JharkhandRanchi

राजधानी में हुए कई डकैती कांड को सुलझाने में नाकाम रही पुलिस

Ranchi : राजधानी रांची में अपराधियों का मनोबल इस कदर बढ़ा हुआ है कि वह जब चाहे किसी भी घटना का अंजाम देकर फरार हो जाते हैं. पिछले 5 महीनों में राजधानी रांची में कुछ ऐसे डकैती की घटना हुई जिसका खुलासा करने में रांची पुलिस अब तक सफल नहीं हुई है. पिछले 5 महीनों में रांची के पिठोरिया, नामकुम और चुटिया में एक के बाद एक डकैती की बड़ी घटना घटित हुई, जिसमें अपराधियों ने लाखों रुपए की डकैती कर फरार हो गए. लेकिन अभी तक इन मामलों में पुलिस को कोई सफलता नहीं मिली.

 तीन बड़ी डकैती नहीं हुआ किसी का खुलासा

नामकुम, पिठोरिया और चुटिया में तीन बड़ी डकैती की घटना हुई. इन तीनों घटना में शामिल अपराधियों ने परिवार वालों को हथियार के बल पर बंधक बनाकर डकैती की. अपराधियों ने जिस तरह से इन सभी घटना का अंजाम दिया था इससे यह प्रतित होता है कि अपराधियों ने घटना का अंजाम देने से पहले रेकी की होगी. जिसके बाद उन्होंने इस तरह की घटना का अंजाम दिया.

इन डकैती की घटना का अब तक नहीं हो पाया है खुलासा

1 – 16 सितंबर 2018 पिठोरिया थाना के छोटकी कुम्हरिया में एक घर से सात लाख की डकैती की गयी थी. नौ की संख्या में आये अपराधियों ने घटना को अंजाम दिया. अपराधियों ने परिवार के सभी सदस्यों को हथियार के बल पर एक कमरे में बंद कर दिया. उसके बाद डकैती कर फरार हो गये. घटना देर रात 2:30 बजे की थी. घटना के बाद पिठोरिया थाना को सूचना दी गयी. जिसके बाद मौके पर पुलिस पहुंच कर मामले की जांच पड़ताल में जुट गई थी, लेकिन अभी तक इस मामले में किसी भी अपराधी की गिरफ्तारी नहीं हुई है. इस घटना में चड्डी बनियान गिरोह का नाम सामने आया था.

2 – 11 नवंबर 2018 नामकुम थाना क्षेत्र सिदरौल बाजारटांड स्थित गौरी शंकर शाह के घर में डकैतों घटना को अंजाम दिया था. नगद समेत लगभग 10 लाख रुपये का सामान ले गये थे. विरोध करने पर परिवार के मुखिया सहित चार सदस्यों को पीट-पीटकर घायल कर दिया था. इस मामले में भी अभी तक किसी भी अपराधी की गिरफ्तारी नहीं हुई है. घटना में चड्डी बनियान गिरोह का नाम सामने आया था.

3 –  9 फरवरी 2019 चुटिया थाना क्षेत्र के अनंतपुर में दीपक घोष के घर रात करीब 3 बजे हथियारबंद डकैतों ने 7 लाख की डकैती की थी. पिस्टल,चाकू से लैस होकर चार की संख्या में आए डकैत ग्रिल तोड़कर घर में दाखिल हुए और घर के लोगों को बंधक बनाकर घटना को अंजाम दिया था. इस घटना में भी अभी तक किसी अपराधियों को गिरफ्तार करने में पुलिस को सफलता हाथ नहीं लगी है.

advt
Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: