न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

छात्रों ने प्रस्तुति से बांधा समां, शास्त्रीय संगीत से लेकर बैंड तक की प्रस्तुति से झुमाया

बीआइटी में अनप्लग्ड कार्यक्रम का आयोजन

88

Ranchi : बीआइटी के म्यूजिक क्लब ध्वनि की ओर से अनप्लग्ड कार्यक्रम का आयोजन किया गया. कार्यक्रम का आयोजन देर शाम को किया गया. कार्यक्रम में छात्रों ने अपने संगीत से समा बांध दिया. कार्यक्रम में हर सत्र के छात्र शामिल हुए. जिसमें न सिर्फ हिंदी शास्त्रीय संगीत बल्कि हर तरह के गीत छात्रों ने प्रस्‍तुत किया. शास्त्रीय संगीत, गजल के साथ ही विद्यार्थियों ने रॉक बैंड की भी प्रस्तुति दी. जिसमें विद्यार्थियों को झूमते देखा गया. संगीत कार्यशाला के छात्रों ने हिंदी संगीत के विभिन्न सुर मिश्रण की अद्भुत प्रस्तुति दी. विद्यार्थियों को अधिक मस्ती बैंड कारवां के गीतों पर करते देखा गया. बैंड टीम के स्टेज पर आते ही छात्रों के पैर थिरकने लगे.

इसे भी पढ़ें – सीएनटी जमीन पर गलत कागजात के सहारे लोन देने वाले बैंक अधिकारियों पर सीबीआइ कर सकती है कार्रवाई

अकपेला गीत से हुई शुरुआत

कार्यक्रम की शुरुआत अकपेला गीत से हुई. जिसे यश गोयल और माधव कौन्तिय ने प्रस्तुत किया. गीत के अंत में अकपेला की जानकारी देते हुए उन्होंने कहा कि यह एक ऐसा संगीत का माध्यम है, जिसमें किसी वाद्ययंत्र का प्रयोग नहीं किया जाता. ऐसे में इसे संगीत का शुद्ध रूप कहा जा सकता है.

इसे भी पढ़ें – कांग्रेस ने कहा, पारा शिक्षकों की मांग जायज, 19 को पार्टी करेगी धरना-प्रदर्शन

गजलों ने किया भाव विभोर

अरूणजीत के समूह ने इस दौरान गजल प्रस्तुत किया. कल चौदहवीं की रात थी… गजल के शुरू होते ही छात्रों को मंत्र मुग्ध देखा गया. इसके साथ ही इनकी टीम ने अन्य गजल भी प्रस्तुत किये. नंदिनी और उनके टीम की ओर से कई बॉलीवुड गीत प्रस्तुत किये गये. जिसने छात्रों को झूमने पर मजबूर कर दिया.

इसे भी पढ़ें – NEWS WING IMPACT: निगम ने डीजल चोरी की जांच के लिए बनाई 22 सदस्यीय कमेटी

शास्त्रीय संगीत भी किये गये प्रस्तुत

शास्त्रीय संगीत ने छात्रों को एक सुर में बांध दिया. ध्वनि क्लब के सदस्यों ने भीमा पाल्सी राग प्रस्तुत किया. छात्रों ने एक सुर और एक राग में एक साथ प्रस्तुती दी. जिससे पूरा समारोह स्थल गूंज उठा.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed.

%d bloggers like this: