न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

भाजपा कार्यकर्ताओं की तरह बयान दे रहे पुलिस अधिकारी, पूरी तरह से सफल होगा झारखंड बंद : कांग्रेस

328

Ranchi : भूमि अधिग्रहण संशोधित बिल को लेकर पांच जुलाई को बुलाये झारखंड बंद पर पुलिस के आला अधिकारी जिस तरह से मॉक ड्रिल कर रहे हैं, उसकी कांग्रेस पार्टी ने निंदा की है. पार्टी के मुताबिक ऐसा कर पुलिस अधिकारी लोगों में दहशत फैलाने का काम कर रहे हैं. विपक्ष द्वारा बुलाया गया बंद पूरी तरह से शांतिपूर्ण तरीके किया जाना है. लेकिन, लगातार मॉक ड्रिल करने के साथ पुलिस अधिकारी ऐसा बयान दे रहे हैं, जैसे वे भाजपा कार्यकर्ता हों.

इसे भी पढ़ें- विपक्ष की बंदी को देखते हुए पांच जुलाई को बंद रहेंगे रांची के निजी स्कूल

बयानबजी से स्पष्ट है बंद को मिल रहा आम लोगों का जबरदस्त समर्थन : राजेश ठाकुर

झारखंड प्रदेश कांग्रेस कमिटी के मीडिया प्रभारी राजेश ठाकुर ने बंद को लेकर अधिकारियों के बयान और मॉक ड्रिल की निंदा करते हुए कहा कि ऐसा लगता है कि पुलिस अधिकारी भाजपा कार्यकर्ताओं की तरह बयान दे रहे हैं. उनके इस बयान से ऐसा लगता है कि मानो पहली बार इस तरह के बंद का आह्वान किया गया है. सरकार के अधिकारियों की बयानबाजी से यह स्पष्ट हो गया है कि बंद को आम लोगों का जबरदस्त समर्थन मिल रहा है. यही कारण है कि सरकार से जुड़े अधिकारी आंदोलनकारियों को धमकी दिलाने का काम कर रहे हैं. जबरदस्ती वारंट निकालकर कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार करने की कोशिश की जा रही है.

इसे भी पढ़ें- बंद के दौरान 170 जगहों पर सीसीटीवी कैमरे एवं 6 ड्रोन कैमरों से स्थिति पर रखी जाएगी नजर

अधिकारियों ने किये थे प्रेस वार्ता और मॉक ड्रिल

मालूम हो कि बुधवार को सूचना भवन में आयोजित प्रेस वार्ता में गृह, कारा और आपदा प्रबंधन विभाग के प्रधान सचिव एसकेजी रहाटे ने कहा था कि पुलिस ने उपद्रवियों से निपटने के लिए व्यापक तैयारी की है. करीब पांच हजार से ज्यादा जवानों को ड्यूटी पर लगाया गया है. बंद के दौरान हिंसा फैलानेवालों की सीसीटीवी से निगरानी करने और वीडियोग्राफी करने की बात भी उन्होंने कही थी. इसी तरह उपद्रवियों से निपटने के लिए मंगलवार को पुलिस लाइन में पुलिस ने मॉक ड्रिल किया था. इस दौरान खुद रांची एसएसपी अनीश कुमार गुप्ता ने खुद भीड़ पर नियंत्रण के लिए जवानों को टियर गैस का गोला फेंकने की तकनीक की जानकारी दी थी.

कांग्रेस सहित विपक्ष नहीं हो रहा भयभीत

कांग्रेस प्रवक्ता के मुताबिक, कांग्रेस कार्यकर्ता अधिकारियों की इस धमकी से डरनेवाले नहीं हैं. अगर सरकार किसी तरह से जनहित के विरोध में कोई कदम उठाती है, तो कार्यकर्ता जेल क्या, लाठी और गोली भी खाने को तैयार हैं.

प्रदेश अध्यक्ष ने जिला अध्यक्षों को दिये हैं निर्देश

पार्टी प्रवक्ता राजेश ठाकुर ने बताया कि कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष डॉ अजय कुमार ने सभी जिला अध्यक्षों को बंद को पूरी तरह से सफल बनाने का निर्देश दिया है. साथ ही, सभी जिला अध्यक्षों को वरिष्ठ नेताओं से संपर्क कर बंद को सफल बनाने के लिए सड़क पर उतरने की बात कही है. कांग्रेस कार्यकर्ताओं द्वारा अलग-अलग समय पर अलग-अलग जगहों से निकलकर बंद को सफल बनाने के लिए रणनीति बनायी गयी है, ताकि 24 घंटे की बंदी सफल हो सके. इस दौरान स्वयं प्रदेश अध्यक्ष डॉ अजय कुमार, विधायक दल के नेता आलमगीर आलम, पूर्व केंद्रीय मंत्री सुबोध कांत सहाय, प्रदेश कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष सुखदेव भगत, झारखंड प्रदेश महिला कांग्रेस की अध्यक्ष आभा सिन्हा, महानगर कांग्रेस अध्यक्ष संजय पांडे, राजीव रंजन प्रसाद, आलोक दुबे, राजेश गुप्ता, विनय सिन्हा दीपू, सुरेंद्र सिंह हजारों कार्यकर्ता सड़क पर उतरेंगे.

इसे भी पढ़ें- साहब आरयू के वीसी हैं या सरकार के सिपाही! कैंपस में सरकार विरोध कोई प्रदर्शन न हो इसलिए मांगी…

स्कूल बंद होने पर दिया धन्यवाद

उन्होंने कहा कि बंद के दौरान शहर के कई स्कूल प्रबंधकों ने स्कूल को बंद करने का निर्णय लिया है. इसके लिए कांग्रेस पार्टी स्कूल प्रबंधकों को धन्यवाद देती है.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर 

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed.

%d bloggers like this: