NEWS

हजारीबाग रोड स्टेशन में गंगा-सतलज और पुरुषोतम एक्सप्रेस का स्टॉपेज हटाने का विरोध, इनौस-आईसा ने निकाला मार्च

Giridhi. अनलॉक की प्रकिया शुरू होने के बाद गिरिडीह के सरिया स्थित हजारीबाग रोड रेलवे स्टेशन में दो सुपरफास्ट ट्रेन का स्टॉपेज हटाने से आक्रोशित आईसा और इंकलाबी नौजवान सभा ने विरोध मार्च निकाला. विरोध मार्च की 
अगुवाई इनौस के सचिव संदीप जायसवाल और सोनू पांडेय कर रहे थे. सरिया स्टेडियम से निकले विरोध मार्च में संगठन के अमन पांडेय, राजकुमार मोदी, अखिलेश कुमार, प्रदीप कुमार, पूरन महतो और हेमलाल महतो समेत कई लोग शामिल  थे.

Sanjeevani

इसे भी पढ़ें- Palamu:  वज्रपात से अलग-अलग क्षेत्रों में एक नवविवाहिता समेत दो लोगों की मौत

MDLM

जनविरोधी निर्णय

स्टेडियम से निकलने के बाद इनौस और आईसा का विरोध मार्च पूरे सरिया में भ्रमण किया. कार्यकर्ताओं ने रेलवे बोर्ड पर गुस्सा जाहिर करते हुए कहा कि सरिया का हजारीबाग रोड स्टेशन से धनबाद रेल मंडल को हर साल करोड़ों का राजस्व  जाता है. लॉकडाउन खुलने के बाद इस स्टेशन से धनबाद-फिरोजपुर गंगा-सतलज एक्सप्रेस और पुरुषोतम एक्सप्रेस का स्टॉपेज हटाना जनविरोधी निर्णय है. ट्रेनों से हर रोज इस स्टेशन से हजारों यात्रियों का सफर होता है. इसे रेलवे को करोड़ों का  राजस्व मिलता है.

स्टेशन प्रबंधक को सौंपा ज्ञापन

पारसनाथ के बाद कोडरमा में इन महत्पूर्ण ट्रेनों का स्टॉपेज किया गया है. इसे सरिया प्रखंड मुख्यालय समेत राधनवार के दो लाख से अधिक की आबादी प्रभावित होगी. क्योंकि इन ट्रेनों से ही लोग बिहार के गया, दिल्ली, बनारस समेत कई बड़े शहरों से कारोबार के लिए आवागमन करते हैं. ऐसे में सरिया के इस स्टेशन में ट्रेनों का स्टॉपेज हटाना रेलवे बोर्ड के जनविरोधी नीति को दर्शाता है. सरिया भ्रमण के बाद दोनों संगठनों का विरोध मार्च हजारीबाग रोड स्टेशन पहुंचा. जहां  कार्यकर्ताओं ने स्टेशन प्रबंधक को एक ज्ञापन सौंपा.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button