Education & CareerJharkhandRanchi

डीएसपीएमयू में होगी प्रोफेसरों की नियुक्ति, शनिवार से 22 विषय के शिक्षकों का होगा डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन

Ranchi : डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी विश्वविद्यालय अपने स्थापना के साल से ही शिक्षकों की कमी से जूझ रहा है. शैक्षणिक सत्र 2020-21 के लिए स्नातक में एडमिशन की प्रक्रिया समाप्त हो चुकी है. वहीं पीजी की एडमिशन प्रक्रिया चल रही है. इस बीच स्टूडेंट्स की पढ़ाई सही तरीके से हो सके इसके लिए विवि में अनुबंध आधारित शिक्षकों की नियुक्ति की जा रही है. आवेदन की प्रक्रिया अक्टूबर के दूसरे सप्ताह में ही समाप्त कर दी गयी है. अब शनिवार से सेलेक्टेड उम्मीदवारों का डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन किया जायेगा. विषयवार शिक्षकों की नियुक्ति के लिए डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन किया जा सके, इसके लिए शेड्यूल भी जारी कर दिया गया है.

यूजी कोर्स के लिए हो रही नियुक्ति

डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी विश्वविद्यालय में पहले से ही शिक्षकों की कमी है. इसके कारण पठन-पाठन में विद्यार्थियों को परेशानी होती है. विश्वविद्यालय में एक भी प्रोफेसर नहीं हैं. ऐसे में शिक्षा व्यवस्था की गुणवत्ता बनी रहे, इसके लिए विश्वविद्यालय की ओर से यूजी कोर्स के लिए अनुबंध पर घंटी आधारित शिक्षकों की नियुक्ति की जा रही है. किसी भी विभाग में न्यूनतम एक प्रोफेसर का होना अनिवार्य है.

आवेदनों की स्क्रूटनी के बाद प्रशासन ने मूल प्रमाण पत्रों के सत्यापन की तिथि 28 नवंबर से 5 दिसंबर तय की है. इसे लेकर एक कमेटी भी बनायी गयी है. नियुक्ति में अभ्यर्थियों की मैट्रिक से लेकर पीजी तक की डिग्री, शैक्षणिक अनुभव प्रमाण पत्र, रिसर्च पब्लिकेशन समेत अन्य कागजात की जांच होगी. सत्यापन कार्य पूरा होने के बाद ही अभ्यर्थियों का साक्षात्कार लिया जायेगा.

इन विषयों के प्रोफेसरों की होगी नियुक्ति

ओड़िया, साइकोलॉजी, फिलॉसफी, जूलॉजी, हिस्ट्री, फिजिक्स, इकोनोमिक्स, हिंदी, पंच परगनिया, कुरमाली, खोरठा, मुंडारी, खड़िया, हो, संथाली, नागपुरी, कुड़ूख, ऊर्दू, अंग्रेजी, जियोलॉजी, मैथेमेटिक्स और कॉमर्स.

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: