न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

योजनाओं का सरलीकरण कर लाभ पहुंचायें ग्रामीणों तक: रघुवर दास

31

Ranchi: सरकार योजनायें बनाती है, ताकि इसका लाभ आम लोग ले सकें. लेकिन, कई योजनाओं में प्रशासनिक प्रक्रिया जटिल होती है, इससे ग्रामीण इलाके में निवास करने वाले लोगों तक योजनाएं नहीं पहुंच पाती. इन योजनाओं के सरलीकरण व आम लोगों तक योजना की पहुंच बनाने के उद्देश्य से आप जैसे युवाओं को जिला समन्वयक व प्रखंड समन्वयक के रूप में नियुक्त किया है. आपकी भी जिम्मेवारी बनती है. देश, राज्य, समाज को बदलने की. अब आप अपने गांव की तस्वीर और तकदीर बदलें. इसके लिए शासन व सरकार आपको सहयोग करेगी. यह बातें मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कही. रघुवर दास सोमवार को प्रोजेक्ट भवन में ग्रामीण विकास विभाग पंचायती राज के तत्वावधान में आयोजित जिला व प्रखंड समन्वयकों की समीक्षा बैठक में बोल रहे थे.

रघुवर दास ने कहा कि जिस माटी में हमने जन्म लिया है उस माटी के लिए हमें कुछ करना है. उस माटी का कर्ज चुकाना है. इसलिए आप सभी युवाओं से अनुरोध है कि अपनी जिम्मेदारी का निर्वहन ईमानदारी पूर्वक करें. सरकार की योजनाओं को गांव की धरातल पर उतारे, जिससे विकास का मार्ग प्रशस्त हो सकें. साथ ही इस दिवाली संकल्प लें कि उस गरीब के घर को रोशन करना है, जहां आजादी के बाद से अंधेरा.

इसे भी पढ़ें:पलामू : पांच दिनों तक चलने वाला दीवाली महोत्सव शुरू, धनतेरस पर गुलजार हुआ बाजार

आपका गांव आपकी योजना, गांव के गरीब को पहली प्राथमिकता

सीएम रघुवर दास ने कहा कि राज्य के 32 हजार गांव में आदिवासी विकास समिति व ग्राम विकास समिति के गठन की प्रक्रिया अब मूर्त रूप ले चुकी है. 16 हजार गांव में आदिवासी विकास समिति और 11, 382 गांव में ग्राम विकास समिति का गठन हो चुका है. जिला समन्वयक और प्रखंड समन्वयक की जिम्मेवारी है कि वे गांव वालों के साथ बैठक कर गांव के लिए सर्वसम्मति से योजना बनायें. अपनी योजना की जानकारी जिला के उप विकास आयुक्त को दें. महज एक सप्ताह के अंदर आपकी योजना को मंजूरी मिल जायेगी. इस योजना में होने वाले खर्च के लिए समिति के अध्यक्ष के बैंक खाते में राज्य सरकार 5 लाख रुपये जमा कर देगी. इसकी भी प्रक्रिया शुरू हो चुकी है. योजना के क्रियान्वयन के लिए गांव वाले भी श्रमदान करें. सरकार आपको योजना की 80% राशि देगी बाकि या तो गांव वाले मिलकर दें या श्रमदान करें. इसमें ध्यान रखना है कि गांव के गरीब को रोजगार अवश्य मिले.

इसे भी पढ़ें: शाह ब्रदर्स मामले में सरकार को हुआ 1365 करोड़ का नुकसान : डॉ अजय कुमार

 आधुनिक व बहुफसलीय खेती के लिए प्रेरित करें

रघुवर दास ने कहा कि प्रखंड व जिला समन्वयक गांव के किसानों को आधुनिक व बहुफसलीय खेती के लिए प्रेरित करें. उन्हें यह बतायें की राज्य सरकार 29 और 30 नवंबर को ग्लोबल एग्रीकल्चर एंड फूड सम्मिट का आयोजन करने जा रही है. जहां देश व विदेश से प्रगतिशील व उन्नत किसान आयेंगे. इस आयोजन का लाभ किसान लें. आधुनिक व कम संसाधन में उन्नत खेती की जानकारी प्राप्त करें. किसान के हित में कार्य करने को सरकार कृतसंकल्पित है. राज्य के 52 किसानों को इजराइल भेज उन्हें आधुनिक व उन्नत कृषि की विधि से अवगत कराया गया है. वहां से आये किसान उत्साहित हैं और सामुदायिक खेती हेतु अपने कदम बढ़ा दिये हैं. क्योंकि कृषि के क्षेत्र में अग्रणी देश सामुदायिक कृषि करते हैं. जल्द सरकार किसानों को कृषि कार्य के लिए 6 घंटे निर्बाध बिजली की आपूर्ति सुनिश्चित करेगी.

इसे भी पढ़ें: धनतेरस पर बाबूलाल मरांडी ने रघुवर सरकार पर फोड़ा 5000 करोड़ का बम

बिजली बिल भुगतान के लिए ग्रामीणों को जागरूक करें

मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य के घर-घर तक बिजली पहुंचाने के लक्ष्य को सरकार 2018 दिसंबर तक पूरा कर लेगी. राज्य के तीन जिला के प्रत्येक घर को बिजली से आच्छादित कर दिया गया है. साल के अंत तक राज्य के सभी जिले पूर्णरूप से विद्युतीकृत होंगे. इस कार्य के बाद सरकार 24 घंटे बिजली उपलब्ध कराने की दिशा में तेजी से कार्य करेगी. जिला और प्रखंड समन्वयक ग्रामीणों को बिजली उपभोग के बदले बिल का भुगतान के लिए जागरूक करें. उन्हें बतायें कि विभाग घाटे में कितने दिनों तक कार्य करेगा.

इसे भी पढ़ें: सृजन हेल्‍प संस्‍था ने बच्‍चों संग बांटी दिवाली की खुशियां

आयुष्मान भारत संजीवनी बनकर आयी है

मुख्यमंत्री ने कहा कि ग्रामीणों को आयुष्मान भारत योजना के प्रति जागरूक करें उनकी सोच में बदलाव लायें. ग्रामीण देश के चयनित अस्पतालों में अपना और अपने परिजन का इलाज करा सकते हैं जिनका नाम राशन कार्ड में दर्ज है. APL और BPL कार्डधारी भी कार्ड दिखा कर इलाज करा सकते हैं. यह योजना संजीवनी बन गरीबों के लिए आयी है.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.


हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Open

Close
%d bloggers like this: