JharkhandRanchi

पहल : साइकिल खरीदने के लिए 4079 रजिस्टर्ड श्रमिकों को मिली राशि, डेढ़ करोड़ रुपये हुए खर्च

विज्ञापन

Ranchi :  झारखंड भवन एवं अन्य संनिर्माण कर्मकार कल्याण बोर्ड में निबंधित कमगारों की संख्या झारखंड में 9.5 लाख के करीब है. बोर्ड के द्वारा निबंधित कामगारों को साइकिल खरीद के लिए सहायता मिलती है. साइकिल सहायता योजना के तहत वर्ष 2019-20 के वितीय वर्ष में 4079 कमगारों को बोर्ड की ओर से साइकिल खरीद के लिए सहायता दी गयी. जिसमें कुल 1 करोड़ 42 लाख 76 हजार 500 रुपये खर्च किये गये.

इसे भी पढ़ेंः RJD में सियासी भूकंप! 5 MLC के बाद रघुवंश प्रसाद सिंह ने दिया पद से इस्तीफा

विभिन्न योजनाओं का लाभ श्रमिकों तक पहुंचाने के लिए भवन एवं अन्य संनिर्माण कर्मकार कल्याण बोर्ड निबंधन करता है. लेकिन मैनपावर की कमी झेल रहे विभाग और श्रमिकों में जागरूकता के अभाव से योजना का लाभ लेने से श्रमिक चुक जा रहे हैं.

advt

क्या है योजना की पात्रता

साइकिल सहायता योजना के स्वीकृत पदाधिकारी उप श्रमायुक्त होते हैं. वैसे निबंधित श्रमिक जो 1 वर्ष से बोर्ड के सदस्य रहे हों एवं उन्होंने अगले 1 वर्ष का अपना अंशदान बोर्ड में जमा किया हो. साथ ही अन्य किसी योजना से साइकिल प्राप्त नहीं किया हो,  वैसे कामगार को योजना का लाभ मिलता है.

इसके तहत साइकिल खरीद के लिए 3500 तक की सहायता बोर्ड के द्वारा दी जाती है. यह राशि उनके बैंक खाते में सीधे ट्रांसफर होती है. इस व्यवस्था के तहत 3 माह के भीतर साइकिल खरीद कर रसीद संबंधित श्रम कार्यालय में जमा किया जाना अनिवार्य है.

इसे भी पढ़ेंः भारत-चीन तनाव के बीच अमेरिका ने कहा- चीन के साथ जारी रहेगा व्यापार

 

adv

किस जिले के कितने श्रमिक हुए लाभान्वित

जिला लाभान्वित श्रमिक कुल खर्च राशि
रांची 256 896000
खूंटी 031 290500
लोहरदगा 082 287000
सिमडेगा 000 000
पलामू 099 346500
गढ़वा 000 000
लातेहार 129 451500
पूर्वी सिंहभूम 316 1106000
प.सिंहभूम 000 000
सरायकेला 000 000
दुमका 476 1666000
देवघर 599 2096500
जामाताड़ा 000 000
गोडडा 328 1448000
साहेबंगज 019 66500
पाकुड़ 265 927500
हजारीबाग 409 1431500
गिरिडीह 000 000
कोडरमा 000 000
रामगढ़ 000 000
बोकारो 118 413000
धनबाद 844 2954000

इसे भी पढ़ेंः भाजपा व कांग्रेस दोनों चीन से लड़ना तो चाहते हैं, पर तब जब वो….

advt
Advertisement

3 Comments

  1. Very good article! We are linking to this particularly great content on our site. Keep up the great writing.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button