Jamshedpur

दिव्यांग की स्कूटी चोरी का विरोध : डीसी ऑफिस के बाहर बैठे हैं धरना पर

Jamshedpur : सरायकेला-खरसावां जिले के चांडिल लेंगडीह की रहने वाली सीता कुंभकार की स्कूटी की चोरी 19 नवंबर को सोनारी के नार्थ ले आउट मकान नंबर 4 के पास से हो गयी थी. घटना के दिन सीता अपनी फुफेरी बहन की शादी समारोह में शरीक होने के लिए गयी थी. इसके विरोध में सीता कुंभकार अन्य गदिव्यांगों के साथ शुक्रवार की सुबह से ही डीसी कार्यालय के बाहर धरना पर बैठ गयी है.

Sanjeevani

कल सभी दिव्यांग अपनी स्कूटी जमा करेंगे

MDLM

धरना पर बैठे दिव्यांगों का कहना है कि अगर सीता कुंभकार के साथ न्याय नहीं होता है तो जिले के सभी दिव्यांग अपनी स्कूटी को लाकर डीसी ऑफिस में जमा कर देंगे. इसके बाद वे स्कूटी तब लेकर जाएंगे, जब सीता को उसकी स्कूटी मिल जाती  है.

फाइनांस कराया था स्कूटी

सीता का कहना है कि वह चांडिल में पारा टीचर का काम करती है. किसी तरह से रुपये जुगाड़ कर फाइनांस करके स्कूटी खरीदी थी. अभी उसे एक साल और स्टालमेंट जमा करना है. अब उसे स्कूटी के अभाव में खासा परेशानी हो रही है.

सीसीटीवी कैमरे में कैद है घटना

घटना सीसीटीवी कैमरे में कैद है. तीन लोग स्कूटी को ढकेलकर लेकर जाते देखा गया है. इसको लेकर परिवार के लोग कई बार थाने  में और शहर के सिटी एसपी से भी मिल चुके हैं.

थानेदार जानते हैं किसने गाड़ी चोरी की

दीपक कुमार श्रीवास्तव ने कहा कि सीता की गाड़ी किसने चोरी की है, इसकी जानकारी सोनारी थानेदार को भी है. घटना के बाद किसी तरह से गाड़ी पुलिस-प्रशासन उपलब्ध करवाए. दिव्यांग लोग पिछले 22 सालों से गाड़ी चला रहे हैं, लेकिन कभी भी उनकी गाड़ी की चोरी नहीं हुई थी. अब तो उन्हें भी डर लगने लगा है.

इसे भी  पढ़ें- राज्यपाल रमेश बैस और सीएम हेमंत ने पहले राष्ट्रपति राजेन्द्र प्रसाद और परमवीर अल्बर्ट एक्का को किया नमन

 

 

Related Articles

Back to top button