशत घटने और ग्रामीण इलाकों में वोट प्रतिशत बढ़ने से बीजेपी चिंतित

कफन बेचनेवाली पार्टी है बीजेपीः सुप्रियो भट्टाचार्य

झामुमो के पार्टी प्रवक्ता सुप्रियो भट्टाचार्य ने कहा कि भाजपा कफन बेचनेवाली पार्टी है. शहीदों का अपमान करनेवाली पार्टी है. उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री की बात झूठ बोलने की पराकाष्ठा है. शहीदों को दिये आश्वासन को भी पूरा नहीं करना बीजेपी की पराकाष्ठा को दिखाता है.

Related Posts
SP Deoghar

इसे भी पढ़ें – सुप्रीम कोर्ट से रोक हटने के बाद अब राज्य में संभव हो पायेगी सहायक प्रोफेसर पद पर नियुक्ति

शहीद विजय सोरेंग के पार्थिव शरीर को कंधा देने के बाद की थी घोषणा

14 फरवरी को पुलवामा में 44 सीआरपीएफ जवानों के शहीद होने के बाद दूसरे ही दिन झारखंड के गुमला से शहीद विजय सोरेंग के पार्थिव शरीर को कंधा देने के बाद पूर्ण बहुमतवाली बीजेपी की सरकार के मुखिया रघुवर दास ने एक घोषणा की. घोषणा में उन्होंने कहा कि “पुलवामा के शहीदों की शहादत बेकार नहीं जायेगी. झारखंड सरकार की तरफ से पुलवामा के शहीदों के परिजनों को मदद के तौर पर मैं और मेरे कैबिनेट के सभी मंत्री एक महीने के वेतन की राशि देंगे.” इसके एक दिन बाद 16 फरवरी को दोपहर 2.42 मिनट पर मुख्यमंत्री रघुवर दास ने एक ट्वीट किया. इसमें उन्होंने लिखा थाः पुलवामा में शहीद हुए वीर सपूतों के परिजनों के साथ पूरा देश खड़ा है. मैं और मेरे मंत्रिमंडल के सभी साथी अपना एक महीने का वेतन शहीदों के परिजनों के चरणों में अर्पित करते हैं. लेकिन ऐसा नहीं किया.

इसे भी पढ़ें – रांची डीसी के आदेश के बाद भी जलापूर्ति का वक्त तय नहीं, कई वार्डों में पानी की है कमी

कैबिनेट में बनी थी सहमति, सरकार ने नहीं बनाया कोई सिस्टम

अभी तक पुलवामा के शहीदों के परिजनों को कैबिनेट के सदस्यों का एक महीने के वेतन की राशि नहीं पहुंची है. इस बीच मुख्यमंत्री रघुवर दास समेत सभी मंत्रियों को सैलेरी मिल चुकी है. घोषणा के करीब तीन महीने होने को हैं. सीएम रघुवर दास की घोषणा के बाद कैबिनेट में सहमति बनी थी.

इसे भी पढ़ें – झामुमो का पट्टा लगा कर वोट डालने के आरोप में पूर्व सीएम हेमंत सोरेन और उनकी पत्नी पर प्राथमिकी दर्ज

Mayfair 2-1-2020

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like