HazaribaghJharkhandLead News

नगवां टोल प्लाजा को लेकर फिर आंदोलन की राह पर राजनीतिक दल व सामाजिक संगठन

8 मार्च को चक्का जाम व 10 को राजभवन के समक्ष प्रदर्शन का एलान

Hazaribagh : नगवां टोल प्लाजा का विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है. जिलेवासियों को टोल प्लाजा से छूट देने को लेकर विभिन्न राजनीतिक दलों के नेताओं के साथ विभिन्न सामाजिक संगठनों ने आंदोलन किया था. हालांकि, एक संगठन अभी भी आंदोलनरत है. अब एनएचएआइ की ओर से टोल प्लाजा से गुजरने वाले वाहनों के लिए नई दर जारी की है. इसमें स्थानीय लोगों के लिये छूट की बात नहीं है. जिससे स्थानीय लोग फिर भड़क रहे हैं और आंदोलन की तैयारी कर रहे हैं.

इसे भी पढ़ेःतीन दिन से लापता युवती का शव कुएं से बरामद

आदर्श युवा संगटन टोल टैक्स विरोध समिति ने एलान किया है कि कोर्ट का जब तक कोई फैसला नहीं आता है तब तक टोल प्लाजा को चालू नहीं होने देंगे. अगर एनएचएआइ ने जबरन चालू करने की कोशिश की तो आठ मार्च को हजारीबाग में चक्का जाम और 10 मार्च को रांची राजभवन के समक्ष धरना प्रदर्शन किया जायेगा.

ram janam hospital
Catalyst IAS

इसे भी पढ़ेःमानव तस्करी की शिकार हुई बेटी की जिंदगी हुई बोझ,चलने में असमर्थ, भाई ने भी छोड़ा साथ

The Royal’s
Sanjeevani

विभिन्न राजनीतिक दल व सामाजिक संगठनों के लोग कहने लगे हैं कि एनएचएआइ अपने वादे से मुकर रहा है. बताते चलें कि नगवां टोला प्लाजा में जिले वासियों को छूट दिलाने को लेकर पूरे तीन महीने तक आंदोलन चला और अभी भी एक संघठन के द्वारा आंदोलन चलाया जा रहा है. वही इससे पूर्व चले आंदोलन में जनप्रतिनिधियों के साथ सरकार में शामिल मंत्रियों ने भी आंदोलन को अपना समर्थन दिया था.

इसे भी पढ़ेः‘हूं दृष्टिहीन ,पर दिशाहीन नहीं’

इस बीच सामाजिक संगठनों के लोगों के साथ 27 फरवरी को श्रम नियोजन मंत्री सत्यानन्द भोक्ता के नेतृत्व में रांची के नेपाल हाउस में एक बैठक हुई थी, जिसमे कई मांगों पर सहमति बनी थी. मुख्य मांगों में जिलेवासियों को आधार कार्ड दिखाकर मुफ्त टोल क्रास करने की अनुमति भी शामिल थी.

Related Articles

Back to top button