lok sabha election 2019

स्टार प्रचारकों का खर्च राजनीतिक पार्टियों को करना होगा वहन : विनय चौबे

  • भाजपा, कांग्रेस और अन्य मान्यता प्राप्त पार्टियों में होंगे 40 स्टार प्रचारक, अन्य में 20
  • सात दिनों में निर्वाचन आयोग और राज्य निर्वाचन पदाधिकारियों को भेजनी होगी सूची

Ranchi: राज्य के अपर मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी विनय कुमार चौबे ने कहा है कि राष्ट्रीय और क्षेत्रीय दलों को स्टार प्रचारकों का खर्च वहन करना होगा. उन्होंने कहा है कि निर्वाचन आयोग के निर्देश के आलोक में भाजपा, कांग्रेस और अन्य मान्यता प्राप्त पार्टियों के लिए 40 स्टार प्रचारक होंगे, जबकि अन्य दलों में स्टार प्रचारकों की संख्या 20 से अधिक नहीं होगी. प्रचारकों के नाम चुनाव की अधिसूचना जारी करने की तारीख से सात दिनों के अंदर निर्वाचन आयोग और मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी के कार्यालय को भेजा जाना जरूरी है. उन्होंने कहा है कि चुनाव अवधि के दौरान मान्यता प्राप्त राजनीतिक दलों व अन्य दलों से प्राप्त स्टार प्रचारकों से संबंधित सूची सभी रिटर्निंग अफसर, जिला निर्वाचन पदाधिकारी, व्यय प्रेक्षकों को उपलब्ध कराया जा रहा है और जिसे वे वेबसाइट पर अपलोड करेंगे.

इसे भी पढ़ें – हाल पीएचइडी काः मंत्रीजी गिरिडीह सीट से चुनाव लड़ने में व्यस्त, नहीं हो रहा कोई काम

मंच साझा करेंगे, तो उसका खर्च उम्मीदवार के कोटे में जायेगा 

श्री चौबे ने कहा कि रैलियों के लिए स्टार प्रचारकों द्वारा इस्तेमाल किए जानेवाले हवाई जहाज या परिवहन के अन्य साधनों पर किया गया व्यय राजनीतिक दल के व्यय के रूप में लिया जायेगा. लेकिन, यदि कोई अभ्यर्थी अथवा उनके निर्वाचन एजेंट सार्वजनिक रैली, जनसभा या बैठक में स्टार प्रचारक के साथ मंच साझा करते हैं तो स्टार प्रचारक के यात्रा व्यय से अलग उस रैली का सभी व्यय अभ्यर्थी के खाते में डाला जाएगा. यदि उम्मीदवार मंच पर नहीं रहेंगे, तब भी यह खर्च उनके कोटे में जायेगा. उम्मीदवार के नाम का बैनर, पोस्टर या फोटो सार्वजनिक रैली के स्थान पर प्रदर्शित किया गया अथवा रैली या बैठक के दौरान स्टार प्रचारक द्वारा प्रत्याशी का नाम लिया गया, तो स्टार प्रचारक के यात्रा खर्च को छोड़ सभी व्यय प्रत्याशी के खाते में डाला जायेगा. यदि रैली, बैठक में स्टार प्रचारक के साथ मंच एक से ज्यादा उम्मीदवार साझा करते हैं तो उसपर होने वाले खर्चे को अभ्यर्थियों के बीच समान रूप से विभाजित किया जाएगा और उनके संबंधित लेखे में जोड़ा जाएगा.

advt

इसे भी पढ़ें – झारखंड के पहले चरण के चुनाव को लेकर एक प्रत्याशी ने भरा नामांकन, 18 नामांकन पत्र बिके

स्टार प्रचारकों के साथ प्रतिनिधि हुए तो दल के व्यय खाते में जुड़ेगा

स्टार प्रचारक के साथ यदि कोई प्रतिनिधि, सुरक्षा गार्ड, मेडिकल एटेंडेंट, पार्टी का कोई सदस्य, व्यक्ति जो संबंधित निर्वाचन क्षेत्र में अभ्यर्थी नहीं है और उनके साथ यात्रा कर रहा है, तो वह दल के खाते में खर्च जोड़ा जायेगा. स्टार प्रचार के साथ प्रिंट तथा इलेक्ट्रॉनिक मीडिया का कोई प्रतिनिधि उनके हवाई जहाज, हेलीकॉप्टर या परिवहन के अन्य साधनों में यात्रा करता है तो उसका खर्च राजनीतिक दल के खाते में जोड़ा जायेगा. यदि स्टार प्रचारक के साथ परिवहन साझा करने वाला व्यक्ति अभ्यर्थी के लिए निर्वाचन अभियान में कोई भूमिका अदा करता हो या अभ्यर्थी एसे नेता के साथ उनके हवाई जहाज में यात्रा करता है तो संबंधित नेता के यात्रा व्यय का 50 फीसदी अभ्यर्थी के व्यय खाते में जोड़ा जाएगा.

इसे भी पढ़ें – राशन कार्ड में नाम जुड़वाने में पेंच, गरीबों को दो जून की रोटी नहीं दे पा रही सरकार

निवास/ भोजन का खर्च अभ्यर्थी के व्यय खाते में

श्री चौबे ने बताया कि किसी भी अभ्यर्थी के लिए जिस निर्वाचन क्षेत्र में स्टार प्रचारक प्रचार करते हैं तो वहां ठहरने, भोजन व्यवस्था सहित अन्य व्यय अभ्यर्थी के लेखा में जोड़ा जाएगा. इसका कैलकुलेशन बाजार मूल्य की गणना के आधार पर होगा. स्टार प्रचारक एक निर्वाचन क्षेत्र में भोजन तथा निवास की सुविधाओं का लाभ उठाते हुए किसी अन्य अभ्यर्थी के प्रचार के लिए दूसरे निर्वाचन क्षेत्र का दौरा करता है तो भोजन तथा निवास का खर्च उन अभ्यर्थियों के व्यय में बांट दिया जायेगा.

adv

इसे भी पढ़ें – राजस्थान के राज्यपाल कल्याण सिंह पीएम मोदी का प्रचार कर फंसे, राष्ट्रपति बोले- एक्शन ले सरकार

advt
Advertisement

Related Articles

Back to top button