न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

प्रतिभा के धनी हरिवंश जी से सांसदों को सीखने का मौका मिलेगा : पीएम मोदी

धानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वरिष्ठ पत्रकार व जदयू सांसद हरिवंश के राज्यसभा का उपसभापति चुने जाने पर उन्हें बधाई दी

392

NewDelhi : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वरिष्ठ पत्रकार व जदयू सांसद हरिवंश के राज्यसभा का उपसभापति चुने जाने पर उन्हें बधाई दी व जमकर उनकी तारीफ की. हरिवंश की पत्रकारिता को याद करते हुए उन्हें कलम की प्रतिभा के धनी बताते हुए कहा कि हरिवंश जी से सभी सांसदों को सीखने का मौका मिलेगा. साथ ही पीएम ने सभी सदस्यों को भी नये उपसभापति के चुनाव के लिए बधाई दी. इस क्रम में संसदीय गरिमा के पालन के लिए विपक्ष के उम्मीदवार बीके हरिप्रसाद का भी आभार जताया. पीएम मोदी ने कहा कि आज भारत छोड़ो आंदोलन की वर्षगांठ भी है. सभी जानते हैं कि आजादी के आंदोलन में बलिया की भूमि का अहम योगदान रहा है.

हरिवंश जी कलम की प्रतिभा के धनी हैं और बलिया के हैं. पीएम ने नये उपसभापति हरिवंश की पत्रकारिता की सराहना करते हुए कहा कि हैदराबाद, कोलकाता जैसे बड़े शहरों की चकाचौंध छोड़कर उस समय संयुक्त बिहार और अब के झारखंड में उन्होंने लौटने का फैसला किया.

Aqua Spa Salon 5/02/2020

इसे भी पढ़ेंः125 वोटों के साथ हरिवंश बने उपसभापति, हरिप्रसाद को मिले 105 वोट

चंद्रशेखर जी के इस्तीफे की भनक नहीं लगने दी

पीएम ने याद करते हुए कहा कि हम जानते हैं कि एसपी सिंह के साथ उन्होंने काम किया, धर्मयुग में भारती जी के साथ बतौर ट्रेनी काम किया.  कहा कि दिल्ली में चंद्रशेखर जी के चहेते थे. पूर्व पीएम चंद्रशेखर जी के साथ उस पद पर थे जहां सब जानकारी उन्हें थी. चंद्रशेखर जी इस्तीफा देने वाले थे, यह बात उनको पहले से पता थी. पत्रकारिता की दुनिया से जुड़े थे लेकिन खुद के अखबार को भी भनक नहीं लगने दी कि चंद्रशेखर जी इस्तीफा देने वाले हैं. उन्होंने पद की गरिमा बनाये रखी.

इसे भी पढ़ेंःहॉरर किलिंग ! दलित से शादी करने वाली लड़की और सुरक्षा में लगे सब इंस्पेक्टर की हत्या

खिलाड़ियों से ज्यादा अंपायर परेशान रहते हैं

हरिवंश के संघर्ष का जिक्र करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि सदन की अपनी चुनौती होती है. यहां खिलाड़ियों से ज्यादा अंपायर परेशान रहते हैं. नियमों में खेलने के लिए सांसदों को मजबूर करना चुनौतीपूर्ण काम है. पीएम ने उपसभापति हरिवंश की पत्नी का जिक्र करते हुए कहा, हरिवंश जी की पत्नी आशा जी चंपारण से हैं. उन्होंने राजनीति विज्ञान में एमए किया है. उनके एकेडमिक नॉलेज से आपको मदद मिलेगी.

इसे भी पढ़ें- नेतरहाट एवं इंदिरा गांधी आवासीय विद्यालय होगा सीबीएसई, राज्य के हर पंचायत में प्लस टू स्कूल खोलेगी सरकार

Gupta Jewellers 20-02 to 25-02

अब सदन का मंत्र बन जायेगा हरिकृपा

आज पीएम मोदी ने अपनी  भाषण शैली का राज्यसभा सदस़्यों को कायल कर दिया. उन्होंने कहा, अब सदन का मंत्र बन जायेगा हरिकृपा. अब सब कुछ हरि भरोसे. हमें विश्वास है कि सभी सांसदों पर हरिकृपा बनी रहेगी. इस चुनाव में दोनों तरफ हरि थे. मैं बीके हरिप्रसाद जी को भी लोकतंत्र की गरिमा के सम्मान के लिए बधाई देना चाहूंगा.

इसे भी पढ़ें- यशवंत,शौरी व प्रशांत ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा, राफेल डील आजाद भारत का सबसे बड़ा घोटाला

हरिवंश जी ने प्रभात खबर में खुद को खपा दिया

पीएम ने कहा कि रांची में जब हरिवंश जी गये तो प्रभात खबर का सर्कुलेशन 400 था. कहा कि वे बैंक में थे,  प्रतिभावान थे, लेकिन 400 सर्कुलेशन वाले अखबार में खुद को खपा दिया. मैं मानता हूं कि हरिवंश जी का सबसे बड़ा योगदान होगा कि उन्होंने जन आंदोलनों को आगे बढ़ाया. परमवीर अल्बर्ट एक्का शहीद हुए थे तो उनकी पत्नी बेहाल जिंदगी गुजार रही थी. हरिवंश जी ने जिम्मा लिया कि लोगों से धन इकट्ठा किया और चार लाख रुपए जमा  कर शहीद की पत्नी को पहुंचा आये. यह भी बताया कि दशरथ मांझी को खोजकर उनकी कथा प्रकाशित करने का जिम्मा भी हरिवंश जी ने ही उठाया था.

राज्यसभा में विपक्ष के नेता गुलाम नबी आजाद ने कहा कि हरिवंश जी पहले एनडीए के प्रत्याशी थे, लेकिन चुनाव जीतने और उपसभापति बनने के बाद यह पूरे सदन के हो गये हैं. वह अपना काम अच्छे से करें, हमारी शुभकामनाएं उनके साथ हैं.उम्मीद जताई कि एक पत्रकार के उपसभापति बनने से मीडिया में सदन की कार्यवाही की खबरें ज्यादा आयेंगी.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like