DumkaJharkhand

दुमका उपचुनाव में राजनीतिक पार्टियों से पूछा जायेगा- विश्व आदिवासी दिवस पर राजकीय अवकाश क्यों नहीं?

विज्ञापन
  • विश्व आदिवासी दिवस सरकार से राज्य में राजकीय अवकाश की मांग

Dumka: झारखंड में विश्व आदिवासी दिवस पर सरकारी अवकाश की मांग झारखंड बनने के बाद से ही होती रही है. अब यह मांग गांव के स्तर पर भी पहुंच गयी है.

दुमका जिले के चांद-भैरो मुर्मू जुवन आखड़ा ने विश्व आदिवासी दिवस 9 अगस्त को झारखण्ड राज्य में राजकीय अवकाश की मांग को लेकर दुमका प्रखंड के सरवा पंचायत के करमडीह में बैठक की.

advt

आखड़ा और ग्रामीणों का कहना है कि झारखण्ड राज्य आदिवासियों के “अबुवा दिवस अबुवा राज” के नाम पर बिहार से अलग हुआ लेकिन अफसोस है कि इतने वर्ष होने के बाद भी अबुवा दिवस अबुवा राज का सपना अब तक साकार नहीं हुआ.

झारखण्ड राज्य आदिवासी बहुल राज्य होने के बाद भी यहां अब तक 9 अगस्त को विश्व आदिवासी दिवस पर राजकीय अवकाश नही है. जबकि राजस्थान के साथ अन्य कई राज्यों में 9 अगस्त को विश्व आदिवासी दिवस पर राजकीय अवकाश की घोषणा की गयी है.

इसे भी पढ़ें – Breaking : सीएम ऑफिस के 17 और लोग हुए कोरोना पॉजिटिव

adv

राज्यपाल और मुख्यमंत्री आदिवासी, फिर भी नहीं हुई आदिवासी दिवस पर अवकाश की घोषणा

आखड़ा ने कहा कि वर्तमान समय में झारखण्ड के मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन स्वयं आदिवासी हैं और यहां की राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू भी आदिवासी हैं, उसके बाद भी झारखण्ड राज्य में 9 अगस्त को विश्व आदिवासी दिवस पर राजकीय अवकाश नहीं मिलना दुःखद है.

आखड़ा पिछली सरकार से ही 9 अगस्त को राजकीय अवकाश की मांग करती आयी है लेकिन अब तक 9 अगस्त को विश्व आदिवासी दिवस पर राजकीय अवकाश की घोषणा नहीं की गयी है.

इसे भी पढ़ें –RIMS में प्लाज्मा डोनेशन की शुरुआत तो हुई पर मात्र 3 यूनिट ही प्लाज्मा हो सका है डोनेट, मशीन की कमी भी बन रही वजह

दुमका उपचुनाव में राजनीतिक पार्टियों से पूछा जायेगा राजकीय अवकाश क्यों नहीं

आखड़ा और ग्रामीणों ने सर्वसम्मति से यह निर्णय लिया है कि दुमका विधानसभा के उपचुनाव पर सभी राजनितिक पार्टियों से यह पूछा जायेगा कि आखिर 9 अगस्त को विश्व आदिवासी दिवस पर राजकीय अवकाश क्यों नहीं है.

इस मौके पर गुलशन मुर्मू, संतोष हेम्ब्रोम, मिसिल मुर्मू, प्रदीप मुर्मू, बिमल मुर्मू, बुधनी मुर्मू, प्रिया मुर्मू, सिल्वान्ति मुर्मू, पन्सुरी मरांडी, मंजुलता सोरेन, सावित्री हांसदा, रकक्षित मुर्मू, बबलू मुर्मू, मलोती मरांडी, रवि मुर्मू, जोबाफूल मुर्मू, हिना सोरेन, होलिका सोरेन, मुखी मरांडी, रामलाल मुर्मू, रोबिन मुर्मू, बहामुनी हेम्ब्रोम, राहुल हेम्ब्रोम, जदू मुर्मू, रजद मुर्मू आदि उपस्थित थे.

इसे भी पढ़ें –पूर्व मंत्री ने शेयर की फोटो, पीएम मोदी पर साधा निशाना, पीआईबी इंडिया ने ट्वीट कर कहा ये फर्जी तस्वीर है

advt
Advertisement

5 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button
Close