न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

GDP ग्रोथ रेट में गिरावट के बाद प्रियंका का आरोप, कहा- अपनी नाकामी के कारण BJP ने अर्थव्यवस्था बर्बाद कर दी

836

New Delhi: मोदी सरकार को एक बार फिर से आर्थिक मोर्चे पर झटका लगा है. चालू वित्त वर्ष (2019-20) की दूसरी तिमाही में सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) की वृद्धि दर 4.5 प्रतिशत रह गयी है. 

इसे लेकर विपक्ष को मोदी सरकार पर हमला करने का मौका मिल गया है. इसी क्रम में कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने जीडीपी विकास दर में गिरावट को लेकर शनिवार को आरोप लगाया कि सरकार ने अपनी नाकामी के चलते अर्थव्यवस्था को बर्बाद कर दिया.

Aqua Spa Salon 5/02/2020

इसे भी पढ़ें- #JharkhandElection: सुबह 9 बजे तक राज्य में 11.02 फीसदी मतदान, सबसे ज्यादा लातेहार में 13.23% वोटिंग

क्या कहा प्रियंका ने

प्रियंका ने ट्वीट कर कहा कि वादा तेरा वादा…2 करोड़ रोजगार हर साल, फसल का दोगुना दाम, अच्छे दिन आएंगे, मेक इन इंडिया होगा, अर्थव्यवस्था पांच हजार अरब डॉलर की होगी. क्या किसी वादे पर हिसाब मिलेगा?

प्रियंका ने दावा किया कि आज जीडीपी विकास दर 4.5 फीसदी हो गयी है. जो दिखाता है सारे वादे झूठे हैं. तरक्की की चाह रखने वाले भारत और उसकी अर्थव्यवस्था को भाजपा सरकार ने अपनी नाकामी के चलते बर्बाद कर दिया है.

इसे भी पढ़ें- #JharkhandElection: सरयू राय ने बताया आखिर क्यों जरूरी हो गया था रघुवर दास के खिलाफ चुनाव लड़ना

4.5 प्रतिशत रह गयी है जीडीपी

गौरतलब है कि देश में विनिर्माण क्षेत्र में गिरावट और कृषि क्षेत्र में पिछले साल के मुकाबले कमजोर प्रदर्शन से चालू वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही में सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) की वृद्धि दर 4.5 प्रतिशत रह गयी है.

गौरतलब है कि यह करीब छह सालों  में किसी एक तिमाही की सबसे बड़ी गिरावट है. इससे पहले 2013 के मार्च महीने की तिमाही में देश की जीडीपी दर इस स्‍तर पर थी.

Related Posts

#Delhi_ Violence : जांच के लिए दो एसआइटी का गठन,  आप पार्षद ताहिर हुसैन पर एफआइआर दर्ज, फैक्ट्री सील

दिल्ली हिंसा की जांच के लिए विशेष जांच टीम (एसआईटी) का गठन किया गया है.  दिल्ली पुलिस क्राइम ब्रांच के तहत दो एसआईटी का गठन किया गया है.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like