न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

चडरी तालाब में छठव्रतियों को मां गंगा का अनुभव कराने की तैयारी

पटना गंगा घाट से मंगाया जा रहा 40 हजार लीटर गंगाजल

18

Ranchi : छठव्रतियों के लिए चडरी तालाब सज-धजकर तैयार है. तालाब में आनेवाले छठव्रतियों के लिए विशेष व्यवस्था की गयी है. तालाब की सफाई लगातार जारी है, साथ ही तालाब के चारों ओर रंगीन विद्युत की आकर्षक सजावट भी की जा रही है. छठ महापर्व को लेकर रविवार को चडरी सरना समिति के सदस्यों ने बैठक की. इसमें महापर्व को लेकर तैयारियों की समीक्षा की गयी. मुख्य संरक्षक जितेंद्र सिंह, अध्यक्ष बबलू मुंडा और महासचिव रवि मुंडा ने तैयारियों के संबंध में बताया कि इस बार छठव्रती यहां मां गंगा का अनुभव करेंगे. इसके लिए पटना स्थित गंगा घाट से 40 हजार लीटर गंगाजल मंगवाया जा रहा है, जो छठव्रतियों के बीच अर्घ्य के लिए वितरित किया जायेगा. समिति का यह प्रयास होगा कि छठव्रती मां गंगा का अनुभव करें तथा भयमुक्त वातावरण में पूजा करें. इसके अलावा इस स्थान पर भगवान भास्कर की विशाल प्रतिमा स्थापित की जायेगी, जहां छठव्रती अपने आराध्य देव के दर्शन एवं पूजन कर सकेंगे.

इसे भी पढ़ें- छठ घाट निरीक्षण को पहुंचे सीपी सिंह, कहा तालाब को तालाब ही रहने दें, एक इंच भी न करें छोटा 

14 नवंबर को धूमधाम से मनेगा जतरा

चडरी सरना समिति की बैठक में जतरा महोत्सव पर चर्चा की गयी. इसमें निर्णय लिया गया कि छठ महापर्व के दूसरे दिन, यानी 14 नवंबर को प्रत्येक वर्ष की तरह इस बार भी जतरा महोत्सव का आयोजन किया जायेगा. बबलू मुंडा ने बताया कि जतरा महोत्सव के उपलक्ष्य पर रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन होगा. वहीं, 15 नवंबर को भगवान भास्कर का महाभंडारा होगा, जिसमें हजारों की संख्या में लोग प्रसाद ग्रहण करेंगे. बबलू मुंडा ने प्रशासन से मांग करते हुए कहा कि छठ महापर्व को देखते हुए विशेष सुरक्षा व्यवस्था उपलब्ध करायी जाये. साथ ही, पर्याप्त संख्या में एनडीआरएफ टीम के सदस्यों की भी तैनाती की जाये. बैठक में मुख्य रूप से छठ पूजा समिति के अध्यक्ष सबलू मुंडा, समाजसेवी जय सिंह यादव, सुनील पांडेय, आचार्य शशिकांत मिश्रा व अन्य मौजूद थे.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

%d bloggers like this: