न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

राहुल गांधी को पीएम के रूप में प्रोजेक्ट करना उतावलापन : हेमंत सोरेन

सीटों के बंटवारे में मिलनी चाहिए झामुमो को प्राथमिकता 

82

Giridih : झामुमो के कार्यकारी अध्यक्ष सह पूर्व मुख्‍यमंत्री हेमंत सोरेन ने कहा है कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को विपक्ष के पीएम उम्मीदवार के रूप में प्रोजेक्ट करना उतावलापन है. कहा कि अभी कांग्रेस अध्यक्ष को लंबी पारी खेलनी है. हेमंत सोरेन ने बुधवार को गांडेय के पूर्व दिवगंत विधायक सालखन सोरेन की पुण्यतिथि में शामिल होने गिरिडीह के गांडेय के झलकडीहा जाने के क्रम में सर्किट हाउस में मीडियाकर्मियों से बातचीत के दौरान ये बातें कही.

झामुमो सबसे अधिक सीटें जीत सकता है

बातचीत के दौरान पूर्व सीएम सोरेन ने कहा कि झारखंड में झामुमो दूसरे सबसे बड़े दल रूप में है. इस लिहाज से महागठबंधन में झामुमो सबसे बड़ा दल है. पूर्व सीएम सोरेन ने दावा करते हुए कहा कि झामुमो सबसे अधिक सीटें जीत सकता है. बावजूद महागठबंधन हर दल के अपने-आपने विचार हैं. महागठबंधन में शामिल दलों को एक-दूसरे के विचारों को मानने से रोका नहीं जा सकता.

सीटों के बंटवारे में अभी तक कुछ भी स्पस्ट नहीं

एक सवाल के जवाब में सोरेन ने स्पष्ट किया कि जनबल जिसके पास रहेगा, वह दल स्वत: बड़ा माना जाता है. एक अन्य सवाल के जवाब में पूर्व सीएम ने कहा कि सीटों के बंटवारे में अभी तक कुछ भी स्पस्ट नहीं हुआ है. ऐसे में कौन-कौन दल किस सीट से चुनाव लड़ेगा, इसका फार्मूला तय होने के बाद ही आधिकारिक रूप से कुछ कहा जा सकता है.

आपसी सहमति होने के बाद ही सीटों का बंटवारा

हेमंत ने कहा कि महागठबंधन में शामिल दलों में झामुमो सबसे बडे दल होने का हैसियत रखता है. इसलिए सीटों के बंटवारे में झामुमो को प्राथमिकता मिलनी चाहिए. वैसे झामुमो झारखंड के 81 विस और 14 लोस सीटों पर अपनी राजनीतिक गतिविधियां सालों भर चलाती है. बावजूद महागठबंधन के बीच आपसी सहमति होने के बाद सीटों के बंटवारे पर कहना उचित होगा. संभावनाओं को नजर अंदाज करना ही बेहतर है.

भाजपा को हटाने के लिए महागठबंधन जरूरी

महागठबंधन बनाने के जरूरत से जुड़े सवाल का जवाब देते हुए हेमंत सोरेन ने कहा कि भाजपा धीरे-धीरे देश में सांप्रदायिक माहौल को बढ़ा रही है. क्योंकि भाजपा के कारण सिर्फ झारखंड को ही नहीं, बल्कि पूरे प्रदेशों को नुकसान पहुंच रहा है. मतों के बिखराव रोकने के लिए ही महागठबंधन बनाने की जरूरत महसूस हुई. जिससे भाजपा को झारखंड और केंद्र से उखाड़ा जा सके.

एक अन्य सवाल के जवाब में सोरेन ने कहा कि गांडेय से दिवंगत विधायक की पत्नी या बहू में से कौन चुनाव लड़ेगी, यह फिलहाल कहना सही नहीं है. कहा कि पार्टी के विकास में दिवंगत विधायक के परिवार का भरपूर योगदान रहा है. लिहाजा,  झामुमो पहले एक परिवार है और परिवार के नजरिये से ही पार्टी हर स्थिति को देखती है. इसे पहले सर्किट हाउस पहुंचने पर पूर्व सीएम का भव्य स्वागत हुआ. मौके पर झामुमो के वरिष्ठ नेता सुदिव्य कुमार सोनू, जिलाध्यक्ष संजय सिंह समेत कई नेता व कार्यकर्ता मौजूद थे.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: