न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

पुलिस-अपराधी मुठभेड़, पिस्टल जाम हो गयी तो पुलिस मुंह से ठांय-ठांय करते हुए आगे बढ़ी, उड़ा मजाक

पुलिस मुठभेड़ का जो वीडियो सोशल मीडिया में वायरल हो रहा है,  उसमें एक पुलिसवाला जोर-जोर से चिल्ला रहा है, घेरो.. घेरो… ठांय-ठांय.

163

 Lucknow : यूपी के संभल में पुलिस और अपराधियों की मुठभेड़ के क्रम में पिस्टल जाम होने पर पुलिस मुंह से ठांय-ठांय की आवाज निकालते हुए आगे बढ़ी. यह वीडियो वायरल होने पर सोशल मीडिया यूजर्स पुलिस का  मजाक उड़ा रहे हैं. खबरों के अनुसार यहां खेत में छिपे अपराधियों के साथ पुलिस की मुठभेड़ चल रही थी, तो  दारोगा की पिस्टल ने अचानक धोखा दे दिया. एएनआई के अनुसार मुठभेड़ के समय बंदूक में तकनीकी खराबी आ गयी, जिससे पिस्टल जाम हो गयी. लेकिन पुलिस ने जाम पिस्टल के साथ ठांय-ठांय की आवाज करते हुए अपराधियों  को पकड़ने के लिए खेत में घुसी. दारोगा खुशकिस्मत रहे कि  पुलिस की दूसरी टीम ने एक अपराधी के पैर में गोली मारकर उसे दबोच लिया.

पुलिस मुठभेड़ का जो वीडियो सोशल मीडिया में वायरल हो रहा है,  उसमें एक पुलिसवाला जोर-जोर से चिल्ला रहा है, घेरो.. घेरो… ठांय-ठांय. इस संबंध में संभल के एसपी जमुना प्रसाद ने कहा कि पिस्टल जाम हो गयी थी .  हथियार कभी-कभी फायर करने समय जाम हो जाते हैं.  कहा कि इससे सबक लेते हुए पुलिस के मौजूद सभी हथियार चलाकर चेक किये जायेंगे.

इसे भी पढ़ेंः मी टू…अभियान :  एमजे अकबर पर लगे आरोपों की सत्यता की जांच होगी :  अमित शाह

खेत में एक तरफ से दरोगा मनोज कुमार और सिपाही बलराम ने मोर्चा संभाला

जानकारी के अनुसार शुक्रवार 12 अक्टूबर को लगभग साढ़े ग्यारह बजे संभल के असमौली में पुलिस द्वारा वाहनों की चेकिंग की जा रही थी.  पुलिस के अनुसार इसी दौरान एक बाइक पर सवार दो लोग बैरियर तोड़कर भागने लगे.  पुलिस ने दोनों का पीछा किया तो दोनों गन्ने के खेत में छिप गये. इसके बाद पुलिस ने घेराबंदी शुरू की.  बताया कि खेत में एक तरफ से दरोगा मनोज कुमार और सिपाही बलराम ने मोर्चा संभाला.  अपराधियों ने   फायरिंग शुरू कर दी. इसके बाद दरोगा मनोज कुमार ने पिस्टल निकाली तो वह चली ही नहीं.  इसके बाद  दरोगा और सिपाही ने मुंह से ठांय-ठांय की आवाज लगाते हुए आगे बढ़ना शुरू कर दिया.  उधर पुलिस की दूसरी टीम ने एक अपराधी के पैर में गोली मारकर उसे धर दबोचा. दूसरा फरार हो गया. बता दें कि जो अपराधी पकड़ाया है वह पच्चीस हजार का इनाम है.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: