National

 #CAA_NRC के खिलाफ 30 जनवरी को विरोध मार्च, 60 छात्र संघों के प्रतिनिधि राजघाट पर जुटेंगे : योगेंद्र यादव

NewDelhi :  सामाजिक कार्यकर्ता योगेंद्र यादव ने शुक्रवार को कहा कि संशोधित नागरिकता कानून(CAA) और NRC के खिलाफ 30 जनवरी को होने वाले प्रदर्शन में देशभर में विभिन्न क्षेत्रों से जुड़े लोग और छात्र संघ शामिल होंगे.

यादव ने यहां हम भारत के लोग के बैनर तले आयोजित संवाददाता सम्मेलन में कहा, 30 जनवरी को ही महात्मा गांधी की नाथूराम गोडसे ने गोली मारकर हत्या कर दी थी और इस दिन को शहीद दिवस के तौर पर जाना जाता है.

छात्र संघों, शाहीन बाग के प्रदर्शनकारियों समेत विभिन्न वर्गों के लोग द्वारा CAA और NRC के खिलाफ प्रदर्शन किया जायेगा. जेएनयू छात्रसंघ के पूर्व अध्यक्ष एन साई बालाजी ने कहा कि देश भर के 60 छात्र संघों के प्रतिनिधि 30 जनवरी को सत्याग्रह मानव श्रृंखला  के लिए राजघाट पर जुटेंगे.

advt

इसे भी पढ़ें : सुप्रीम कोर्ट का #CAA के विरोध के बीच रासुका लगाये जाने के खिलाफ याचिका पर विचार से इनकार

बनारस में भी  CAA, NRC और NPR के खिलाफ आवाज उठी

जान लें कि  CAA और NRC को लेकर विरोध-प्रदर्शन थम नहीं रहा है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र बनारस में भी चार दिन पूर्व CAA, NRCको और NPR के खिलाफ आवाज उठी.  कचहरी स्थित शास्त्री घाट पर आयोजित नागरिकता अधिकार सम्मेलन में सैकड़ों लोग पहुंचे  थे. योगेंद्र यादव ने ट्वीट कर भी इसकी जानकारी देते हुए लिखा था कि महीना भर पुलिस राज के बाद अब उत्तर प्रदेश में जनता को फिर अपनी आवाज उठाने का मौका मिला है.

आज बनारस में CAA-NRC-NPR विरोधी सभा से शुरुआत हुई. स्वराज इंडिया के अध्यक्ष योगेंद्र यादव और पूर्व आईएएस अधिकारी कन्नन गोपीनाथन ने भी लोगों को संबोधित किया.  योगेंद्र यादव ने कहा कि महिलाएं जब सड़क पर उतरती हैं तो यह असली आवाज होती है। दिल्ली के शाहीन बाग ने इसे सिद्ध कर दिया है. अब यह आंदोलन पीछे नहीं हटेगा.

इसे भी पढ़ें : गुजरात के डिप्टी CM बोले- आजादी के नारे लगाने वालों को देश छोड़कर जाने दें

adv

 

advt
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button