Jamshedpur

जमशेदपुर के शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों में बंद का रहा मिला-जुला असर, तमाशबीन बनी रही पुलिस

Jamshedpur : किसानों के समर्थन में आहूत भारत बंद का प्रभाव सोमवार को शहरी और ग्रामीण ईलाकों में मिला-जुला रहा. बंद समर्थक दुकानों को बंद कराने के लिए जुलूस की शक्ल में निकले थे और दुकानदारों से आग्रह करके दुकानों को  बंद कराया. शहर के कुछ हिस्से में दुकानें खुली रही तो कुछ ईलाके में सन्नाटा पसरा रहा. दुकानदार भी बंद समर्थकों को देखकर ही दुकान खोलने की योजना बना रहे थे. बंद के मद्देनजर सीजीपीसी के लोग भी सड़कों पर उतरे हुए थे. घाटशिला-बहरागोड़ा की बात करें तो वहां पर भी बंद का मिला-जुला असर देखा गया. बारीडीह, बिष्टूपुर, साकची, जुगसलाई, कदमा, सोनारी, टेल्को, स्टेशन ईलाके में बंद समर्थकों को देखा गया.

 

सिदगोड़ा-बारीडीह-बिरसानगर में खुली रही दुकानें

शहर के सिदगोड़ा, बारीडीह और बिरसानगर की  बात करें तो बंद समर्थकों को घुमते हुए जरूर देखा गया, लेकिन अधिकांश दुकानें खुली रही. बंद समर्थकों के जाते ही दुकानदार अपनी दुकानों को खोल दे रहे थे. लोग भी खरीदारी करने के लिए भारी संख्या में दुकानों तक पहुंचे हुए थे.

 

 

कदमा में टेंपो चालकों को रोका

बंद समर्थकों ने कदमा में टेंपो चालकों को रोका और चेतावनी दी कि अगर टेंपो का परिचालन होता है तो उन्हें इसका खामियाजा भुगतना पड़ सकता है. वैसे टेंपो की  बात करें तो पूरे शहर में ही टेंपो का परिचालन सुबह से ही हो रहा था.

 

बंद समर्थकों के पीछे खड़ी रही पुलिस

बंद के दौरान पूरे शहर में पुलिस तमाशबीन बनी रही. बंद समर्थकों में से किसी को भी दोपहर तक गिरफ्तार नहीं किया गया था. पुलिस बंद समर्थकों के पीछे चल रही थी. बंद समर्थक जुलूस निकालकर आसानी से आगे बढ़ रहे थे.

 

सीजीपीसी के प्रधान के नेतृत्व में कराया बंद

सीजीपीसी के प्रधान गुरमुख सिंह मुखे के नेतृत्व में बंद कराया गया. इस दौरान जुलूस भी निकाला गया था. मानगो, बिष्टूपुर छगनलाल के सामने और साकची गोलचक्कर पर प्रदर्शन किया गया. इस दौरान सीजीपीसी की एकजुटता देखते ही बन रही थी.

 

बहरागोड़ा व घाटशिला में भी निकले बंद समर्थक

बहरागोड़ा और घाटशिला क्षेत्र में भी बंद समर्थक निकाले और दुकानों को बंद कराया. इस बीच कांग्रेस पार्टी के लोग निकले हुए थे. कुछ जगहों पर झामुमो को भी सड़कों पर देखा गया. सभी पार्टी के लोग झंडा और बैनर के साथ सड़कों पर उतरे हुए थे. बंद समर्थकों को देखते हुए दुकानदार अपनी दुकानों को बंद कर रहे थे और उनके जाते ही सटर को खोल दे रहे थे.

 

मानगो में बंद का रहा मिला-जुला असर

मानगो ईलाके की बात करें तो बंद का मिला-जुला असर मानगो क्षेत्र में बंद का मिला-जुला असर देखने को मिला. मानगो सब्जी मंडी सामान्य तरीके से खुली रही. रोजमर्रा की तरह ग्रामीण क्षेत्र के सब्जी विक्रेता भी पहुंचे. ऑटो रिक्षा का परिचालन सामान्य तरीके से होता रहा. हालांकि भारी वाहनों का बंद के चलते प्रवेष निषेध रहा. बंद समर्थकों की ओर से मानगो गोलचक्कर पर नारेबाजी करते हुए प्रदर्षन भी किया गया.

एनएच पर स्थिति सामान्य

एनएच-33 पर स्थिति पूरी तरह से सामान्य दिखी. हालांकि नो इंट्री के चलते एनएच के किनारे भारी वाहनों की लंबी कतार लगी रही, पर एनएच पर आवागमन सामान्य रहा. एनएच पर कहीं पर भी किसी प्रदर्षन की सूचना नहीं मिली.

इसे भी पढ़ें-शर्मनाक : पटना में टहलने निकली गर्भवती महिला के साथ सामूहिक दुष्कर्म, दो आरोपी गिरफ्तार

Related Articles

Back to top button