DeogharEducation & CareerJharkhandRanchi

BIT देवघर कैंपस में बंद हुई प्रोडक्शन इंजीनियरिंग की पढाई, XLRI ने भी बंद किया इंटरनेशनल बिजनेस में पीजीडीएम

Rahul Guru

Ranchi : अगर आप झारखंड से मैनेजमेंट या इंजीनियरिंग की पढाई करने जा रहे हैं तो एडमिशन लेने से पहले इस बात की तसल्ली जरुर कर लें कि कौन से संस्थान कोर्स की मान्यता लेकर पढाई करा रहे हैं और कौन से ऐसे संस्थान ने अपने यहां कोर्स कराना ही बंद कर दिया है.

दरअसल एकेडमिक इयर 2021-22 के लिए एआईसीटीइ ने देश भर के संस्थानों की कई कैटेगरी में सूची जारी की है. इसी सूची के मुताबिक झारखंड में दो बड़े संस्थान ऐसे हैं जिन्होंने अपने यहां संचालित इंजीनियरिंग और मैनेजमेंट कोर्स को बंद कर दिया गया है. झारखंड में एआईसीटीइ से एप्रूव्ड दो संस्थानों ने अपने फुल टाइम कोर्स को बंद कर दिया है. ये कोर्स सेशन 2021-22 में बंद हुए हैं.

advt

बिरला इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी ने अपने देवघर ऑफ कैंपस प्रोडक्शन इंजीनियरिंग कोर्स को बंद कर दिया है. यह संस्थान का फुल टाइम कोर्स है. जो फर्स्ट शिफ्ट में चलाया जाता था.

वहीं देश की श्रेष्ठतम बिजनेस स्कूल में से एक एक्सएलआरआई ने एकेडमिक इयर 2021-22 में पीजी डिप्लोमा इन इंटरनेशनल बिजनेस कोर्स को बंद कर दिया है. यह भी फुल टाइम कोर्स है जो संस्थान में फर्स्ट शिफ्ट में कराया जाता था. एआईसीटीइ की वेबसाइटपर इसकी जानकारी दी हुई है.

https://facilities.aicte-india.org/dashboard/pages/angulardashboard.php#!/closedcourse
वहीं एआईसीटीइ ने उन संस्थान के बारे भी बताया है जो एआईसीटीइ एप्रूवल के बिना तकनीकी कोर्स संचालित कर रहे हैं. झारखंड में उषा मार्टिन के तीन शहरों में संचालित संस्थान एआईसीटीइ एप्रूवल के बिना तकनीकी कोर्स संचालित कर रहे हैं. ये संस्थान उषा मार्टिन एकेडमी के नाम से धनबाद, हजारीबाग और जमशेदपुर में चल रहे हैं. बिहार में ऐसे संस्थानों की बात करें तो इनकी संख्या 15 है.

इसे भी पढ़ेंःमुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को धमकी मामले में जांच के लिए सीआईडी ने इंटरपोल से मांगी मदद

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: