Ranchi

गर्मी से पहले राज्य में बिजली आपूर्ति लचरः  बढ़ी लोड शेडिंग, TTPS में भी बिजली उत्पादन है बाधित

Ranchi: गर्मी की दस्तक से पहले सूबे में बिजली व्यवस्था लचर नजर आ रही है. ग्रीड सब स्टेशनों में अपग्रेडेशन काम शुरू किया गया है. झारखंड उर्जा संचरण निगम लिमिटेड की ओर से राज्य के ग्रीड सब स्टेशनों में अपग्रेडेशन शुरू हो रहा है.

वहीं टीटीपीएस में बिजली उत्पादन पिछले कुछ दिनों से बाधित चल रहा है. 14 फरवरी के पहले भी टीटीपीएस की एक यूनिट से उत्पादन शून्य रहा. ऐसे में राज्य में आने वाले समय में बिजली समस्या बढ़ सकती है.

advt

इसे भी पढ़ेंःबकोरिया कांड: CBI की टीम पहुंची पलामू, मुठभेड़ में शामिल अधिकारियों से हो सकती है पूछताछ

पिछले कुछ सालों को देखें तो गर्मी में बिजली हमेशा बाधित रही है. गर्मी से पहले राज्य में लोड शेडिंग बढ़ गयी है. 14 फरवरी के बाद से देखें तो लोड शेडिंग में ज्यादा हो रही है.

14 फरवरी को शाम पांच बजे 34 मेगावाट लोड शेडिंग हुई. 15 फरवरी को सुबह नौ बजे 205 मेगावाट लोड शेडिंग, इस दिन शाम पांच बजे लोड शेडिंग नहीं की गयी. 16 फरवरी को 261 मेगावाट लोड शेडिंग की गयी. 17 फरवरी को 229 मेगावाट लोड शेडिंग हुई. बता दें कि एसएलडीसी की ओर से बिजली आपूर्ति के आंकड़े जारी किये जाते हैं.

adv

टीटीपीएस में बिजली उत्पादन बाधित

राज्य में टीटीपीएस की दो यूनिट है. एक यूनिट में बिजली उत्पादन क्षमता 210-210 मेगावाट है. लेकिन इससे उत्पादन 170 से 180 मेगावाट तक होनी चाहिये. 14 फरवरी से यूनिट दो में बिजली उत्पादन बाधित है. इस दिन दोनों यूनिट से उत्पादन शून्य रहा. सुबह में यूनिट एक से मात्र 153 मेगावाट बिजली उत्पादन किया गया.

15 फरवरी को यूनिट दो पूरी तरह बंद रहा. यूनिट एक से सुबह नौ बजे 153 मेगावाट बिजली उत्पादन किया गया. वहीं शाम पांच बजे यूनिट एक से 154 मेगावाट उत्पादन किया गया. 16 फरवरी को भी यूनिट दो बंद रहा. यूनिट एक से सुबह नौ बजे 149 और शाम पांच बजे 146 मेगावाट बिजली उत्पादन किया गया.

17 फरवरी को भी यूनिट दो से उत्पादन शून्य रहा. यूनिट एक से सुबह 154 और शाम में 152 मेगावाट बिजली उत्पादन किया गया.  जबकि सिकिदरी के दोनों यूनिट पानी की कमी के कारण महीनों से बंद है.

इसे भी पढ़ेंःमीडिया के सामने खुलकर बोले प्रशांत किशोर, हमें पिछलग्गू नहीं बल्कि एक सशक्त नेता चाहिए

ग्रीड सब स्टेशनों में शुरू हुआ अपग्रेडेशन

14 फरवरी से लगातार नामकुम ग्रीड सब स्टेशन में अपग्रेडेशन वर्क चल रहा है. ऐसे में लगातार तीन से चार घंटे तक नामकुम ग्रीड कनेक्टेड लोगों को परेशानी हो रही है. नामकुम ग्रीड में 14 फरवरी, 16 फरवरी और 18 फरवरी को अपग्रेडेशन किया जा रहा है.

नामकुम ग्रीड में अपग्रेडेशन से 33 केवी ट्रांसमिशन प्रभावित रहा. नामकुम में अपग्रेडेशन से बरियातु, टाटीसिलवे, कोकर आदि क्षेत्र प्रभावित हैं. आने वाले दिनों में कांके समेत अन्य सब स्टेशनों में भी अपग्रेडेशन काम किया जायेगा.

बता दें राज्य में प्रतिदिन लगभग एक हजार मेगावाट बिजली की जरूरत है. है. जिसमें से सात सौ मेगावाट के केंद्रीय पोल से ली जाती है. वहीं इनलैंड स्रोतों से भी 53 मेगावाट तक बिजली का उत्पादन होता है.
इसे भी पढ़ेंः#China में उइगर मुस्लिम उत्पीड़न के शिकारः नमाज पढ़ने-दाढ़ी रखने के कारण कैद

advt
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button
Close