न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

छत्तीसगढ़ में पहले चरण का मतदान खत्म, 70 फीसदी हुई वोटिंग

34

Raipur : छ्त्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव के पहले चरण में नक्सलियों के गढ़ में जमकर वोटिंग हुई. सुबह से ही पोलिंग बूथों पर पहुंच रहे मतदाताओं ने साबित कर दिया है कि बंदूकों के डर पर लोकतंत्र की ताकत भारी है. शाम 5  बजे तक 18 सीटों के लिए हो रहे मतदान में 70 प्रतिशत वोटर्स अपने मताधिकार का प्रयोग किया. 18 विधानसभा सीटों में से आठ नक्सल प्रभावित जिले हैं. मतदान के लिए इन इलाकों में 4,336 पोलिंग स्टेशन बनाए गए थे. कई जगह चुनाव का बहिष्कार करने से जुड़ी नक्सलियों की चेतावनी और बैनर-पोस्टर्स के बावजूद बड़ी संख्या में वोटर्स मतदान के लिए निकले.

इसे भी पढ़ें –आस्था के महापर्व में दिखा सांप्रदायिक सौहार्द्रः मुस्लिम समुदाय के लोग बेच रहें सूप-दउरा

नक्‍सली हारे वोटर जीते

hosp1

दंतेवाड़ा जिले के केतकल्याण ब्लॉक में तुमाकपाल कैंप के पास नक्सलियों ने 1-2 किलोग्राम इम्प्रोविज्ड एक्सप्लोजिव डिवाइस (आईईडी) से विस्फोट किया. एआईडी (ऐंटी नक्सल ऑपरेशंस) देवनाथ ने बताया, ‘सुरक्षा बलों को निशाना बनाने के लिए लगभग 5:30 बजे तुमाकपाल-नयनार रोड पर नक्सलियों ने आईईडी को ट्रिगर किया था. सुरक्षा बलों और चुनावकर्मी दल को कोई नुकसान नहीं हुआ है और पार्टी सुरक्षित रूप से नयनार मतदान बूथ संख्या 183 तक पहुंच गई.’
सुकमा जिले के कोंटा स्थित बांदा में एक मतदान केंद्र के पास आईईडी विस्फोटक का पता चला.
बीजापुर के पामेड़ में सुरक्षा बलों और नक्सलियों के बीच 12 बजकर 20 मिनट से शुरू हुई मुठभेड़ में दोनों ओर से रुक-रुककर फायरिंग होती रही. एनकाउंटर में कोबरा बटालियन के 5 जवान घायल हो गए, जबकि 5 नक्सली भी ढेर हो गए. शांतिपूर्ण और निष्पक्ष चुनाव करवाने के लिए 1 लाख जवानों को तैनात किया गया था.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

You might also like
%d bloggers like this: