HazaribaghJharkhand

VBU में छात्र संघ के नेताओं का हंगामा

Hazaribagh: विनोवभावे विश्वविद्यालय ने मंगलवार को सिंडिकेट की बैठक कर संत कोलम्बा कॉलेज के प्राचार्य डॉ सुशील टोप्पो को गबन के आरोप में निलंबित कर दिया गया था.

जिसके विरोध में झामुमो और एनएसयूआई के नेताओं ने बुधवार को पांच घण्टे से अधिक कुलपति के कार्यालय कक्ष में घुसकर न सिर्फ हंगामा किया बल्कि कार्यालय कक्ष में ही धरने पर बैठ गए. मौके पर कुलपति के विरुद्ध जमकर नारेबाजी भी की गई.

छात्र यूनियन के बढ़ते हंगामे को लेकर विश्वविद्यालय ने संबंधित थाना को सूचना दी. मौके पर एसडीपीओ समेत बड़ी संख्या में पुलिस बल मौके पर पहुंची.

advt

इसे भी पढ़ें : बड़कागांव : बिना मुआवजा दिये रैयतों के मकान गिराये गये, विरोध करने पर लाठीचार्ज, दर्जनों ग्रामीण घायल

छात्र नेताओं ने पुलिस की मौजूदगी में कुलपति के टेबल पर रखे कागज को फाड़ने का काम किया. कुलपति का रास्ता रोककर हंगामा शुरू कर दिया गया. जिसके बाद पुलिस के दखल के बाद वार्ता हो पाई.

झांमुमो के चन्दन सिंह ने बताया की विश्वविद्यालय प्रशासन ने प्राचार्य को बलि का बकरा बनाया है इसको हमलोग विरोध करते हैं. मामले पर बीजेपी के वरिष्ठ नेता बटेश्वर प्रसाद मेहता ने कहा कि विश्वविद्यालय परिसर में राजनीति नहीं होनी चाहिए.

अगर प्राचार्य निर्दोष हैं तो विश्वविद्यालय प्रशासन को एक बार फिर से जांच करा लेनी चाहिए. कुलपति ने अपने उपर लग रहे आरोपो को सिरे से खारिज किया और मामले को देखने की बात कही.

इसे भी पढ़ें : बजट में कोई विजन और प्रतिबद्धता नहीं, दिशाहीन है बजटः सुदेश कुमार महतो

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: