न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें
bharat_electronics

हजारीबाग में रामनवमी जुलूस को लेकर जिला प्रशासन की तैयारी पूरी

जुलूस में प्रशासन द्वारा जारी 100 गाने ही बजाने की अपील

877

Hazaribagh : रामनवमी जुलूस को शांतिपूर्ण और सौहार्दपूर्ण तरीके से संपन्न कराने के लिए जिला प्रशासन ने तैयारी पूरी कर ली है. संवेदनशील स्थलों को चिन्हित करते हुये त्रिस्तरीय निगरानी की व्यवस्था की गयी है.

mi banner add

पूरे जुलूस की निगरानी ड्रोन कैमरे और सीसीटीवी कैमरों की से जायेगी. इसके अलावे संवेदनशील इलाकों में सादे ड्रेस में सीआइडी के लोगों को लगाया जा रहा है जो भीड़ का हिस्सा बनकर अपने तरीके से विधि-व्यवस्था कार्य में मदद पहुंचायेंगे.

इसे भी पढ़ें :लोकसभा चुनाव में टीवी चैनलों का मिजाज बिगड़ा, राजनीतिक दलों से नहीं मिल रहे विज्ञापन

25 एलइडी टीवी लगाये गये 

जानकारी के मुताबिक इसके लिये राज्य पुलिस मुख्यालय से जिले को सौ से स्पेशल अधिकारी दिये हैं. इनके अलावे सीआइडी, विशेष शाखा, एसीबी के लोग भी रहेंगे.

इधर सुरक्षा के लिए अस्थाई तौर पर शहर में 250 सीसीटीवी कैमरे के अलावा 210 एडिशनल सीसीटीवी कैमरा शहर के हर एक गली मोहल्लों में लगाया गया है. स्थाई कैमरे कंट्रोल रूम से नियंत्रित हैं जबकि एडिशनल कैमरे को रामनवमी को लेकर बने मंच से जोड़ा गया है.

साथ ही स्थाई कैमरे को भी मंच से कनेक्ट किया गया है. शहर के हर एक मार्ग व गलियों में हरे गतिविधियों पर नजर रखने के लिए इस बार मंच पर 25 एलइडी लगाये गये हैं, जिस पर शहर की हर एक गतिविधियां देखा जा सकेगा.

इसे भी पढ़ें झारखंड : पिछले 60 दिनों में हुई 303 हत्या और 226 दुष्कर्म की घटनाएं

होटलों और आने-जानेवाले वाहनों पर नजर

डीसी रवि शंकर शुक्ला और एसपी मयूर पटेल के द्वारा जो संयुक्त आदेश रामनवमी को लेकर निकाला गया है, उसमें रामनवमी रूट, शहर और जिले के संवेदनशील स्थलों, एक हजार से अधिक दंडाधिकारियों, पुलिस अधिकारियों की तैनाती, स्टेटिक और गश्ती दल का गठन और उनके एरिया का जिक्र है.

साथ ही 20 जोन में शहर को बांटकर फोर्स, दंडाधिकारी और निगरानी की फुल प्रुफ व्यवस्था की गयी है. होटलों और आने-जानेवाले वाहनों पर नजर के अलावे वाहनों की चेकिंग भी शुरू कर दी गयी है. इसके अलावे उपद्रवी तत्वों पर लगाम लगाने के लिये पहले से 6 सौ से अधिक लोगों पर धारा 07 के तहत नोटिस जारी किया गया है.

इसे भी पढ़ें : NEWSWING INTERVIEW: जगरनाथ ने चंद्रप्रकाश को दी नसीहत, कहा- रामगढ़ वापस जाना होगा (देखें पूरा…

रामनवमी को लेकर दिशा-निर्देश जारी 

हज़ारीबाग जिला दंडाधिकारी सह उपायुक्त ने दिशा-निर्देश जारी करते हुए 13, 14 व 15 अप्रैल तक के लिए सभी शराब दुकान बंद करने का निर्देश जारी किया है. वहीं 15 अप्रैल को सभी सिनेमा हॉल भी बंद रहने का निर्देश जारी किया है.

अब हंगामे की स्थिति में जिनके नाम से अनुज्ञप्ति निर्गत, उनकी जिम्मेवारी होगी और उनपर कार्रवाई होगी. जिला नियंत्रण कक्ष सक्रिय, अप्रिय स्थिति महसूस होने पर इस नंबर 8002529349 पर सूचना दें.

एम्बुलेंस, प्राणरक्षक दवाएं, जुलूस मार्ग की मरम्मती, निर्बाध बिजली, अग्निशामक वाहन, पानी टैंकर, सड़क मरम्मत आदि के विभागों को निर्देश दिये गये हैं. शराब की बिक्री और चुलाई की सूचना देने पर तत्काल कार्रवाई की जायेगी.

इसे भी पढ़ें रातू झड़प के बाद बढ़ायी गयी सुरक्षा, समझौते के लिए प्रशासन ने बुलायी बैठक

तैयारी में कोई कसर नहीं, 6 हजार पुलिस बल तैनात : एसपी

एसपी मयूर पटेल ने बताया है कि पुलिस की ओर से रामनवमी जुलूस संपन्न कराने के लिए तैयारी में कोई कोर कसर नहीं छोड़ी  गयी है. शहर में स्थाई या अस्थाई चार सौ से अधिक कैमरे लगाए गये हैं.

शहर के चप्पे-चप्पे पर हमारी नजर होगी. इसके लिए मंच पर भी पर्याप्त एलसीडी टीवी लगाये गये हैं. कंट्रोल रूम के स्क्रीन को लगातार एक्टिव मोड पर रखा गया है. सोशल मीडिया का दुरुपयोग से लोगों को बचने की अपील की गयी है.

वहीं एसपी मयूर पटेल ने लोगों से अपील की है कि अफवाहों पर ध्यान ना दें. लोग सौहार्दपूर्ण माहौल में रामनवमी बनायें. आचार संहिता के नियमों का पालन करें.

इसे भी पढ़ें रांची नगर निगम में टाउन प्लानर की कमी, सिर्फ एक के भरोसे ही चल रहा काम  

दो दिनों तक सदर अस्पताल अलर्ट पर 

रामनवमी को लेकर स्वास्थ्य विभाग के सदर अस्पताल प्रबंधन में व्यापक तैयारी की गयी है. उपायुक्त रविशंकर शुक्ला के निर्देश पर डीडीसी विजय यादव की निगरानी में हर साल की तरह इस बार भी सदर अस्पताल में घायलों के इलाज के लिए पर्याप्त व्यवस्था की गयी है.

चिकित्सा व स्वास्थ्यकर्मियों को तीन शिफ्ट में ड्यूटी लगायी गयी है. जबकि इमरजेंसी के लिए 15 एम्बुलेंस उपलब्धत करायी गयी है. आपको बता दें कि पिछले वर्ष रामनवमी जुलुस में 1,667 लोग घायल हुए थे. जिनका इलाज सदर अस्पताल में हुआ था, जबकि 100 से अधिक को बेहतर इलाज के लिए रांची रेफर किया गया था.

इसे भी पढ़ें :धनबाद : नाबालिग से अश्लील हरकत करने के आरोप में हिरासत में DSP, भेजे जाएंगे जेल

जुलूस में शामिल अखाड़े धारियों को भी निर्देश

जिला प्रशासन की ओर से अखाड़ा समितियों को दो हजार गमछा, टी-शर्ट और लाठी दी गयी है. इसके अलावा आई-कार्ड भी पुलिस विभाग की ओर से अखाड़ा समिति के लोगों को दिया गया है. जुलूस में प्रशासन द्वारा जारी 100 गाने ही बजाने की अपील की गयी है.

इसके अलावा कोई अन्य गाना जुलूस में नहीं बजाया जायेगा. एसपी ने अखाड़ा समिति के दायित्व व उनके कार्य के बारे में बताते हुए निर्धारित और तय समय में जुलूस को पार कराने और निकालने की बात कहीं. लोगों से आग्रह करते हुए एसडीएम मेघा भारद्वाज ने बताया कि थाना से लेकर प्रखंड और अनुमंडल स्तर पर बैठकर रामनवमी को लेकर की जा रही तैयारी समेत कई विषयों की जानकारी दी.

इसे भी पढ़ें :चंद्रपुराः छुट्टी नहीं मिलने से नाराज लोको पायलट ने किया आत्महत्या का प्रयास,  इंचार्ज पर भी किरोसिन…

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

dav_add
You might also like
addionm
%d bloggers like this: