न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

नीति आयोग की बैठकः 2024 तक भारत को 5 ट्रिलियन डॉलर इकोनॉमीवाला देश बनाना है- मोदी

1,025

बैठक में महात्मा गांधी की 150वीं जयंती और देश के 75 वर्ष की आजादी पर सभी राज्यों को दिया गया टास्क

mi banner add

जिला स्तर पर कार्यक्रम बना कर सकल घरेलू उत्पाद और आमदनी बढ़ाने की हुई बात

आयोग की पांचवीं शासी निकाय की बैठक की अध्यक्षता प्रधानमंत्री ने की

New Delhi: नयी दिल्ली के राष्ट्रपति भवन में शनिवार को नीति आयोग की पांचवीं शासी निकाय की बैठक हुई. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में शुरू हुई बैठक में महात्मा गांधी की 150वीं जयंती के मौके पर देश को खुले में शौच से मुक्त कराने का निर्णय लिया गया.

साथ ही तय किया गया कि स्वतंत्रता दिवस की वर्षगांठ धूम-धाम से मनायी जायेगी. प्रधानमंत्री ने कहा कि देश को 2024 तक 5 ट्रिलियन डॉलर इकोनॉमीवाला देश बनाना है.

इसके लिए सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास जरूरी है. उन्होंने कहा कि मिशन 2024 के लिए जिला स्तर पर योजनाओं को बनाया जायेगा. केंद्र में पेयजल विभाग के लिए जल शक्ति मंत्रालय की स्थापना की गयी है.

इसे भी पढ़ेंःदर्द-ए-पारा शिक्षक : जिस कमरे में रहते हैं उसी में बकरी पालते हैं, उधार इतना है कि घर बनाना तो सपने जैसा

Related Posts

कर्नाटक : सियासी ड्रामे पर से उठेगा पर्दा,  कुमारस्वामी सरकार के भविष्य पर सोमवार को फैसला संभव

 कर्नाटक में कांग्रेस-जद(एस) सरकार रहेगी या जायेगी, इस पर सोमवार को विधानसभा में फैसला होने की संभावना है.  

पीएम ने अपने संबोधन में कहा कि जिला स्तर पर सभी राज्यों के विकास की योजनाएं बनायी जाये. उग्रवाद प्रभावित जिलों में विशेष ध्यान देने की बातें कहीं. उग्रवाद प्रभावित जिलों में रेल और सड़क नेटवर्क स्थापित करने की आवश्यकता है.

राज्य के मुख्यमंत्रियों से सामूहिक भागीदारी निभाने की बातें कहीं गयी

बैठक में राज्यों के मुख्यमंत्रियों से विकास के लिए सामूहिक भागीदारी निभाने को कहा गया. मुख्यमंत्रियों से कहा गया कि भारत को 2025 तक टीबी से मुक्त बनाना है.

साथ ही साथ शिक्षा और कौशल विकास कार्यक्रमों में नयी संभावनाएं तलाशने की बातें कही गयीं. यह कहा गया कि प्रदर्शन के आधार पर पारदर्शी शासन दिया जायेगा.

पूर्वोत्तर राज्यों से निर्यात की संभावनाओं को देखते हुए उसे और समृद्ध किया जायेगा. नये भारत के निर्माण में सबकी भागीदारी सुनिश्चित करने की बातें भी दुहरायी गयी. बैठक में झारखंड के मुख्यमंत्री रघुवर दास समेत अन्य राज्यों के सीएम और राज्यपाल शामिल हुए.

इसे भी पढ़ेंःकमीशन लेने वाले डॉक्टरों का केवाईसी भरवाता है मेदांता अस्पताल

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
%d bloggers like this: