JharkhandLead NewsRanchiTOP SLIDER

President Election 2022: NDA नेताओं संग बैठीं द्रौपदी मुर्मू, विपक्ष से भी की मदद की अपील

Ranchi : भाजपा की ओर से राष्ट्रपति पद की प्रत्याशी बनायी गयी द्रौपदी मुर्मू सोमवार को रांची पहुंचीं. होटल बीएनआर में एनडीए (भाजपा और आजसू पार्टी) नेताओं संग बैठीं. इस दौरान उन्होंने एनडीए के सांसदों, विधायकों के अलावे राज्य के दूसरे दलों से भी सहयोग मांगा. झारखंड के साथ अपने विशेष लगाव को जताया. कहा कि उनके पूर्वज (दादी और अन्य) इसी राज्य की माटी से जुड़े रहे. फिर उन्हें भी इस प्रांत का राज्यपाल बनने का गौरव बनना हासिल हुआ. उन्हें पूरा भरोसा है कि इस राज्य के सभी दल उनका हाथ सबल करने को राष्ट्रपति चुनाव के दौरान उन्हें मदद करेंगे.

इससे पहले मंच पर उनका स्वागत करते हुए प्रदेश अध्यक्ष और सांसद दीपक प्रकाश ने द्रौपदी मुर्मू को बतौर राष्ट्रपति उम्मीदवार बनाये जाने को केंद्रीय नेतृत्व को धन्यवाद दिया. उम्मीद जताते हुए कहा कि द्रौपदी मुर्मू के राष्ट्रपति बनने से जनजाति समाज और झारखंड का भी देश दुनिया में मान बढ़ेगा.

उनके अलावे केंद्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा, अन्नपूर्णा देवी, पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष और पूर्व सीएम रघुवर दास, पूर्व सीएम बाबूलाल मरांडी, आजसू पार्टी प्रमुख और विधायक सुदेश महतो सहित अन्य नेताओं ने मोमेंटो, पुष्प गुच्छ देकर द्रौपदी मुर्मू का स्वागत किया.

होटल आने से पूर्व बिरसा मुंडा एयरपोर्ट, रांची पर उनका और केंद्रीय मंत्री अर्जुन राम मेघवाल तथा महाराष्ट्र की सांसद डॉ वीँणा का स्वागत अर्जुन मुंडा, दीपक प्रकाश सहित अन्य प्रमुख नेताओं ने किया. भाजपा एसटी मोर्चा की ओर से भी उनके स्वागत में ढोल नगाड़े बजाये गये.

इसे भी पढ़ें:नीतीश के करीबी आरसीपी सिंह ने भाजपा का थामा दामन

वोटिंग के लिए ट्रेनिंग

बैठक की समाप्ति के बाद सांसद वीडी राम ने मीडिया को बताया कि द्रौपदी मुर्मू ने इस राज्य से अपने जुड़ाव के बारे में अपने अनुभव साझा किया. सबों से मदद की अपील की है. पार्टी ने इस बात पर खुशी जतायी कि पूर्व में रामनाथ कोविंद और अब द्रौपदी मुर्मू जैसी नेत्री को इतने महत्वपूर्ण पद के लिए चुना गया. सांसद ने बताया कि 16 जुलाई को एनडीए के विधायकों को रांची में चुनाव संबंधी औपचारिक जानकारी दी जायेगी.

धनबाद सांसद पीएन सिंह ने कहा कि द्रौपदी मुर्मू अभी अलग अलग राज्यों का दौरा कर अपने लिए समर्थन मांग रहीं हैं. इस क्रम में उन्होंने झारखंड के नेताओं से भी मदद मांगी है. वे इस राज्य की निर्विवाद राज्यपाल रहीं हैं. पक्ष, विपक्ष सबों ने उनका सम्मान किया है. इस राज्य से 27 आदिवासी विधायक हैं. ऐसे में सबों से उम्मीद है कि पहली बार इतिहास रचने जा रही आदिवासी महिला को राष्ट्रपति पद पर बिठाने में सबों का सहयोग मिलेगा.

सांसद संजय सेठ ने मीडिया से बात करते हए कहा कि झारखंड की पूर्व राज्यपाल रहीं द्रौपदी मुर्मू का राष्ट्रपति बनना गौरवान्वित करने वाला पल होगा. शिक्षक से विधायक, मंत्री, राज्यपाल तक के पद को सुशोभित करने में उन्होंने उल्लेखनीय भूमिका निभाई है.

राष्ट्रपति पद के लिए पीएम मोदीजी ने जब उन पर भरोसा जताया था तो वो भावुक हो गई थीं. झामुमो से समर्थन की उम्मीद करते हुए संजय सेठ ने कहा कि सीएम हेमंत सोरेन ने अपने ट्वीट में सकारात्मक संदेश दिया है. उन्हें उम्मीद है कि झामुमो भी द्रौपदी मुर्मू के नाम पर सहमति दिखाएगा.

इसे भी पढ़ें:रांची में अवैध रूप से चल रहे बैंक्वेट और मैरेज हॉल, मात्र 38 ने लाइसेंस के लिए दिया आवेदन

झामुमो जल्द करे फैसला

सुदेश महतो ने मीडिया से कहा कि द्रौपदी मुर्मू जैसी सक्षम नेत्री के बारे में झामुमो जैसी पार्टी को जल्द से जल्द फैसला करना चाहिये. इसमें राजनीति और विलंब करना कहीं से ठीक नहीं. इस राज्य से उनके जुड़ाव और उनकी अहमियत को देखते हुए सबों को उनका साथ देना ही चाहिये. ओड़िसा के जिस हिस्से से वे हैं, वह वृहद झारखंड का हिस्सा रहा है.

इस राज्य में उन्होंने अपनी सेवाएं देते हुए छाप छोड़ी है. ऐसे में उनके नाम पर किसी को राजनीति नहीं करनी चाहिये. विधायक राज सिन्हा ने कहा कि द्रौपदी मुर्मू जैसी आदिवासी महिला का प्रत्याशी बनना खास है. झारखंड ही नहीं, यह देश के लिए भी विशिष्ट होगा.

उम्मीद है कि झामुमो भी द्रौपदी का सपोर्ट कर इतिहास बनाएगा. सांसद संजय सेठ, विधायक नीलकंठ मुंडा, अमर बाउरी समेत अन्य विधायकों ने भी उम्मीद जताते हुए झामुमो से अपील करते हुए कहा कि द्रौपदी का साथ देने को पार्टी आगे आये. इससे पार्टी एक शानदार राजनीतिक इतिहास का हिस्सा भी बनेगी.

इसे भी पढ़ें:धनबाद: मुख्यनमंत्री के कार्यक्रम में सख्ती, लोगों के काले कपड़े, छाते तक उतरवा लिए

इनकी रही उपस्थिति

सांसद पीएन सिंह, विद्युत वरण महतो, सुनील सोरेन, चंद्र प्रकाश चौधरी, वीडी राम, संजय सेठ आदित्य साहु. विधायकों में रामचंद्र चंद्रवंशी किशुन दास नारायण दास राज सिन्हा नवीन जायसवाल, जय प्रकाश भाई पटेल, कुशवाहा शिवपूजन मेहता, लंबोदर महतो, नीलकंठ मुंडा, भानू प्रताप शाही, रणधीर सिंह, ढुलू महतो, अपर्णा सेन, नीरा यादव, सीपी सिंह, अनंत ओझा, समरी लाल, केदार हाजरा, अमित मंडल व अन्य.

निर्दलीय विधायक अमित यादव भी इस दौरान उपस्थित रहे. इसके अलावा पार्टी के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष और सांसद डॉ रविंद्र कुमार राय, दिनेशानंद गोस्वामी के अलावा पार्टी के कई प्रदेश पदाधिकारी भी उपस्थित रहे.

इसे भी पढ़ें:कोरोना से रांची में एक की मौत, डीसी ने कहा- सतर्क रहें, गाइडलाइंस का करें पालन

झामुमो से सपोर्ट मांगेंगी द्रौपदी मुर्मू

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार द्रौपदी मुर्मू आज ही झामुमो प्रमुख और सांसद शिबू सोरेन से मुलाकात कर अपने लिए समर्थन मांग सकती हैं.

गौरतलब है कि अब तक झामुमो ने राष्ट्रपति पद के लिए किसी प्रत्याशी के नाम पर अपने समर्थन का पत्ता नहीं खोला है. पिछले दिनों सीएम हेमंत सोरेन की गृह मंत्री अमित शाह से मुलाकात के बाद चर्चा है कि झामुमो भी द्रौपदी के नाम पर अपनी सहमति दे सकता है.

इसे भी पढ़ें:नागालैंड में होने वाले विधानसभा चुनाव में अकेले दम दिखाएगी JDU, पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष ललन सिंह ने किया ऐलान

Related Articles

Back to top button