न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

विधायक आवास पर धरना दे रहे पारा शिक्षकों को हटाने आयी पुलिस बैरंग लौटी

24 घंटे से भूख हड़ताल पर बैठे हैं पारा शिक्षक

71

Dhanbad : छतीसगढ़ की तर्ज पर झारखंड में भी  पारा शिक्षकों को समान काम के बदले समान वेतन की मांग को लेकर पिछले 25 पिछले नवंबर से राज्य के सभी विधायकों के आवास पर धरना-प्रदर्शन जारी है. मंगलवार को सिंदरी विधायक फूलचंद मंडल के आवास पर धरना दे रहे पारा शिक्षकों का गुस्सा उस वक्त भड़क उठा जिस समय बरवाअड्डा थाने की पुलिस पहुंची और धरना दे रहे शिक्षकों को वहां से उठकर थाने में चलने को कहा. इतने में पारा शिक्षकों का सब्र का बांध टूटा और पुलिस के सामने ही सीएम रघुवर दास, भाजपा सरकार, शिक्षा मंत्री और स्थानीय सांसद विधायकों के खिलाफ नारेबाजी करने लगे.

पारा शिक्षकों का आंदोलन 1 माह से जारी

लगभग 1 घंटे की जद्दोजहद के बाद विधायक प्रतिनिधि के हस्तक्षेप के बाद पुलिस को बैरंग लौटना पड़ा. सुप्रीम कोर्ट के आदेश समान काम के लिए समान वेतन के आदेश का पालन करवाने के लिए और स्थायीकरण की मांग को लेकर 15 साल से अधिक समय से प्राथमिक विद्यालयों में शिक्षण कार्य कर रहे पारा शिक्षकों का आंदोलन लगभग 1 माह से अधिक समय से जारी है. इसी क्रम में आंदोलनकारियों ने झारखंड स्थापना दिवस के मौके पर सीएम को काला झंडा दिखाया था. इस दौरान पत्थरबाजी भी हुई थी. इसके बाद लाठीचार्ज हुआ. सीएम ने पारा शिक्षकों को गुंडा तक कह दिया. पारा शिक्षकों ने आरोप लगाया कि उनकी घोषित भूख हड़ताल को सफल नहीं होने देने के लिए पुलिस प्रशासन इस तरह का कुचक्र रच रहा है.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: