Crime NewsJharkhandRanchi

लूटपाट और छिनतई के आरोपी भोलू को पुलिस ने किया गिरफ्तार, देसी रिवॉल्वर बरामद

Ranchi : लालपुर थाना की पुलिस ने लूट, छिनतई की घटना को अंजाम देने के आरोपी मोहम्मद इरशाद उर्फ भोलू को गिरफ्तार किया है. पुलिस ने उसके पास से एक देसी रिवॉल्वर भी बरामद किया है. बता दें कि गिरफ्तार मोहम्मद इरशाद पर लूट की कई घटनाओं को अंजाम देने का आरोप है. इससे पहले भी वह दो बार लोअर बाजार थाना से जेल जा चुका है.

इसे भी पढ़ें- गिरिडीह : अफीम सप्लाई करने वाले गिरोह का भांडाफोड़, 3 महिला समेत 6 गिरफ्तार

कैसे हुआ गिरफ्तार

Catalyst IAS
ram janam hospital

30 अक्टूबर को बलिया पुलिस अधीक्षक के आदेशानुसार लालपुर थाना की पुलिस पीसीआर-7 के साथ मिलकर वाहन चेकिंग कर रही थी. इसी क्रम में मंगलवार की रात 9.10 बजे में डंगरा टोली की तरफ से एक स्कूटी पर सवार होकर दो लड़के आ रहे थे. पुलिस ने उन्हें रुकने का इशारा किया. इतने में दोनों लड़के कूदकर भागने लगे. उसके बाद वहां उपस्थित पुलिसकर्मियों द्वारा एक लड़के को खदेड़कर पकड़ लिया गया. पुलिस ने जब उसकी तलाशी ली, तो उसके पास से एक छह चक्रीय देसी रिवॉल्वर और दो जिंदा गोली बरामद हुए. पुलिस की पूछताछ के क्रम में उसने अपना नाम मोहम्मद इरशाद उर्फ भोलू बताया. हालांकि उसके साथ मौजूद सलमान नाम का लड़का अंधेरे का फायदा उठाकर भागने में सफल रहा. पुलिस उसकी गिरफ्तारी के लिए छापामारी कर रही है.

The Royal’s
Sanjeevani
लूटपाट और छिनतई के आरोपी भोलू को पुलिस ने किया गिरफ्तार, देसी रिवॉल्वर बरामद
बरामद देसी रिवॉल्वर.

इसे भी पढ़ें- ‘लाल’ होती झारखंड की सड़कें: रोड एक्सीडेंट में बढ़ोतरी, पिछले एक साल में 3256 लोगों की गई जान

इससे पहले भी जेल जा चुका है भोलू

गिरफ्तार कर्बला चौक निवासी मोहम्मद इरशाद उर्फ भोलू लूट और छिनतई के मामले में पहले भी लोअर बाजार थाना से दो बार जेल जा चुका है. पुलिस ने बताया कि वीमेंस कॉलेज के पास एक छात्र से चाकू मारकर मोबाइल और पैसे लूटने के में भी इरशाद शामिल था. भोलू ने कांड संख्या 402/18, कांड संख्या 409/18 और कांड संख्या 412/18 में अपनी संलिप्तता स्वीकार की है.

इसे भी पढ़ें- स्कूल जा रही दो बच्चियों को ट्रक ने रौंदा, मौके पर ही मौत 

छापामारी दल में शामिल पुलिसकर्मी

इंद्रदेव रजक, उज्जवल कुमार सिंह, विनय कुमार पासवान, हिन्दू गोप, शैलेश सहदेव सहित पीसीआर-7 के पुलिस अधिकारी और पुलिसकर्मी शामिल थे.

Related Articles

Back to top button