ChaibasaJharkhand

पुलिस बलों ने दिनेश गोप को घेरा, गोइलकेरा के लेपा पहाड़ पर दूसरे दिन भी हुई मुठभेड़ पर बच निकला पीएलएफआई सुप्रीमो

Chaibasa : पुलिस और सुरक्षा बलों ने पीएलएफआई सुप्रीमो दिनेश गोप को घेर लिया है. पुलिस और सुरक्षा बलों के जवान पश्चिम सिंहभूम के जंगलों में पिछले दो दिन से उसकी तलाश कर रहे हैं. दोनों ही दिन पुलिस बलों के साथ दिनेश गोप के दस्ते की मुठभेड़ हुई, लेकिन वह बच निकलने में कामयाब रहा. शुक्रवार को गुदड़ी में चाईबासा पुलिस एवं सीआरपीएफ की 60 बटालियन के साथ हुई मुठभेड़ में दिनेश गोप और उसका दस्ता बच निकले थे. दोनों ओर से फायरिंग के बाद पीएलएफआई उग्रवादी पिट्ठू, बैग एवं अन्य दैनिक उपयोग के सामान छोड़ कर भाग निकले थे.

advt

शनिवार को दूसरे दिन भी दिनेश गोप व उसके दस्ता के सदस्यों की टोह में पुलिस द्वारा सर्च अभियान चलाया जा रहा था. इसी क्रम में दिन के करीब 11.30 बजे गोइलकेरा थाना अंतर्गत लेपा पहाड़ पर पीएलएफआई के उग्रवादियों एवं सीआरपीएफ 60 बटालियन, थाना प्रभारी गोइलकेरा एवं जिला बल के बीच फिर से मुठभेड़ हुई. इस बार भी पुलिस को भारी पड़ता देख उग्रवादी जंगल और पहाड़ का फायदा उठाकर भागने में सफल रहे. सर्च अभियान के दौरान सुरक्षाबलों को पिट्ठू एवं दैनिक उपयोग का सामान बरामद हुआ है.  चाईबासा के पुलिस अधीक्षक अजय लिंडा ने शनिवार को मुठभेड़ स्थल का मुआयना किया. उनके साथ अपर पुलिस अधीक्षक अभियान, सोनुआ थाना प्रभारी और सेट बल के जवान भी थे. एसपी ने पीएलएफआई उग्रवादियों को घेरकर उनके विरुद्ध कार्रवाई करने का निर्देश दिया है. सर्च अभियान अभियान जारी है. पुलिस सूत्रों ने बताया कि पुलिस और सुरक्षा बलों ने दिनेश गोप और उसके दस्ते को चारो ओर से घेर लिया है. यही कारण है कि लगातार दो दिन पुलिस के साथ उनकी मुठभेड़ हुई और नक्सलियों को अपना सामान छोड़ कर भागना पड़ा.

इसे भी पढ़ें – अरगोड़ा : बाइक चला रहे युवक ने महिला को मारा धक्का, दोनों गंभीर रूप से घायल

advt

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: