न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

प्रदीप यादव के ऊपर लगे यौन उत्पीड़न के आरोप की जांच हुई तेज, फॉरेंसिक टीम पहुंची शिव सृष्टि होटल

494

Deoghar: झाविमो के महासचिव और गोड्डा से महागठबंधन के प्रत्याशी प्रदीप यादव के ऊपर लगे यौन उत्पीड़न के आरोप के मामले में देवघर पुलिस ने अपनी जांच तेज कर दी है. एसडीपीओ विकास चंद्र श्रीवास्तव के नेतृत्व में जांच के लिए फॉरेंसिक टीम शिव सृष्टि होटल पहुंची. फॉरेंसिक टीम विभिन्‍न पहलुओं पर जांच कर साक्ष्‍य जुटाने में लगी है. बता दें कि जेवीएम महासचिव प्रदीप यादव पर उनकी ही पार्टी की एक वरीय महिला पदाधिकारी ने यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया है. महिला रांची की रहनेवाली है और उसने 20 अप्रैल की रात हुई घटना को लेकर देवघर महिला थाना में 3 मई को मामला दर्ज कराया था.

इसे भी पढ़ें – ICSE का परिणाम निकला: रचा इतिहास 12वीं में देवांग और विभा ने लाये 100 फीसदी नंबर  

पार्टी की रैली में शामिल होने मनोहरपुर गयी थी पीड़ित महिला

पीड़ित महिला के द्वारा महिला थाना में दिये आवेदन के अनुसार महिला पार्टी के रैली कार्यक्रम में शामिल होने रांची से मनोहरपुर गयी थी जहां बाबूलाल मरांडी, हेमंत सोरेन, प्रदीप यादव के साथ कार्यक्रम में मंचासीन थी. पार्टी की रैली खत्म होने के बाद महिला मनोहरपुर में ही अपनी मौसी के घर रुक गई. करीब शाम के 6:30 बजे प्रदीप यादव के फोन नंबर 7903295383 से महिला के नंबर पर फोन आया और बोला गया कि आप 8:00 बजे तक शिव सृष्टि पैलेस देवघर आ जाइये, एक मीटिंग है. संसदीय क्षेत्र के कुछ कामों के बारे में आपसे मिल कर चर्चा करेंगे और टीम के लोगों से भी आपको मिलवा दूंगा.

इसे भी पढ़ें – 10 माह बाद भी निगम लागू नहीं करा सका है 0n street और Off street पार्किंग पॉलिसी

प्रदीप यादव के बुलाने पर होटल पहुंची महिला

प्रदीप यादव के बुलाने पर रात के करीब 8:00 बजे मनोहरपुर से महिला अपने कार ड्राइवर शशिकांत के साथ रात  करीब 8:30 बजे शिव सृष्टि पैलेस देवघर पहुंचने के बाद महिला ने वहां प्रदीप यादव को नहीं देखा तो उसने प्रदीप यादव को फोन करके पूछा कि आप तो यहां नहीं हैं न ही पार्टी के कार्यकर्ता यहां दिख रहे हैं. तब प्रदीप यादव बोले हम लोग बगल के ही प्रोग्राम में आये हैं. आप हमको रिसेप्शन से बात करा दीजिए. उनके कहने पर महिला ने रिसेप्शन पर बैठी लड़की को फोन दे दिया. बात हो जाने के बाद महिला को एक रजिस्टर में एंट्री करने के लिए रिसेप्शनिस्ट द्वारा कहा गया और आइडी मांग कर महिला को कमरा नंबर 202 में प्रदीप यादव का इंतजार करने की बात कही गयी.

इसे भी पढ़ें – संथालपरगना में है भाजपा की नजर, झामुमो का है मजबूत आधार

रात के 9:20 में अकेले होटल के कमरे में पहुंचे प्रदीप यादव

रात के करीब 9:20 में प्रदीप यादव होटल के कमरे में अकेले पहुंचे और जब महिला ने उनसे पूछा और लोग कहां हैं, मैं बहुत देर से इंतजार कर रही थी. आपके पास समय नहीं था तो कल सुबह बुला लेते. महिला की बात सुनते ही प्रदीप यादव बोले आप घबराइए मत सभी लोग नीचे हैं, थोड़ी देर हो गई तो उनकी बातों को सुनकर महिला बोली फिर नीचे ही चलते हैं और जैसे ही महिला नीचे जाने को खड़ी हुई तो प्रदीप यादव बोले आप को समझाना है. 2 मिनट बैठ कर मेरी बात सुन लीजिए. उनके कहने पर महिला बैठ गई और प्रदीप यादव बोले यह चुनाव में भारी मतों से जीत रहा हूं, इसका लाभ आप सबको मिलेगा और अचानक प्रदीप यादव ने महिला का हाथ पकड़ लिया था.

इसे भी पढ़ें – आनेवाले पांच दिनों में दो से तीन डिग्री बढ़ेगा तापमान, मेदिनीनगर में तापमान 42 डिग्री सेल्सियस होने की संभावना

महिला का हाथ पकड़ कर अपनी ओर खींचने लगे थे प्रदीप यादव

महिला के द्वारा दर्ज करायी गयी शिकायत के अनुसार प्रदीप यादव महिला का हाथ पकड़ कर अपनी ओर खींचने लगे थे. यह देख कर महिला विरोध करने लगी, जिसके बाद भी प्रदीप यादव उन्हें नहीं छोड़ रहे थे. जोर से चिल्ला कर बोली आप क्या कर रहे हैं. महिला के कपड़े को इधर-उधर खींचने लगे. वह पूरी तरह से अभद्र व्यवहार करने लगे थे. यह सब देखकर महिला को समझ में नहीं आ रहा था क्या करे. तो जोर से चिल्लाना शुरू कर दिया. जिसके बाद प्रदीप यादव ने अमर्यादित शब्दों का प्रयोग करते हुए महिला के मुंह पर हाथ रख कर बेड पर धकेल दिया. जिसके बाद महिला ने प्रदीप यादव को अपने पैर से मारा तो प्रदीप यादव एक कोने में गिर गये.

इसे भी पढ़ें – मई के दूसरे सप्ताह में निकालना था जैक को रिजल्ट, अब तक कोई तैयारी नहीं

जान से मार कर फेंक देने की दी थी धमकी

घटना के बाद महिला ने प्रदीप यादव से कहा- मैं आपके खिलाफ अभी थाना में शिकायत करूंगी, तो प्रदीप यादव ने धमकी देते हुए कहा कि चुप रहो नहीं तो जान से मरवा कर लिखवा दूंगा. कहीं चर्चा की तो पार्टी से निकाल दूंगा और कहते हुए टेबल पर रखे महिला के पर्स लेकर कमरे से निकल गये. महिला के पर्स में मेकअप के सामान के साथ-साथ 2 लाख रुपये भी थे, जिसे लेकर प्रदीप यादव भाग गये. उसके बाद प्रदीप यादव फोन पर बार-बार होटल के कमरे से निकलने की धमकी भी दे रहे थे.

इसे भी पढ़ें – झारखंड के साथ देश की बदल रही है तस्वीर : गडकरी

बाबूलाल मरांडी को व्हाट्सएप पर लिख कर सारी घटना की दी जानकारी

महिला के द्वारा दर्ज करायी गयी शिकायत के अनुसार 21 अप्रैल को सुबह के करीब 5:34 बजे महिला ने बाबूलाल मरांडी के व्हाट्सएप नंबर पर प्रदीप यादव के द्वारा किये गये घृणित काम की सारी जानकारी दी, परंतु इस परिस्थिति में बाबूलाल भी चुप हो गये और महिला की मदद के लिए सामने नहीं आये. काफी फोन और मैसेज करने के बाद बाबूलाल मरांडी चुप रहे या देखकर महिला और भी डर गई. उसके बाद भी प्रदीप यादव लगातार मैसेज कर महिला को डरा दे रहे थे और होटल के कमरे पर कई लोगों को भेज कर भी महिला को डराने का प्रयास किया गया.

इसे भी पढ़ें – केंद्र से 130 करोड़ मिले पर राज्य सरकार नहीं चालू करा पायी 13 एकलव्य मॉडल आवासीय विद्यालय

तलाब में फेंक देने की दी गयी धमकी

21 अप्रैल को सुबह के 5:30 बजे महिला होटल से निकल कर अपने ड्राइवर के साथ देवघर एसपी ऑफिस पहुंची तो महिला ने वहां देखी कि 5 लोग आये और बोले कि यहां से भाग जाइये नहीं तो तालाब में फेंक देंगे. तब महिला डर कर होटल आ गयी और अपने आप को रूम में बंद कर लिया. फिर दोबारा बाबूलाल मरांडी को मदद के लिए गुहार लगायी लेकिन उन्होंने एक नहीं सुनी. तब जाकर महिला 23 अप्रैल को सुबह सुबह देवघर से रांची आ गई. जिसके बाद महिला रांची कोर्ट में अपने परिचित लोगों से राय लेनी चाही, परंतु प्रदीप यादव फोन और मैसेज के माध्यम से लगातार महिला को प्रताड़ित करते रहे. काफी तंग आकर महिला ने 3 मई को देवघर महिला थाना में प्रदीप यादव के खिलाफ शिकायत दर्ज करवाया.

इसे भी पढ़ें – आचार संहिता उल्लंघन के मामले में अपर मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी ने ऊर्जा विभाग से मांगा जवाब

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like

you're currently offline

%d bloggers like this: