GoddaJharkhandRanchi

गोड्डा रेल परियोजना फुरकान अंसारी की देन, निशिकांत ले रहे झूठा श्रेय : इरफान

Ranchi: गोड्डा से गुरुवार को हमसफर एक्सप्रेस सेवा शुरू हो गयी. इससे लंबे अरसे से रेलवे नेटवर्क से जुड़ने की बाट जोह रहे गोड्डा के स्थानीय लोगों को बड़ी राहत मिलेगी.

विधायक इरफान अंसारी ने गोड्डा रेलवे स्टेशन से हमसफर ट्रेन शुरू होने पर खुशी जतायी है. साथ ही कहा कि इस प्रोजेक्ट की नींव पूर्व सांसद फुरकान अंसारी ने रखी थी. सांसद निशिकांत दुबे इसका झूठा श्रेय ले रहे हैं. जनता सब समझ रही है.

जब फुरकान गोड्डा के सांसद थे तब उन्होंने तत्कालीन रेल मंत्री लालू यादव से आग्रह कर मंदार हिल से दुमका रेल परियोजना में मिसिंग लिंक के माध्यम से गोड्डा को जुड़वाने का काम किया.

तब जाकर गोड्डा रेल परियोजना स्वीकृत हुआ. अब इस रेलवे ट्रैक पर हमसफर ट्रेन चले या बुलेट ट्रेन यह सभी फुरकान अंसारी की पहल का नतीजा है.

वहीं, प्रदेश कांग्रेस ने इस सेवा के लिये 2012 की केंद्र की मनमोहन सिंह सरकार को धन्यवाद दिया है. पार्टी प्रवक्ता आलोक कुमार दुबे ने कहा कि मनमोहन सिंह के कार्यकाल में राज्य सरकार औऱ रेलवे के बीच एमओयू हुआ था. राज्य सरकार ने इसमें आधी राशि देने पर सहमति दी थी. अब परियोजना पूरी होने पर सांसद निशिकांत दुबे जबरन श्रेय ले रहे हैं.

इसे भी पढ़ें :Big Breaking: 5 दिन बाद नक्सलियों ने जवान राकेश्वर सिंह को छोड़ा, बीजापुर मुठभेड़ में किया गया था अगवा

विस्तारीकरण के लिये सीएम हेमंत सोरेन हीरो

प्रदेश कांग्रेस के अनुसार झारखंड में रेल परियोजनाओं के विस्तारीकरण के लिए मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन की सराहना की जानी चाहिये. साथ ही प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सह वित्तमंत्री डॉ0 रामेश्वर उरांव प्रति भी पार्टी आभार व्यक्त करती है. उरांव ने रेलवे परियोजनाओं की झारखंड में विस्तारीकरण के लिए लगभग 3500 करोड़ से अधिक की राशि आवंटित करने का फैसला किया है.

आलोक दुबे के मुताबिक निशिकांत दुबे आरंभ से ही सस्ती लोकप्रियता हासिल करने का प्रयास करते रहे हैं. अखबारों तथा मीडिया में बने रहने की उनकी आदत रही है. इससे पहले भी कई कार्यक्रमों में वे विवाद और झंझट उत्पन्न करते रहे हैं.

गुरुवार को भी ऐसा ही प्रयास किया गया. निशिकांत की वजह से ही गोड्डा-पीरपैंती रेल परियोजनाएं अब तक पूरी नहीं हुईं. गोड्डा-रांची रेल परियोजना को लेकर भी उनकी ओर से कोई प्रयास नहीं किया गया.

लेकिन पिछले चार-पांच दिनों से हमसफर एक्सप्रेस को लेकर इस तरह का माहौल बनाने की कोशिश में थे कि क्षेत्र में आपसी वैमनस्यता उत्पन्न हो.

सांसद ने रेलवे विस्तारीकरण के लिए आज तक कोई प्रयास नहीं किया. बल्कि विकास के सबसे बड़े बाधक बनते रहे और गरीबों के जमीन की लूट करते रहे.

गोड्डा में हंगामा

गौरतलब है कि गोड्डा में गुरुवार को हमसफर एक्सप्रेस को हरी झंडी दिखायी गयी. मौके पर विधायक प्रदीप यादव औऱ सांसद निशिकांत दुबे भी उपस्थित थे. कार्यक्रम का श्रेय लेने के विवाद पर दोनों में कार्यक्रम स्थल पर ही विवाद उत्पन्न हो गया था.

इसे भी पढ़ें :दुबई में फंसे झारखंड के 17 मजदूर, वतन वापसी की लगायी गुहार

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: