न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

पश्चिम बंगाल में राजनीतिक हत्याएं, गृहमंत्री अमित शाह ने पश्चिम बंगाल के अधिकारियों से ग्राउंड रिपोर्ट मांगी

भाजपा बंगाल के जनरल सेक्रटरी सत्यानन बसु ने तीन भाजपा  कार्यकर्ताओं की पहचान की है, जिनकी कथित तौर पर टीएमसी वर्कर्स द्वारा हत्या की गयी है.  

36

NewDelhi : पश्चिम बंगाल में भाजपा और  तृणमूल कांग्रेस  वर्कर्स  के बीच लगातार हिंसा की खबरें सामने आ रही हैं.  केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने पश्चिम बंगाल के अधिकारियों से उत्तरी 24 परगना में हिंसा के दौरान शनिवार को चार लोगों की मौत के मामले में ग्राउंड रिपोर्ट मांगी है. रिपोर्ट्स के अनुसार झड़प में भारतीय जनता पार्टी के तीन कार्यकर्ताओं और एक तृणमूल कांग्रेस  कार्यकर्ता की मौत हो गयी थी.

इस संबंध में पश्चिम बंगाल भाजपा प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय ने बताया कि केंद्रीय गृहमंत्री ने राज्य सरकार से मामले की एक रिपोर्ट मांगी है और मुझे पूरा भरोसा है कि केंद्र इस घटना को गंभीरता से लेगा. घटना के बाद लोगों में आक्रोश व्याप्त है.  बता दें कि पार्टी के झंडे निकालकर फेंकने को लेकर दोनों पार्टियों के कार्यकर्ताओं के बीच विवाद हो गया था. हालांकि, टीएमसी का आरोप है कि फायरिंग के पीछे भाजपा  का हाथ है.  उधर, भाजपा कह रही है कि टीएमसी उसके कार्यकर्ताओं को सुनियोजित तरीके से निशाना बना रही है.

इसे भी पढ़ें- मालदीव के बाद श्रीलंका पहुंचे पीएम मोदी,  ईस्टर धमाकों में मारे गये लोगों को श्रद्धांजलि दी

टीएमसी और भाजपा कार्यकर्ताओं के बीच लगातार झड़पें हो रही है

Related Posts

पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह  राजस्थान से  निर्विरोध राज्यसभा  सदस्य चुने गये  

भाजपा ने मनमोहन के खिलाफ कोई उम्मीदवार नहीं उतारने का फैसला किया था

SMILE

अखबार टाइम्स ऑफ इंडिया  के अनुसार टीएमसी नेता और स्टेट फूड मिनिस्टर ज्योतिप्रियो मुलिक ने बताया कि पार्टी कार्यकर्ता कय्यूम मुल्ला पर तब हमला किया गया , जब वह हाटगाछी में आयोजित एक जनसभा में शामिल होने जा रहे थे और उन्हें बेहद करीब से गोली मारी गयी.  दूसरी ओर भाजपा बंगाल के जनरल सेक्रटरी सत्यानन बसु ने तीन भाजपा  कार्यकर्ताओं की पहचान की है, जिनकी कथित तौर पर टीएमसी वर्कर्स द्वारा हत्या की गयी है.

सत्यानन बसु ने कहा, हमारे समर्थक प्रदीप मंडल, स्वपन मंडल और सुकांता मंडल टीएमसी कार्यकर्ताओं द्वारा की गयी फायरिंग में मारे गये बता दें कि लोकसभा चुनाव के पहले से पश्चिम बंगाल में टीएमसी और भाजपा  कार्यकर्ताओं के बीच लगातार हमलों की खबरें सामने आ रही हैं.  भाजपा  जहां टीएमसी पर निशाना साध रही है, वहीं टीएमसी लगातार भाजपा पर आरोप लगा रही है.

इसे भी पढ़ें-  200 नये सांसदों को पॉश लुटियन इलाके में अत्याधुनिक सुविधाओं से लैस नये डुप्लेक्स मिलेंगे

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
%d bloggers like this: