Lead NewsNationalNEWSTOP SLIDER

महाराष्ट्र में सियासी संकट: गुवाहाटी में होटल की बुकिंग 12 जुलाई तक बढ़ाई, बागी विधायकों के इस तिथि तक वहीं रहने की संभावना

Mumbai: महाराष्ट्र में मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे की अगुवाई वाली सरकार से बगावत करने वाले एकनाथ शिंदे को एक दिन पूर्व के सुप्रीम कोर्ट के आदेश से नई ऊर्जा मिली है. सोमवार को सुप्रीम कोर्ट ने एकनाथ शिंदे की याचिका पर सुनवाई करते हुए बागी विधायकों को अयोग्य ठहराए जाने और डिप्टी स्पीकर नरहरि जरवाल की भूमिका पर सवाल उठाया है. इतना ही नहीं सुप्रीम कोर्ट ने महाराष्ट्र के डिप्टी स्पीकर, महाराष्ट्र पुलिस, शिवसेना विधायक दल के नेता और केंद्र को भी नोटिस भेजा है. सभी विधायकों को सुरक्षा मुहैया कराने और यथा स्थिति बरकरार रखने का आदेश दिया है. अब मामले की अगली सुनवाई 11 जुलाई को होगी.

 

इधर, गुवाहाटी में जिस होटल में शिंदे के साथ बागी विधायक ठहरे हुए हैं, उसकी बुकिंग 12 जुलाई तक बढ़ा दी गई. जाहिर है 12 जुलाई तक इस होटल में आमलोगों की इंट्री नहीं होगी. होटल की बढ़ाने को सुप्रीम कोर्ट की अगली सुनवाई की तारीख से जोड़कर देखा जा रहा है. माना जा रहा है कि सुप्रीम कोर्ट के फैसले तक अगला कदम उठाने से बचने चर्चा चल रही है. इस बीच शिंदे गुट के मनसे के साथ जाने की भी खूब चर्चा है. मगर, राजनीतिक विश्लेषकों का मानना है कि इसकी संभावना कम है.

 

इधर महाराष्ट्र भाजपा ने भी अपनी गतिविधियां बढ़ा दी है. पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस के आवास पर लगातार बैठकों का दौर जारी है. सोमवार भाजपा कोर ग्रुप की बैठक के बाद पार्टी ने अपने सभी विधायकों को 29 जून तक मुंबई पहुंचने को कहा है. हालांकि, सूत्र बताते हैं कि महाराष्ट्र भाजपा ने अपनी रणनीति करीबन तैयार कर ली है. उन्हें केंद्र से हरी झंडी का इंतजार है.

 

Catalyst IAS
ram janam hospital

इधर, उद्धव ठाकरे के पुत्र आदित्य ठाकरे ने दावा किया है कि 15 से 20 बागी विधायक हमारे संपर्क में हैं. आदित्य ने यहां तक कहा है कि ऐसे विधायकों ने मुझे और शिव सैनिकों को फोन करके गुवाहाटी से वापस लाने की अपील की है. पहले सूरत और फिर गुवाहाटी में उनकी हालत कैदियों जैसी है. इस बीच मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने एकनाथ शिंदे समते सभी बागी नौ मंत्रियों के विभाग छीन लिए हैं. इन विभागों का काम दूसरे विभागों के मंत्रियों को छीन लिया है.

The Royal’s
Pushpanjali
Pitambara
Sanjeevani

Related Articles

Back to top button