न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

प्रधानमंत्री मोदी रात आठ बजे  देश के नाम संदेश देंगे, कश्मीर को लेकर बड़ा ऐलान कर सकते हैं

 पीएम मोदी कश्मीरवासियों को आश्वस्त कर सकते हैं कि सरकार समेत पूरा देश उनके साथ खड़ा है.

150

NewDelhi : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज रात आठ बजे  देश के नाम संदेश देंगे.  खबर है कि अपने रेडियो संदेश  में प्रधानमंत्री मोदी जम्मू-कश्मीर के विशेष दर्जे को खत्म करने और इसे दो केंद्र शासित क्षेत्रों में  बदलने के फैसले पर बात करेंगे. कहा जा रहा है कि पीएम मोदी कश्मीर को लेकर कोई बड़ा ऐलान भी कर सकते हैं.   पीएम मोदी कश्मीरवासियों को आश्वस्त कर सकते हैं कि सरकार समेत पूरा देश उनके साथ खड़ा है. कहा जा रहा है कि प्रधानमंत्री कश्मीरवासियों से अपील करेंगे कि वे आतंकवाद मुक्त एक बेहतर और नया कश्मीर बनाने में सरकार की मदद करें.

जान लें कि पीएम मोदी ने नोटबंदी का ऐलान भी आठ नवंबर 2016 को रात आठ बजे  किया था. सूत्रों के अनुसार प्रधानमंत्री को सात अगस्त को ही देश को संबोधित करना था लेकिन  पूर्व केंद्रीय विदेश मंत्री सुषमा स्वराज के निधन की वजह से इसे स्थगित कर दिया गया.

Aqua Spa Salon 5/02/2020
Related Posts

 #CAA Violence : CAA  समर्थकों और विरोधियों की दिल्ली के कई स्थानों में भिड़ंत, पथराव, फायरिंग, अलीगढ़ में 24 घंटों के लिए इंटरनेट सेवा बंद

नागरिकता कानून को लेकर चल रहा विरोध प्रदर्शन रविवार को हिंसक हो गया. दिल्ली और अलीगढ़ में भारी हिंसा होने की खबर मिली है.

प्रधानमंत्री मोदी का राष्ट्र के नाम यह संबोधन ऐसे समय में हो रहा है, जब स्वतंत्रता दिवस पर लाल किले की प्राचीर से राष्ट्र के उनके औपचारिक संबोधन में कुछ ही दिन बचे हैं. पीएम ने अंतिम बार देश को लोकसभा चुनाव से पहले 27 मार्च को ऐंटी-सैटलाइट मिसाइल द्वारा एक लाइव सैटलाइट को मार गिराने की क्षमता की घोषणा करते हुए राष्ट्र को संबोधित किया था.   संसद ने पांच अगस्त को संविधान के अनुच्छेद 370 के ज्यादातर प्रावधानों को खत्म करते हुए जम्मू-कश्मीर के विशेष दर्जे को खत्म कर दिया.  इसके अलावा जम्मू-कश्मीर और लद्दाख को दो अलग-अलग केंद्र शासित क्षेत्र बनाने वाला विधेयक भी पारित हो गया.

 घाटी में भारी संख्या में  सुरक्षाबलों की तैनाती

संविधान के आर्टिकल 370 के कारण जम्मू-कश्मीर को विशेष राज्य का दर्जा मिला हुआ था. आर्टिकल 370 और 35ए के चलते जम्मू-कश्मीर के नागरिकों को भारत के निवासियों की अपेक्षा अलग अधिकार मिले हुए थे. मोदी सरकार के इस कदम का कांग्रेस सहित कई विपक्षी दलों ने विरोध किया है. नयी व्यवस्था लागू कराने के लिए जम्मू-कश्मीर में भारी मात्रा में सुरक्षाबलों की तैनाती की गयी है. खुद NSA अजीत डोभाल घाटी में पहुंचे हुए हैं और सुरक्षा व्यवस्था को सुनिश्चित कर रहे हैं.    

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like