न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

गरीबों ने उठायी आवाज- जान दे देंगे, आशियाना नहीं उजड़ने देंगे, पहले व्यवस्थित करें, तब उजाड़ें झुग्गी-झोपड़ी

झुग्गी-झोपड़ी के गरीब वाशिंदों ने उपायुक्त कार्यालय में किया प्रदर्शन

80

Bokaro : सेक्टर 12 हवाई अड्डा चहारदीवारी से सटी दुकानों और झुग्गी-झोपड़ियों में रहनेवाले लोग अपना आशियाना बचाने के लिए गुरुवार को सडक पर उतरे. कांग्रेस ओबीसी प्रकोष्ठ व रिक्शा चालक संघ के बैनर तले सैकड़ों लोगों ने उपायुक्त कार्यालय में प्रदर्शन किया. प्रदर्शन में झुग्गी-झोपड़ी में रहनेवाली महिलाएं और बच्चे भी शामिल थे. हवाई अड्डे से जुलूस की शक्ल पर पैदल मार्च करते हुए लोग उपायुक्त कार्यालय पहुंचे, जहां जमकर प्रदर्शन किया. प्रदर्शन के माध्यम से मांग की गयी कि बिना वैकल्पिक व्यवस्था किये हम गरीबों के आशियानों को नहीं उजाड़ा जाये. जोर-जबर्दस्ती की गयी, तो हम जान दे देंगे, लेकिन अपनी झुग्गी-झोपड़ी उजाड़ने नहीं देंगे.

उजाड़ने के पीछे सांसद-विधायक का हाथ : उमेश प्रसाद गुप्ता

ओबीसी मोर्चा के जिलाध्यक्ष उमेश प्रसाद गुप्ता ने कहा कि हवाई अड्डा चहारदीवारी से सटी दुकानों और झुग्गी-झोपड़ियों को बिना नोटिस के हटाना तुगलकी फरमान जैसा है. उन्होंने कहा कि बोकारो हवाई अड्डा बनाने की राज्य और केंद्र सरकार की पहल का स्वागत है, लेकिन विभिन्न कानूनों के तहत विस्थापित होने या उजड़नेवाले सभी परिवारों को व्यवस्थित तरीके से बसाने का काम सेल प्रबंधन और झारखंड सरकार करे. गुप्ता ने कहा कि इस उजाड़ अभियान के पीछे बोकारो विधायक और धनबाद सांसद का हाथ है. प्रदर्शन में विष्णु प्रसाद, लालू महतो, रवि कुमार, छोटू कुमार, नीरज वर्णवाल, परमेश्वर गोयल, अवधेश पासवान, बसंत कुमार, मिंटू, विकास, विजय यादव, रामअवतार यादव सहित सैकड़ों महिला-पुरुषों ने हिस्सा लिया.

इसे भी पढ़ें- उधार में चल रहा बिजली वितरण निगम, 6627.80 करोड़ का कर्ज- बिजली खरीद में 40 से 45 करोड़ की वृद्धि

इसे भी पढ़ें- धनबाद नगर निगम: 50-60 लाख रुपये खर्च पर उठ रहे सवाल

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

%d bloggers like this: