न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

कई जगहों पर नक्सलियों की पोस्टरबाजी : लोकसभा चुनाव के बहिष्‍कार का किया आह्वान

120

Ranchi :  लोकसभा चुनाव  के ऐलान के बाद से ही झारखंड में नक्सलियों की सक्रियता बढ़ गयी है. मिली जानकारी के मुताबिक, नक्सलियों ने खलारी थाना क्षेत्र, पिपरवार थाना क्षेत्र और केरेडारी थाना क्षेत्र बुंडू गांव में भाकपा माओवादी ने पोस्टर चिपकाकर संसदीय चुनाव का बहिष्‍कार करने का आह्वान किया है.

नक्सलियों के पोस्टरबाजी से ग्रामीणों में दहशत का माहौल है. इस घटना की सूचना पुलिस को दी गई. मौके पर पहुंची पुलिस ने सभी पोस्‍टर को जब्‍त कर लिया है और इस संबंध में ग्रामीणों से पूछताछ भी कर रही है.

कम हुई हैं नक्सल गतिविधियां

hosp3

भाकपा माओवादी ने पोस्टर में लिखा है कि चुनाव के जरिए सरकार बदलकर जनता की एक भी बुनियादी समस्या का हल नहीं होता, इसलिए लोकसभा चुनाव का बहिष्कार कीजिए. इस मामले में  हजारीबाग पुलिस अधीक्षक मयुर पटेल ने कहा है कि केरेडारी के बुंडू के क्षेत्रों में लंबे समय से नक्सली गतिविधियां नजर नहीं आई हैं, क्योंकि नक्सली उस क्षेत्र में कमजोर पड़ गए हैं.

जबकि हजारीबाग और चतरा के साथ सीआरपीएफ के संयुक्त चले नक्सली अभियान में तीन नक्सलियों को सुरक्षाबलों ने मार गिराए थे. उनके साथ नक्सलियों के पास से भरी मात्रा में हथियार व कारतूस भी बरामद की गई थी. जिससे नक्सलियों में भय बना हुआ था और घटना के बाद से नक्सलियों के हौसले भी पस्त हुए थे.

इसे भी पढ़ें – कांग्रेस के करोड़पति उम्मीदवार कीर्ति आजाद की संपत्ति में हुआ तीन गुना इजाफा

लोकसभा चुनाव बहिष्कार करने का किया है ऐलान

नक्सली संगठनों ने आगामी लोकसभा चुनाव का बहिष्कार करने का ऐलान किया है. इसे लेकर नक्सली संगठनों के द्वारा जगह-जगह पोस्टरबाजी की जा रही है और दहशत फैलाने का काम किया जा रहा है. हालांकि नक्सलियों के खिलाफ सुरक्षा बल लगातार कार्रवाई कर रही है. नक्सलियों को पुलिस से मुकाबला करने में काफी नुकसान उठाना पड़ रहे हैं. जिससे नक्सलियों ने पोस्टरबाजी कर दहशत फैलाने का काम शुरू कर दिया है.

इसे भी पढ़ें – गिरिडीह भेजे जा रहे अवैध माइका लदे दो मालवाहक वाहन पचंबा पुलिस ने किये जब्त

रांची में भी नक्सलियों के नाम पर की गई थी पोस्टरबाजी

3 अप्रैल 2019 को रांची के बुंडू थाना क्षेत्र में बुंडू के ब्लॉक रोड, काली मंदिर चौक समेत कई जगहों पर नक्सलियों के नाम पर पोस्टरबाजी की गई थी. हालांकि पुलिस ने इस मामले में कार्रवाई करते हुए दो लोगों को गिरफ्तार भी किया था. पोस्टर में लोकसभा चुनाव का बहिष्कार का ऐलान किया गया था. साथ ही फर्जी मुठभेड़ में दोषी पुलिस अफसरों पर कड़ी से कड़ी सजा देने की बात कही गयी थी.

इसे भी पढ़ें – साध्वी प्रज्ञा का नया विवादित बयान – बाबरी मस्जिद का ढांचा गिराने पर उन्हें है गर्व

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

hosp22
You might also like
%d bloggers like this: