Crime News

अपराधी संदीप थापा और बिट्टू मिश्रा की दोस्ती करायी एक पुलिस अफसर ने, खुद भी जुटे जमीन के कारोबार में

Ranchi: राजधानी रांची में पोस्टेड एक पुलिस अफसर की इन दिनों काफी चर्चा है. चर्चा इस बात की है कि उन्होंने शहर के दो अपराधियों की फिर से दोस्ती करायी है. दोस्ती कराने के पीछे का मकसद उनका जमीन कारोबार से जुड़ना बताया जा रहा है. अपराधी बिट्टू मिश्रा अफसर के चेंबर में बैठता है और पुलिस अफसर की गाड़ी में भी घूमता है. पुलिस सूत्रों से पता चला है कि बिट्टू मिश्रा के जाननेवाले संदीप थापा के साथ मिल कर ये पुलिस अफसर जमीन का कारोबार कर रहे हैं.

इसे भी पढ़ें – रांची में इन 16 जगहों पर चल रहा है मटका का खेल, हर दिन हो रहा 50 लाख का जुआ

सीसीए की अवधि खत्म होने के बाद जेल से बाहर आये हैं दोनों अपराधी

हत्या, रंगदारी और मारपीट जैसी कई घटनाओं में जेल जा चुके रांची के कुख्यात अपराधी बिट्टू मिश्रा और संदीप थापा जहां संदीप थापा के ऊपर 25 अपराधिक मामले दर्ज हैं वही बिट्टू मिश्रा के ऊपर 15 अपराधिक मामले दर्ज हैं सीसीए खत्म होने के बाद दोनों हाल में ही जेल से बाहर आए हुए हैं.

advt

बताया जा रहा है कि कुख्यात अपराधी बिट्टू मिश्रा और संदीप थापा पुलिस अफसर के साथ मिल कर राजधानी रांची के रातू, धुर्वा, कांके और रिंग रोड इलाके सहित कई अन्य इलाकों में जमीन खरीद-बिक्री का कारोबार कर रहे हैं.

जमीन का कारोबार कर रहे हैं बिट्टू मिश्रा और संदीप थापा

सीसीए की अवधि खत्म होने के बाद जेल से निकलने के बाद बिट्टू मिश्रा और संदीप थापा जमीन की खरीद-बिक्री का कारोबार कर रहे हैं. और तो औऱ जमीन पर कब्जा दिलाने का भी काम कर रहे हैं. हाल के कुछ वर्षों में राजधानी में जमीन माफियाओं का जबरदस्त आतंक फैला है. शहर में हुए हत्याकांडों में 80 प्रतिशत से ज्यादा मर्डर जमीन के कारण किये गये हैं. पूर्व में नामकुम, ओरमांझी, टाटीसिल्वे, पश्चिम रातू, नगड़ी, उत्तर में कांके, पिठोरिया और दक्षिण में हटिया, जगन्नाथपुर, तुपुदाना का इलाका जमीन कारोबारियों की गिरफ्त में है. इन इलाकों में कई कुख्यात अपराधियों के लैंड प्रोजेक्ट चल रहे हैं.

इसे भी पढ़ें- लातेहार : गर्भवती महिला को नहीं मिला एंबुलेंस, बेहोशी की हालत में बाइक से लाया गया अस्पताल

सीसीए की अवधि खत्म होने पर कई अपराधी आ चुके हैं जेल से बाहर

रंगदारी, दुष्कर्म जैसे दर्जन भर से अधिक वारदातों के आधा दर्जन कुख्यात अपराधी जेल से जमानत पर बाहर आ चुके हैं. सीसीए अवधि समाप्त होते ही इन अपराधियों को जमानत मिल गयी है. इनमें संदीप थापा, बिट्टू मिश्रा, प्रकाश यादव, रणधीर वर्मा, सोनू पंडा, विकास सिंह, सन्नी मल्लिक, मोनू सिंह शामिल हैं.

adv

इसे भी पढ़ें – अनंतनाग पहुंचे अमित शाह, आतंकी हमले में शहीद इंस्पेक्टर के परिवार से की मुलाकात

अपराधी जमीन कारोबार के साथ-साथ शहर के व्यवसायियों से रंगदारी भी वसूल रहे हैं

कुख्यात अपराधी बिट्टू मिश्रा और संदीप थापा जमीन के कारोबार से जुड़े हुए हैं. जमीन पर अवैध कब्जा करना, कम दाम में जमीन लेकर खरीद-बिक्री करना इनका मुख्य पेशा बन गया है. ये अपराधी रातू रोड, नगड़ी और रातू इलाके में सक्रिय हैं. ये अपराधी जमीन कारोबार के साथ-साथ शहर के व्यवसायियों से रंगदारी भी वसूलते हैं.

इसे भी पढ़ें – पलामू : हथियार के साथ तीन अपराधी गिरफ्तार, जांच में जुटी पुलिस

पुलिस अफसरों के बीच करायी फिर से दोस्ती

रातू रोड के रहनेवाले बिट्टू मिश्रा और संदीप थापा पहले एक दूसरे के साथ मिल कर काम करते थे. बिट्टू मिश्रा  संदीप थापा गुट के साथ ही काम करता था. बाद में दोनों के बीच मनमुटाव होने के चलते बिट्टू ने अलग गैंग बना लिया और रंगदारी वसूलने व जमीन का कारोबार करने लगा. इन दोनों अपराधियों ने जमीन कारोबार और रंगदारी के माध्यम से करोड़ों रुपये की संपत्ति भी अर्जित की है. रांची में अपना दबदबा कायम करने के लिए संदीप थापा और बिट्टू मिश्रा कभी भी एक दूसरे की हत्या करने के फिराक में लगे हुए थे, लेकिन पुलिस अफसर ने इन दोनों के बीच फिर से दोस्ती करायी है और खुद भी जमीन के कारोबार में शामिल हो गये हैं. दोनों अपराधियों को जमीन के कारोबार में पुलिस अफसर का भरपूर सहयोग भी मिल रहा है.

इसे भी पढ़ें – सीएम रघुवर दास के निर्देश पर डीजीपी केएन चौबे पहुंचे रिम्स, सुरक्षा-व्यवस्था का लिया जायजा

advt
Advertisement

Related Articles

Back to top button