Ranchi

MDM खाद्यान वितरण में शिक्षकों को हो रही परेशानी, डीएसई से पास जारी करने का अनुरोध

विज्ञापन

Ranchi: स्कूली शिक्षा व साक्षरता विभाग की ओर से लॉकडाउन की अवधि के दौरान स्कूलों में पढ़ने वाले बच्चों को खाद्यान और कुकिंग कॉस्ट देने का आदेश जारी किया गया है. एमडीएम प्राधिकरण की ओर से निर्देश मिलने के बाद कुकिंग कॉस्ट और खाद्यान देने का काम शुरू भी हो चुका है.

इसे भी पढ़ेंः#CoronaCrisis: कॉलेजों के बंद होने से 985 अनुबंधित असिस्टेंट प्रोफेसर की सैलेरी पर मंडरा रहा संकट

एमडीएम प्राधिकरण की ओर से खाद्यान वितरण के बाबत जो निर्देश दिया गया है, उसके अनुसार स्कूल के प्राचार्य और शिक्षकों को गांव-गांव जाकर खाद्यान देना है. लेकिन इस प्रक्रिया के तहत शिक्षकों को काफी परेशानी हो रही है. बीते दिनों कांके ब्लॉक में खाद्यान वितरण के लिए गये शिक्षकों को वापस लौटा दिया गया. इसके बाद प्रशासन के सहयोग से उक्त स्कूल में चावल बांटा गया है.

advt

पर अन्य जगहों पर समस्या बरकरार रही. इन समस्याओं को देखते हुए अखिल झारखंड प्राथमिक शिक्षक संघ ने रांची जिला शिक्षा अधीक्षक को पत्र लिखा है. पत्र के माध्यम से संघ ने विभागीय आदेशों का पालन करने के लिए कुछ मांगे रखी हैं.

संघ ने मांग की है कि शिक्षकों को स्कूल आने-जाने, खाद्यान और राशि वितरण की अवधि के लिए पास जारी किया जाये. शिक्षकों पर अनावश्यक दबाव न बनाया जाये. जो कर्मचारी कोविड-19 के लिए काम कर रहे हैं, उन्हीं के समतुल्य शिक्षकों को रखा जाये.

गौरतलब है कि एमडीएम प्राधिकरण के निर्देश के अनुसार, शिक्षकों को पहली से पांचवी कक्षा तक के विद्यार्थियों को एक 100 ग्राम चावल की दर से 20 दिन का 2 किलो चावल देना है. वही कक्षा 6 से 8 के विद्यार्थियों को डेढ़ सौ ग्राम चावल की दर से 3 किलो चावल देना है.

इसे भी पढ़ेंः#CoronaCrisis पर सीएम हेमंत सोरेन के नेतृत्व में सर्वदलीय बैठक, बढ़ सकती है लॉकडाउन की अवधि

adv
advt
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button