न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

राजधानी में मोआवोदियों की पोस्टरबाजी, बरियातू थाना क्षेत्र में कई जगहों पर लगाये पोस्टर

676

Ranchi: राजधानी रांची में माओवादियों के नाम से पोस्टरबाजी की गई है. बरियातू थाना क्षेत्र कई जगहों पर पोस्टरबाजी कर दहशत फैलाने की कोशिश की गई है. मिली जानकारी के अनुसार बरियातू थाना क्षेत्र के हिल व्यू रोड स्थित एक मैरिज हॉल और पोस्ट ऑफिस के आसपास माओवादियों के नाम से पोस्टरबाजी की गई है.

हालांकि, माओवादियों के नाम से चिपकाए गए पोस्टर के पीछे किसी असामाजिक तत्व का हाथ है या वाकई में माओवादियों ने इसे चिपकाया है, अभी तक इसकी सही जानकारी नहीं मिल पाई है.

इसे भी पढ़ेंः पहले चरण के लिए नामांकन का आज आखिरी दिन, कई दिग्गज करेंगे नोमिनेशन-11 अप्रैल को वोटिंग

शरारती तत्वों के द्वारा पोस्टरबाजी !

जिस तरह से शहर के बीचोबीच माओवादियों के नाम पर पोस्टर चिपकाया गया है. इससे आशंका जताई जा रही है कि किसी असामाजिक तत्वों के द्वारा दहशत फैलाने के लिए इस तरह की पोस्टरबाजी की गई है. मिली जानकारी के अनुसार, पुलिस आसपास के सीसीटीवी कैमरे को भी खंगाल रही है. पुलिस ने मौके से पोस्टर को हटा लिया है.

इसे भी पढ़ेंः वोटिंग के लिए पीएम मोदी की अपील: ट्विटर पर #VoteKar कैंपेन की शुरुआत 

Related Posts

#JharkhandCongress : एक परिवार से एक ही व्यक्ति लड़ेगा विधानसभा चुनाव! शीर्ष पदों पर बैठे नेताओं को टिकट नहीं  

रविवार को दिल्ली में स्क्रीनिंग कमिटी की बैठक हुई. बैठक में चेयरमेन टीएस सिंहदेव, प्रदेश प्रभारी आरपीएन सिंह, प्रदेश अध्यक्ष रामेश्वर उरांव, सदस्य सलीम अहमद उपस्थित थे.

ग्रामीण क्षेत्रों से हटाया जाए पुलिस कैंप

माओवादियों के नाम से चिपकाए गए पोस्टर में लिखा हुआ है कि ग्रामीण क्षेत्र में पुलिस कैंप को तत्काल हटाया जाए. स्वेच्छाचारी और फासीवादी राज से मुक्ति पाना है तो मौजूदा व्यवस्था को बदलना होगा.

माओवादियों के नाम पर चिपकाए गए पोस्टर के मिलने से आसपास के लोगों में दहशत का माहौल है. इस मामले में बरियातू थाना प्रभारी से बात की गई तो उन्होंने कहा कि वो फिलहाल बाहर हैं, इस तरह की सूचना मिली है, मामले का पता लगाया जा रहा है.

इसे भी पढ़ेंःराजद प्रदेश अध्यक्ष अन्नपूर्णा पहुंची सीएम आवास, बीजेपी में होंगी शामिल, राजद के सुभाष यादव भड़के

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
क्या आपको लगता है हम स्वतंत्र और निष्पक्ष पत्रकारिता कर रहे हैं. अगर हां, तो इसे बचाने के लिए हमें आर्थिक मदद करें.
आप अखबारों को हर दिन 5 रूपये देते हैं. टीवी न्यूज के पैसे देते हैं. हमें हर दिन 1 रूपये और महीने में 30 रूपये देकर हमारी मदद करें.
मदद करने के लिए यहां क्लिक करें.-

you're currently offline

%d bloggers like this: