न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

‘बैंक अधिकारी लगातार तीन मिस कॉल करें, तो थाना प्रभारी समझें डकैत ने बंधक बना रखा है’

पुलिस अधिकारियों ने वित्तीय संस्थानों के प्रतिनिधियों संग की बैठक, सुरक्षा सुनिश्चित करने पर हुई चर्चा

1,014

Asansol : आसनसोल दुर्गापुर पुलिस कमिश्नरेट इलाके के वित्तीय संस्थानों में सुरक्षा सुनिश्चित करने और आपराधिक वारदातों को विफल करने के उद्देश्य से नगर निगम मुख्यालय के एक्सक्यूटिव हॉल में पुलिस एवं बैंकिंग पदाधिकारियों की बैठक हुई.

बैठक में बैंक अधिकारियों को सुरक्षा संबंधी विशेष दिशा निर्देश जारी कर ऐहतियात बरतने के आदेश दिये गये और सुरक्षा संबंधी सुझाव लिये गये. लूट व डकैती की वारदातों को विफल करने के लिए बैंक व पुलिस के बीच परस्पर सहयोग और नियमित संपर्क बनाये रखने का निर्णय लिया गया.

Mayfair 2-1-2020

बैंकों में आपराधिक घुसपैठ की सूचना थाने तक तुरंत पहुंचाने के लिए प्रत्येक थाने में एक अलग हॉट लाइन नंबर खोले जाने पर सहमति बनी. बैंक अधिकारियों को बैंकों में आने वाले संदिग्ध लोगों के बारे में पुलिस को तुरंत सूचित करने का निर्देश दिया गया. बैंक अधिकारियों को बंधक बनाये जाने की स्थिति में बैंक अधिकारी के मोबाइल नंबर से थाना प्रभारी के नंबर पर तीन बार मिस कॉल किये जाने पर इसे बैंक में अपराधिक हमला का संकेत समझते हुए तुरंत आपात सहायता भेजे जाने का निर्णय लिया गया.

इसे भी पढ़ें : गिरिडीह : डीजे के साउंड बॉक्स में भरकर शराब तस्करी, वाहन पलटा तो निकली ब्रांडेड बोतलें

बिना रेकी के वारदात को अंजाम देना संभव नहीं

एसीपी (सेंट्रल) स्वप्न दत्ता ने कहा कि बैंक या वित्तीय संस्थानों में बिना रेकी के आपराधिक वारदातों को अंजाम देना संभव नहीं है. कोर्ट मोड स्थित मुथूट फाइनेंस में भीषण डकैती हो या सेनरेले रोड स्थित इंडियन बैंक में लूट की वारदात, सभी घटनाओं में अपराधियों ने लंबे समय तक बैंक में रेकी की और लूट की योजना बनायी.

Vision House 17/01/2020

उन्होंने कहा कि अपराधी रेकी कर बैंक में प्रवेश करने, निकलने के रास्ते, सुरक्षा व्यवस्थाओं आादि की जानकारी जुटाते हैं. फिर वारदात को अंजाम देते हैं. अगर कोई व्यक्ति अकारण बैंक में रोजाना आता हो, घंटो बैठता हो या फिर मोबाइल फोन से फोटो ले रहा हो तो संभवत वह बैंक की सुरक्षा व्यवस्था की रेकी कर रहा है. ऐसे में बैंक अधिकारी इन संदिग्ध लोगों की तुरंत सूचना दें.

सीसीटीवी की भूमिका महत्वपूर्ण

बैंक वारदातों को सुलझाने में सीसीटीवी की महत्वपूर्ण भूमिका को देखते हुए बैंक अधिकारियों को बैंक के अलार्म और सीसीटीवी कैमरों की नियमित जांच के निर्देश दिये गये.

पंचगछिया में इसीएल के भवन में संचालित हो रहे सार्वजनिक बैंक के जर्जर भवन का हवाला देते हुए उन्होंने कहा कि लंबे समय तक बंद रहने की स्थिति में अपराधी ऐसे जर्जर भवन की दीवारों में आसानी से सेंध लगाकर अपराध को अंजाम दे सकते हैं.

कल्याणपुर हाउसिंग एवं लालगंज के एटीएम तोड़ कर चोरी की घटना को सुलझाने में सीसीटीवी की भूमिका को महत्वपूर्ण बताते हुए एटीएम मशीन के भीतर सीसीटीवी कैमरे लगाने का निर्देश दिया गया.

बैंक ग्राहकों के साथ साइबर अपराध होने की स्थिति में सहयोग के लिए कमिश्नरेट के साइबर सेल से सहयोग लेने की अपील की गयी.

इसे भी पढ़ें : साध्वी प्रज्ञा ने कहा,  हमें  नालियां और शौचालय साफ करने के लिए सांसद नहीं बनाया गया है

साइबर ठगी के मामलों के लिए अलग सेल

एसीपी दत्ता ने कहा कि साइबर ठगी के मामले में साइबर सेल में अलग से शिकायत दर्ज करें. बैंकों को अपने ग्राहकों से एटीएम कार्ड के पिन, कार्ड नंबर आदि अनजान व्यक्तियों से साझा न करने को लेकर जागरुकता चलाया जायेगा. साइबर वारदात की स्थिति में बैंक प्रबंधकों को पीड़ित ग्राहक के बैंक खाते को तुरंत सीज करने का निर्देश दिया गया.

बैंक अधिकारियों द्वारा आसनसोल को हाई रिस्क जोन बताते हुए पुलिस अधिकारियों से बैंक में प्रतिदिन नियमित गश्त लगाने और बैंक के अंदर भी मुआयना करने का आग्रह किया गया.

मुआयना न हो तो सूचित करें

आसनसोल नॉर्थ थाना प्रभारी शांतनु अधिकारी ने कहा कि बैंकों की सुरक्षा के मद्देनजर उन्होंने विशेष मुआयना टीम गठित की है. अगर नॉर्थ थाना इलाके में लगातार तीन दिनों तक पुलिस मुआयना को नहीं पहुंचती हो तो अधिकारी उन्हें सूचित करें.

आसनसोल साउथ थाना प्रभारी सुदिप्त प्रमाणिक, कन्यापुर आइसी प्रभारी दिव्येंदू बनर्जी, एसबीआई, यूबीआई, इलाहाबाद बैंक, यूको बैंक, पंजाब एवं सिंध बैंक, बंधन बैंक, एक्सिस बैंक, आइसीआइसीआई बैंक, एचडीएफसी बैंक, इंडियन ओवरसिज बैंक आदि के शाखा प्रबंधक व अधिकारी उपस्थित थे.

इसे भी पढ़ें : JJMP के शशिकांत का आरोप, ‘पुलिस के नोट पढ़ बयान जारी करते हैं सबजोनल कमांडर’

Ranchi Police 11/1/2020

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like