Lead NewsNational

मर्डर केस में आरोपी पहलवान सुशील कुमार के साथ पुलिसकर्मियों ने ली सेल्फी, फोटो वायरल

New Delhi : दिल्ली की एक अदालत ने यहां छत्रसाल स्टेडियम में युवा पहलवान की कथित हत्या के संबंध में ओलंपिक पदक विजेता पहलवान सुशील कुमार की न्यायिक हिरासत नौ जुलाई तक बढ़ा दी है. इस बीच, पहलवान सागर धनखड़ की हत्या के मामले में मंडोली जेल में बंद पहलवान सुशील कुमार को तिहाड़ जेल में शिफ्ट किया गया. सुशील कुमार को जेल नंबर 2 में रखा गया है. मंडोली जेल से छूटने के बाद कुछ पुलिसकर्मियों ने अपराधी सुशील कुमार के साथ सेल्फी ली, जो अब सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है.

हंसते हुए दिखा सुशील

पुलिसकर्मियों ने सुशील कुमार के साथ सेल्फी ली. संगीन आरोपों में घिरे सुशील कुमार फोटो सेशन के दौरान हंसते हुए दिख रहा है. सोशल मीडिया पर कई सवाल उठने लगे हैं. पहलवान सुशील कुमार ने 2008 में ओलंपिक पदक जीता और फिर उनकी जिंदगी बदल गई. वहीं सागर धनखड़ हत्याकांड ने सुशील को विजेता से हत्यारा बना दिया है.

इसे भी पढ़ें :पीएम हाउस में बैठक के बाद कितनी बदलेगी कश्मीर की तस्वीर !

Sanjeevani

सागर धनखड़ की हुई थी पिटाई

पुलिस अब तक इस संबंध में सुशील कुमार समेत कई लोगों को हिरासत में ले चुकी है. पुलिस के मुताबिक सुशील कुमार ने अपने दोस्तों के साथ 4 और 5 मई 2021 की आधी रात को पहलवान सागर धनखड़ की पिटाई की थी. कुमार को 14 दिन की न्यायिक हिरासत की अवधि समाप्त होने पर शुक्रवार को मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट मयंक अग्रवाल के समक्ष पेश किया गया.

वह हत्या, गैर-इरादतन हत्या और अपहरण के आरोपों का सामना कर रहे हैं. आरोपी के वकील के अनुसार उन्हें मंडोली जेल से तिहाड़ की जेल संख्या दो में भेजा गया है. कुमार ने कथित संपत्ति विवाद को लेकर अपने साथियों के साथ मिलकर चार मई और पांच मई की मध्यरात्रि को स्टेडियम में सागर धनखड़ और उसके दो दोस्तों की पिटायी की थी.

इसे भी पढ़ें :मनरेगा: खराब प्रदर्शन करनेवाले जिलों के साथ हर सप्ताह होगी वर्चुअल बैठक

पुलिस का दावा ”मुख्य आरोपी और मास्टरमाइंड”

बाद में धनखड़ (23) की चोटों के कारण मौत हो गयी थी. पुलिस ने दावा किया कि सुशील कुमार हत्या का ”मुख्य आरोपी और मास्टरमाइंड” है और इलेक्ट्रॉनिक साक्ष्य भी उपलब्ध हैं जिसमें कुमार और उसके साथियों को धनखड़ की पिटायी करते हुए देखा जा सकता है.

सुशील कुमार को 23 मई को उनके साथी अजय कुमार सहरावत के साथ पकड़ा गया. अभी तक वह 10 और 23 दिनों की क्रमश: पुलिस और न्यायिक हिरासत में रह चुके हैं. घटना के संबंध में सुशील कुमार समेत कुल 10 लोगों को अभी तक गिरफ्तार किया गया है.

इसे भी पढ़ें :प्रियंका गांधी के पति हैं तो क्या हुआ, जानिए क्यों रॉबर्ट वाड्रा के नाम जारी हुआ चालान

Related Articles

Back to top button