Lead NewsNational

तूफान ‘ताउते’ को लेकर प्रधानमंत्री ने की महाराष्ट्र, गुजरात, गोवा के मुख्यमंत्रियों से चर्चा

New Delhi : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को चक्रवात ‘‘ताउते’’ के कारण तटीय राज्यों व केंद्र शासित प्रदेशों में उत्पन्न स्थिति के मद्देनजर महाराष्ट्र, गुजरात और गोवा के मुख्यमंत्रियों के अलावा दमन और दीव के उपराज्यपाल से चर्चा की और ताजा स्थिति की जानकारी ली. आधिकारिक सूत्रों ने यह जानकारी दी.

चक्रवाती तूफान ‘ताउते’ के गुजरात की ओर बढ़ने के बीच मुंबई और उसके आस-पास के इलाकों में सोमवार को बहुत तेज हवाओं के साथ बारिश हुई जिससे जगह जगह पेड़ उखड़ गये एवं ट्रेन सेवाएं बाधित हुईं. अधिकारियों ने यह जानकारी दी.

इसे भी पढें :उत्क्रमित उच्च विद्यालयों के शिक्षकों और कर्मियो के वेतन के लिए 700 करोड़ रुपये मुख्यमंत्री ने किये स्वीकृत 

बृहन्मुंबई महानगर निगम (बीएमसी) ने दोपहर को बताया कि भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने अगले कुछ घंटे के दौरान मूसलाधार वर्षा एवं 120 किलोमीटर प्रति घंटे तक की रफ्तार से हवा चलने की चेतावनी दी है.

फिलहाल मुंबई और उसके आस-पास के इलाकों में खूब वर्षा हो रही है एवं तेज आंधी चल रही है. आईएमडी ने इससे पहले बताया कि तूफान ‘ताउते’ विकराल चक्रवाती तूफान में बदल गया है.

आईएमडी के चक्रवात चेतावनी विभाग के अनुसार पूर्व मध्य अरब सागर के ऊपर बना अत्यधिक भीषण चक्रवाती तूफान ‘ताउते’ पिछले छह घंटों के दौरान लगभग 20 किमी प्रति घंटे की गति से उत्तर-उत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ा, और अब यह विकराल चक्रवाती तूफान में तब्दील हो गया है.

इसे भी पढें :मुख्यमंत्री विशेष छात्रवृति योजना के लिए 10 करोड़ रुपये स्वीकृत

इसके कारण अब 180-190 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चल रही हैं, जिसके 210 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार तक पहुंच जाने का अनुमान है. आईएमडी ने गुजरात और दीव तटों के लिए चक्रवात संबंधी और चेतावनी जारी की है.

निजी कम्पनी ‘स्काईमेट’ ने इसके गुजरात में महुवा और पोरबंदर क्षेत्र के बीच कहीं पहुंचने का अनुमान लगाया है, जो दीव के नजदीक है. उसने कहा कि आसपास के 100 किलोमीटर के क्षेत्र में इसका प्रभाव दिख सकता है.

ज्ञात हो कि इस चक्रवात से निपटने की तैयारियों का प्रधानमंत्री ने रविववार को एक उच्चस्तरीय बैठक में जायजा लिया था.  केंद्रीय गृह मंत्रालय सभी संबंधित राज्यों के संपर्क में है और स्थिति पर चौबीसों घंटे नजर रखे हुए है.

इसे भी पढें :झारखंड कांग्रेस के पूर्व सह प्रभारी उमंग सिंघार की गर्लफ्रेंड ने आखिर क्यों की खुदकुशी?

Related Articles

Back to top button