JamshedpurJharkhand

सावधान! जनवरी के अंतिम सप्ताह में पीक पर रहेगा कोरोना, बुखार और नाक से पानी आये, तो हो जायें आइसोलेट

टाटा स्टील के स्वास्थ्य सलाहकार डॉ राजन चौधरी ने कहा - जमशेदपुर के लोग टीएमएच के डॉक्टरों से ऑनलाइन कंसलटेशन ले यसकते हैं

Jamshedpur : ओमीक्रॉन तेजी से फैलता और संक्रमित करता है. ऐसे में किसी को कोई लक्षण दिखें, तो वे अपने आप को परिजनों से अलग करके 7 दिन के लिए आइसोलेट हो जायें. टाटा स्टील मेडिकल सर्विसेज के सलाहकार डॉ राजन चौधरी ने शुक्रवार शाम टेली कॉन्फ्रेंसिंग में यह बात कही. डॉ राजन चौधरी ने बताया कि जनवरी के अंतिम सप्ताह में कोरोना संक्रमण पीक पर रहेगा. उन्होंने बताया कि बुखार है और नाक से पानी बह रहा है, तो स्वयं को आइसोलेट कर जांच करायें. उन्होंने पॉजिटिव होने पर पेरासिटामोल 500, बी कांप्लेक्स, विटामिन सी के लिए जेबिट 500  या जिंक और नाक से पानी आने पर सेट्रीजिन या एलेगरा जैसी दवा लेने की सलाह दी. डॉ राजेंद्र चौधरी ने कोविड गाइ़डलाइन का पालन करने, मास्क लगाने और सोशल डिस्टेंसिंग रखने और संक्रमण से बचने के लिए यात्रा करने से परहेज करने की सलाह दी. उन्होंने कहा कि घर से बाहर न जायें,  समूह में मीटिंग न करें. बचाव ही तीसरी लहर में प्रमुख उपाय है.

चार गुना तेजी से बढ़ रहा है संक्रमण

उन्होंने कहा कि शहर में 4 गुना तेजी से संक्रमितों की संख्या बढ़ रही है. पिछले सप्ताह टाटा मेन अस्पताल में 46 केस थे. इस सप्ताह 168 हो गये.  जनवरी माह के अंत में संक्रमण चरम पर होगा. टीएमएच में अब तक 42 डॉक्टर संक्रमित हो चुके हैं. 9 डॉक्टरों के परिवार में लोग संक्रमित हैं. 72 नर्सें संक्रमित हैं और 17 नर्स ऐसी हैं, जिनके परिवार में कोई न कोई संक्रमित है. इस कारण वे ड्यूटी पर नहीं आ रही हैं. टीएमएच में कोरोना संक्रमण से 4 लोगों की मौत हुई है. हालांकि उन्हें अन्य बीमारियां भी थीं. टीएमएच में अभी कुल 151 एक्टिव केस हैं. फिलहाल 4 मरीज वेंटिलेटर पर हैं जबकि 20 को ऑक्सीजन पर रखा गया है.

Catalyst IAS
ram janam hospital

ओल्ड एनटीटीएफ में कोरोना जांच की सुविधा

The Royal’s
Pushpanjali
Pitambara
Sanjeevani

शनिवार से बिष्टुपुर स्थित सेफ्टी एक्सीलेंस सेंटर (ओल्ड एनटीटीएफ) में कोरोना जांच की सुविधा मिलेगी. इसका लाभ उठाने के लिए टीएमएच विश्वास ऐप में जाकर पंजीयन कराना होगा. स्लॉट बुक करा कर कोई भी आरटीपीसीआर या रैट टेस्ट करा सकता है. गैर कर्मचारी रोगियों को भुगतान के आधार पर और पात्र रोगियों के लिए फ्री परीक्षण की सुविधा उपलब्ध होगी. सेफ्टी एक्सीलेंस सेंटर (ओल्ड एनटीटीएफ) और टीएमएच पैथोलॉजी में टेस्टिंग सिर्फ उन्हीं लोगों की होगी, जो टीएमएच विश्वास एप या पोर्टल पर अपने स्लॉट बुक करेंगे. टीएमएच प्रबंधन ने आरटी पीसीआर और रैट टेस्टिंग  की सुविधा को बढ़ाने का फैसला किया है.

घर का भोजन सबसे अच्छा

डॉ चौधरी ने बताया कि घर का खाना सबसे अच्छा है,. कोरोना संक्रमण के दौरान खान-पान पर विशेष ध्यान देने की जरूरत है. घर में ही संतुलित खाना खायें. बाहर का खाना नहीं खायें. दाल, सब्जी, रोटी, गरम पानी, जूस और सूप का सेवन करें. उन्होंने बीमार लोगों से विशेष सावधानी बरतने को कहा.

10 से मिलेगा बूस्टर डोज

10 जनवरी से स्वास्थ्य कर्मचारियों एवं फ्रंटलाइन वर्करों को बूस्टर डोज दिया जाएगा, जबकि 60 वर्ष से अधिक उम्र वाले लोग, जिनका डबल डोज के लिए 39 सप्ताह पूरा हो चुका है, उन्हें बूस्टर डोज दिया जाएगा कदमा के कुड़ी मेमोरियल हॉल में टीकाकरण होगा.

2500 सैंपल में कोई भी ओमिक्रॉन का नहीं

डॉ चौधरी ने बताया कि टीएमएच से जिनोम सीक्वेंसिंग के लिए 25 सौ से अधिक सैंपल भुवनेश्वर भेजे गये थे, लेकिन उनकी ओमीक्रॉन रिपोर्ट नेगेटिव आयी है. सभी पॉजिटिव रिपोर्ट डेल्टा वेरिएंट की है. हम ओमीक्रोन को ध्यान में रखकर ही तैयारी कर रहे हैं. डेल्टा के मुकाबले नया वेरिएंट ज्यादा गंभीर नहीं है, लेकिन भविष्य में देखना होगा कि किस तरह से अपना स्वरूप बदलता है.

इसे भी पढ़ें – रांची : पुलिस ने पीएलएफआई संगठन के तीन सहयोगियों को गिरफ्तार कर भेजा जेल

Related Articles

Back to top button